Aloo Ke Ras Ke Fayde | benefits of potato juice in hindi

हेल्थ
Aloo Ke Ras Ke Fayde
Aloo Ke Ras Ke Fayde

Aloo Ke Ras Ke Fayde | benefits of potato juice in hindi | आलू के रस के फायदे

सब्जियों में आलू (Potato) सबसे लोकप्रिय होता है, यहा तक की इसे सब्जियों का राजा भी कहते हैं। बच्चो से लेकर बड़ों तक सभी इस सब्जी को बहुत पसंद करते हैं। आलू (Potato benefits) एक ऐसी सब्ज़ी है जिसे, भारतीय रसोइयों में सबसे पहले स्टोर किया जाता है।आलू जिस तरीके से थाली में स्वाद जोड़ने का काम करती है। ठीक वैसे ही यह ब्यूटी प्रॉब्लम्स को कम करने में भी मदद करता है। स्वास्थ्य और त्वचा दोनों के लिए ही इसके लाभ (Potato Juice for Skin Problems)

Advertisement
होते हैं।

Potato Juice  – आलू की तरह आलू के रस के भी अनेक फायदे होते हैं। आलू के जूस के सेवन से कई स्वास्थ्य लाभ देखे गए हैं। आलू के रस का इस्तेमाल कई स्वास्थ्य समस्याओं से बचाव के लिए या लक्षणों को कम करने के लिए किया जा सकता है। आलू के रस का इस्तेमाल कई घरेलू नुस्खों में किया जाता है।

आलू का रस काले धब्बों और कई अन्य स्किन प्रॉब्लम्स को दूर करने में मदद करता है। काले धब्बों को कम करने के लिए आप कई तरीकों से आलू के रस का इस्तेमाल कर सकते हैं

आलू के रस के फायदे – Aloo Ke Ras Ke Fayde In Hindi

इम्युनिटी बढ़ाए (Increase immunity)- इम्युनिटी बढ़ाने में आलू का रस एक महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है। आलू में मौजूद कैरोटेनॉयड्स (Carotenoids) ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस से सुरक्षा प्रदान कर सकते हैं और रोग प्रतिरोधक क्षमता को बेहतर भी कर सकते हैं। साथ ही आलू में विटामिन C समृद्ध मात्रा में मौजूद होता है जिस वजह से आलू जूस का सेवन करने से रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाई जा सकती है।

कब्ज़ (Constipation)-पेट खराब होना,कब्ज़ और अपच की समस्या के लिए कच्चे आलू का जूस पीना लाभ प्रदान कर सकता है। क्रोनिक कब्ज के घरेलू उपचार के तौर पर आहार में आलू शामिल किया जा सकता है। इसके लिए कच्चे आलू से बने जूस और सूप के साथ ही आलू को पकाकर और उबालकर भी खाया जा सकता है।

गठिया रोग में (Arthritis)- कच्चे आलू का जूस गठिया के उपचार में भी मदद कर सकता है। इसके लिए खाना खाने से पहले 1 से 2 चम्मच आलू का जूस पीना लाभकारी हो सकता है। ऐसा करने से शरीर में बनने वाला एसिड कम हो सकता है, जिससे कुछ हद तक रूमेटाइड आर्थराइटिस (गठिया का एक प्रकार) से राहत मिल सकती है।

शरीर डेटॉक्स करने में मददगार (Helps in detoxification)- आलू के रस का इस्तेमाल डिटॉक्सीफाई यानी शरीर से विषाक्त पदार्थों को निकालने के लिए भी किया जा सकता है। आलू मेटाबॉलिक डेटोक्सिफिकेशन की प्रक्रिया को बढ़ा सकता है।

कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करे (Controls cholesterol)- आलू में फाइबर भी होता है, जो आधा घुलनशील और आधा अघुलनशील होता है। इसका यह गुण कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम करके उसे नियंत्रित कर सकता है। इसके साथ ही आलू में मौजूद फ्लेवनॉइड्स हानिकारक कोलेस्ट्रॉल (LDL) के स्तर को कम करने में सहायक हो सकता है।

Potato Juice for Skin Problems in hindi
Potato Juice for Skin Problems in hindi

त्वचा के दाग-धब्बे दूर करने के लिए आलू के रस का करें इस्तेमाल Potato Juice for Skin Problems in hindi

