26 जनवरी का महत्व

न्यूज़
26 जनवरी 2020 का 71वां गणतंत्र दिवस
26 जनवरी 2020 का 71वां गणतंत्र दिवस
फोटो गूगल सौजन्य से
Advertisement

हमारा देश (भारत)इस वर्ष (26 जनवरी 2020) को 71वां गणतंत्र दिवस मनाने जा रहा है 26 जनवरी (Republic Day) को गणतंत्रत दिवस भी कहा जाता है गणतंत्रत का अर्थ जनता तंत्र (प्रणाली), नागरिक की एक ऐसी व्यवस्था जहां पर जनता के द्वारा एक नियंत्रित प्रणाली को मिलकर चलाया जाता है तथा उस व्यवस्था को चलाने की भी एक सीमा (लिमिट)तय होती है भारत में संविधान लोग खुद बनाते हैं

26 जनवरी 1950 के दिन से ही हम भारतीय पूर्णं स्वराज की वर्षगाँठ के रुप में प्र्तेक वर्ष 26 जनवरी (Republic Day) के रूप में मनाते हैं 26 जनवरी के दिन दिल्ली के लाल किले (RED FORT) पर तिरंगा फहराया जाता है और 26 जनवरी के दिन झंडा (TIRANGA) राष्ट्रपति जी (Shri Ram Nath Kovind ) के हाथो से फहराया जाता है और इस दिन देश के विभिन्न राज्यों की आकर्षक झांकियां निकाली जाती हैं

26 जनवरी (Republic Day) को भारत सरकार के द्वारा राष्ट्रीय अवकाश घोषित किया गया है परन्तु वर्ष 2020 का गणतंत्र दिवस (Republic Day) रविवार (SUNDAY) के दिन आ रहा है

26 जनवरी 2020

गणतंत्र दिवस (Republic Day) का इतिहास (History)
15 अगस्त 1947 में हमारे देश भारत (INDIA) को अंग्रेजो के शासन से आजादी (Independence) मिली थी किन्तु उस समय हमारे पास देश (भारत) का स्थायी संविधान नहीं था तब उस समय पहली बार 4 नवंबर वर्ष 1947 के दिन ड्राफ्टिंग कमेटी के द्वारा राष्ट्रीय सभा के समुख भारतीय संविधान का पहला ड्राफ्ट प्रस्तुत किया गया इसके पश्चात 24 जनवरी 1950 के दिन दो संस्करणों (हिन्दी और अंग्रेजी) में राष्ट्रीय सभा के द्वारा भारतीय संविधान का प्रथम ड्राफ्ट हस्ताक्षरित किया गया था तथा इसके(2 दिनों के) पश्चात 26 जनवरी 1950 गणतंत्र दिवस (Republic Day) के दिन से भारतीय संविधान अपने अस्तित्व में आया और तब से ही इस दिन (Republic Day)के रूप में मनाया जाने लगा 

26 जनवरी का क्या महत्व है
26 जनवरी (गणतंत्र दिवस) स्वतंत्र भारत और उसके नागरिको के लिए सच्चे साहस का प्रतीक है जहाँ पर भारतीय राष्ट्रपति (Shri Ram Nath Kovind) द्वारा राष्ट्रीय झंडे को सलामी दी जाती है और राष्ट्र-गान गाया जाता है तथा इसके बाद सैनिको के उत्साह और जोश एवं भारत का सम्मान सैन्य परेड सुरु होती है एवं सैनिको का सोर्य व पराकर्म देखने का शुभ अवसर हम सभी को प्राप्त होता है तथा देश के प्रत्येक राज्य (भारत के कोने कोने से)अनेको झाकिया आती है जो अपनी कला को प्रस्तुत करती है ।

हमारा देश (भारत) एक ऐसा महान देश है जहाँ पर विभिन्न संस्कृतिया,धर्म-जाती और बोली- भाषा के लोग एक साथ मिलजुल कर रहते है भारत के लिये स्वतंत्रता दिवश का उत्तस्व बहुत बड़े गर्व की बात है क्योंकि अनेको मुश्किलों का सामना करने के बाद यह शुभ अवसर आया है

गणतंत्र दिवस 2020 के मुख्य अतिथि  'जेयर बोल्सोनारो'
गणतंत्र दिवस 2020 के मुख्य अतिथि ‘जेयर बोल्सोनारो’
फोटो गूगल सौजन्य से

गणतंत्र दिवस 2020 के मुख्य अतिथि                                                     26 जनवरी 2020 के मुख्य अतिथि ‘ब्राजील’ के राष्ट्रपति ‘जेयर बोल्सोनारो’ है हमारे प्रधानमंत्री माननीय श्री नरेन्द्र मोदी ने इस वर्ष (26 जनवरी 2020) के मुख्य अतिथि के रूप में ब्राजील के राष्ट्रपति ‘जेयर बोल्सोनारो’ को आमंत्रित किया है इस आमंत्रण को उन्होने (ब्राजील के राष्ट्रपति ‘जेयर बोल्सोनारो’ )हर्षोउल्लास से स्वीकार कर लिया है और यह ब्राजीलियन राष्ट्रपति का भारत का तीसरा दौरा होगा
प्रधानमंत्री (श्री नरेन्द्र मोदी) जी की मुलाकात ब्राजीलियन राष्ट्रपति से ब्राजील में सम्पन्न हुए ग्यारहवें ब्रिक्स समिट में हुई थी प्रधानमंत्री (श्री नरेन्द्र मोदी जी)ने विदेश नीति को और अधिक विस्तार देने के उद्देश्य से ब्राजील के राष्ट्रपति ‘जेयर बोल्सोनारो’  को गणतंत्र दिवस समारोह 2020 के लिए न्यौता दिया तथा खुद मोदी जी ने कहा की इससे दोनो देशों के आर्थिक संबंध और मजबू ( सुदृढ़)होंगे

Leave a Reply