कोरोना वायर (coronavirus)

न्यूज़
coronavirus symptoms in china
कोरोना वायरस

कोरोना वायरस चीन (वुहान शहर) में पिछले महीने (दिसंबर 2019) से फैला हुआ है और अब यह भारत में भी दस्तक दे चूका है भारत में इसका एक मरीज़ केरल में मिला है जिसमे कोरोना वायरस के लक्षण मौदूज है यह मरीज़ (studant) चीन के वुहान विश्वविद्यालय से आया है भारत आने पर जब पुष्टि की गयी तो इसमें (studant) में कोरोना वायरस के लक्षण पाए गए हैं।

Advertisement

चीन में इस बीमारी का पता तब चला जब अचानक बहुत से लोगों को बिना किसी कारण के निमोनिया की शिकायत होने लगी. और ये सभी लोग हुआँन सीफ़ूड मार्केट से थे जो की में मछलियो का व्यापर करते थे ये लोग जीवित पशुओं का भी व्यापर करते थे अचानक सबका बीमार होना चीन के लिए चिंता का विषय बन गया परन्तु चीन इसका इलाज ढूढ रहा है और इस समय चीन में बहुत से स्कूल कॉलेज बंद है और लोग भी अपने घरो से बाहर नहीं निकल रहे है ऐसी आशंका जताई जा रही है की यह वायरस हवा के सक्रमण से भी फैलता है। 

अब तक चीन में कोरोना वायरस का दुष्परिणाम। 

चीन में कोरोना वायरस का कहर बढ़ता ही जा रहा है कोरोना वायरस ने (चीन) में अब तक 259 लोगों को मौत हो चुकी है और लगभग 11800 लोग इसके (कोरोना वायरस) की चपेट में होने की शंका जताई जा रही है।

हुबेई प्रांत (चीन) को कोरोना वायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित किया है लगभग 1347 और नए मामले हुबेई प्रांत सामने आए जिसके चलते अब कोरोना वायरस से संक्रमित लोगों की संख्या 7153 के पार चुकी है सभी संदिग्ध मरीजो को डॉक्टरों की निगरानी में रखा गया है।


गुरुवार को विश्व स्वास्थ्य संगठन (WHO) ने चीन में कोरोना वायरस के कहर को ग्लोबल इमरजेंसी करार कर दिया है।

चीन (वुहान शहर) सरकार ने लगभग पांच करोड़ लोगो को कही बाहर जाने से रोक लगा दी है यह सब उन लोगो की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए किया जा रहा है जो अब तक कोरोना वायरस की चपेट में नहीं आये है अब चीन सरकार इन लोगो की दैनिक जरूरतों का सामान (भोजन ,राशन, दूध,सब्जिया,आदि) स्वयं घर घर जाकर मुहैया कराएगी. कोरोना वायरस के कारण 5.6 करोड़ लोग अपने घरों में फंसे हुए हैं । 

कोरोना वायरस के क्या क्या लक्षण है ?
खांसी,  बुखार, नाक का बहना, छींक आना, निमोनिया, फेफड़ों में सूजन, अस्थमा का बिगड़ना आदि कोरोना वायरस के मुख्य लक्षण है।

कोरोना वायरस जानवरों और इंसान दोनों को ही हो सकता है चीन में यह जानवरो से ही इंसानो में फैला था ऐसी आशंका जताई जा रही है इसका बचाव ही इलाज है अभी डॉक्टर इस बीमारी का इलाज ढूढ रहे है।

होता है कोरोना वायरस के सक्रमण से बचने के लिए हमे उन लोगो से दुरी रखनी चाहिए जिन्हे खांसी,  बुखार, नाक का बहना, छींक आना, निमोनिया, फेफड़ों में सूजन, अस्थमा का बिगड़ना आदि परेशानिया है या जब हम इन लोगो के संपर्क में आये तो मास्क का इस्तेमाल करे।

कोरोना वायरस के संक्रमण को कम करने के क्या क्या उपाय है ?
 
(१) खांसते या छींकते समय अपनी नाक और मुंह को रुमाल या टिश्यू से ढक (COVER) ले ।
 (3) जिन्हें सर्दी या फ्लू जैसे लक्षण है उनसे मिलने से या उनके साथ करीबी संपर्क बनाने से बचे।
(4) जानवरों और पक्षियों के (साथ ना खेले) संपर्क में ना जाये।
(5)कोई भी पाय पदार्थ (COLD DRINK) आइस क्रीम ,कुल्फी,आदि ना खाये।
(7) दूध से बनी मिठाईया जिन्हे 48 घंटो से ज्यादा का समय बीत चूका हो उपयोग ना करे।

 

Leave a Reply