एक्ने स्पॉट्स – आलू के छिलके को ब्लैंड कर चेहरे पर कुछ समय तक हल्की-हल्की मसाज कीजिए तथा इसके बाद ताजे, सापफ पानी से धे डालिए। इससे त्वचा को साफ रखने तथा काले ध्ब्बों को साफ करने में मदद मिलेगी।
भूलकर भी खाया इस तरीके का आलू तो होगा पेट खराब और होगी फूड पॉइजनिंग! जानें कौन सा आलू खतरनाक

डल स्किन – आधे आलू के रस में एक अण्डे का सफ़ेद हिस्सा मिला कर मिश्रण बना लें तथा इस मिश्रण को चहरे पर आधा घण्टा तक लगा कर चेहरे को साफ ताजे पानी से धो डालिये। इससे, चेहरे के छिद्रों में कसाव आएगा तथा आप जवां दिखायी देंगे।

यंग स्किन – आधे आलू रस में दो चम्मच दूध मिलाकर बने मिश्रण को कॉटन की मदद से पुरे चेहरे तथा गर्दन पर लगाइये। इस मिश्रण को आधा घंटे बाद पानी से साफ करें। इसे हफ्ते में दो बार लगाने से चेहरे की त्वचा में ताजगी तथा यौवनता का अहसास होता है।

काले-धब्बे और झांइयां – आलू से त्वचा पर काले दाग ध्ब्बों को हल्का किया जा सकता है। इसे, बहुत पहले से ही त्वचा में खाज, खुजली जैसी परेशानियों से राहत पाने के लिए इस्तेमाल किया जाता रहा है। इसीलिए डार्क स्पॉट्स को कम करने के लिए भी इसका इस्तेमाल निश्चिंत होकर किया जा सकता है।

आलू के रस

आलू और नींबू का रस – नींबू का रस विटामिन सी से भरपूर होता है जो त्वचा के लिए सबसे अच्छे विटामिनों में से एक है। आप आलू का रस और नींबू का रस बराबर मात्रा में मिला सकते हैं। इस मिश्रण को कॉटन की मदद से अपने चेहरे पर लगाएं। इसे लगभग पांच मिनट के लिए लगा रहने दें। इसके बाद चेहरा साफ पानी से धो लें। इसे आप हफ्ते में 3 बार चेहरे पर इस्तेमाल लगा सकते हैं।

आलू के रस-मुल्तानी मिट्टी फेस पैक – आलू के रस के आप फेस पैक तैयार कर सकते हैं। इसे बनाने के लिए आप मुल्तानी मिट्टी और आलू के रस से मिश्रण तैयार कर सकते हैं। इस पैक को अपने चेहरे पर लगाएं। इसे सूखने तक लगाए रखें। एक बार जब ये पूरी तरह से सूख जाए तो अपना चेहरा धो लें। इसका इस्तेमाल हफ्ते में दो बार कर सकते हैं।

इसके अलावा आप एक चुटकी हल्दी और आलू का रस भी मिला सकते हैं। इस रस को अपने चेहरे कुछ मिनट के लिए लगा रहने दें। बाद में अपने चेहरे को अच्छे से धो लें। इसे आप हफ्ते में दो या तीन बार ट्राई कर सकते हैं।

आलू का रस टोनर – आप आलू के रस से टोनर बना सकते हैं। इसके लिए एक मध्यम आकार के आलू का रस लें और उसमें एक कप पानी डालें। इन दोनों को मिलाकर इस मिश्रण को अपनी त्वचा पर लगाएं। आप इसे एक स्प्रे बोतल में स्टोर कर सकते हैं या इसे कॉटन पैड का इस्तेमाल करके लगा सकते हैं। इसे ज्यादा देर तक स्टोर न करें। इस्तेमाल करने के लिए ताजा आलू का रस तैयार करें।

झुर्रियां या रिंकल्स – आलू जूस को प्रतिदिन चेहरे तथा बाहर त्वचा पर लगाकर 20 मिनट बाद ताजे साफ पानी से धे डालिए। इससे चेहरे की झुर्रियां खत्म हो जाएगी तथा चेहरे पर यौवनता लौट आएगी

Leave a Reply