Peach Health Benefits in hindi | Amazing Benefits of Peach in Hindi | Peach Side Effects in Hindi | Aadu ke faayde | Aadu fruit ke faayde enefits of peach expert told qualities of this fruit

हेल्थ
Peach Health Benefits in hindi |  Amazing Benefits of Peach in Hindi  | Peach Side Effects in Hindi | Aadu ke faayde  |  Aadu fruit ke faayde enefits of peach expert told  qualities of this fruit
Advertisement
Amazing Benefits of Peach in Hindi

Peach Health Benefits in hindi | Peach Benefits and Side Effects in Hindi | Aadu ke faayde | enefits of peach expert told qualities of this fruit | Amazing Benefits of Peach in Hindi | Aadu fruit ke faayde  क्यों माना जाता है आड़ू को गर्मियों का ‘सुपरस्टार’ फल ? एक्सपर्ट जाने

Peach : आड़ू उन लाभकारी फलों में से एक है, जिसके सेवन से सेहत, त्वचा और बालों को कई फायदे होते हैं। अच्छी सेहत के लिए एक्सपर्ट हमेशा से ही मौसमी फलों और सब्जियों को अपनी डाइट में शामिल करने की सलाह देते रहे हैं. गर्मियों का मौसम है, तो हम बात करेंगे गर्मियों के अहम फल आड़ू के बारे में, जिसे अंग्रेजी में पीच (Peach) कहा जाता है.

गर्मियों में फलों के सुपरस्टार्स में से एक आड़ू भी है, जो ज़रूरी न्यूट्रिएंट्स से भरपूर होता है और सेहत को कुछ शानदार फायदे पहुंचाता है.”

Amazing Benefits of Peach in Hindi | Aadu fruit ke faayde

पाचन में सहायता कर सकता है – आड़ू, नेचुरल डाइट्री फाइबर का एक बेस्ट सोर्स होने की वजह से भूख को कंट्रोल करने में मदद करता है. इसके अलावा, ये प्रोसेस्ड और अन-प्रोसेस्ड फूड पार्टिकल्स को आंतों के बीच से मूवमेंट की सुविधा प्रदान करता हैं, कब्ज की समस्या को कम करता है.

एलर्जी के लक्षणों को कम कर सकता है – जब आपकी बॉडी एक एलर्जेन (Allergen) के संपर्क में आती है, तो ये आपकी बॉडी को एलर्जेन से छुटकारा दिलाने में मदद करने के लिए इम्यून सिस्टम द्वारा बनाए गए हिस्टामाइन या केमिकल्स को छोड़ता है. हिस्टामाइन आपके शरीर के डिफेंस सिस्टम का हिस्सा हैं और ये छींकने, खुजली या खांसने जैसे एलर्जी के लक्षणों को ट्रिगर करता हैं. आड़ू ब्लड में हिस्टामाइन के बाहर निकलने को रोककर एलर्जी के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकता है.

स्किन की हेल्थ को सुरक्षित रखता है- आड़ू में प्रचुर मात्रा में मौजूद विटामिन सी भी एक एंटीऑक्सीडेंट है. रिसर्च बताती हैं कि नियमित रूप से विटामिन सी का सेवन करने से स्किन की बनावट और हेल्थ में सुधार हो सकता है. ये पावरफुल एंटीऑक्सिडेंट कोलेजन (Collagen) बनाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है, जो स्किन के लिए सपोर्ट सिस्टम के रूप में काम करता है, घाव भरने को बढ़ावा देता है और स्किन की स्ट्रेंथ को बढ़ाता है.

कुछ प्रकार के कैंसर को रोक सकता है – आड़ू पॉलीफेनॉल्स (Polyphenols) से भरपूर होते हैं, पॉलीफेनॉल्स एंटीऑक्सिडेंट की एक कैटेगरी है, जो कैंसर सेल्स के विकास को कम करने और उसके प्रसार को सीमित करने के लिए जानी जाती है. इसके अलावा, आड़ू की स्किन और इसका गूदा कैरोटेनॉयड्स और कैफिक एसिड से भरपूर होते हैं. इन दो तरह के एंटीऑक्सिडेंट में कैंसर विरोधी गुण पाए जाते हैं.

बालों के लिए – बालों के लिए भी आडू के फायदे हो सकते हैं। मेडिकल रिसर्च के मुताबिक, विटामिन ए, राइबोफ्लेविन विटामिन सी, नियासिन और आयरन की कमी से बालों का झड़ना शुरू हो सकता है आड़ू में इन सभी पोषक तत्वों की अच्छी मात्रा होती है। ऐसे में आड़ू का सेवन करके इन पोषक तत्वों का स्तर बेहतर होने के साथ ही बालों का झड़ना कम हो सकता है

प्रतिरक्षा प्रणाली के लिए – फलों के सेवन से शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में मदद मिल सकती है। इसके लिए जरूरी फलों की सूची में आड़ू का नाम भी शामिल है आड़ू में विटामिन सी की अच्छी मात्रा होती है । इस विटामिन को शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने के लिए जाना जाता है

दिल को स्वस्थ बनाए – आडू खाने के फायदे में हृदय स्वास्थ्य भी है। इससे जुड़े एक वैज्ञानिक शोध में दिया है कि आड़ू में फ्लेवोनॉयड की अच्छी मात्रा होती है, जो लिपिड प्रोफाइल में सुधार कर सकता है। इससे हृदय रोग के जोखिम से बचाव हो सकता है। साथ ही फ्लेवोनॉयड्स युक्त डाइट हृदय रोग को रोकने का काम कर सकता है

 

Peach Health Benefits in hindi |  Amazing Benefits of Peach in Hindi  | Peach Side Effects in Hindi | Aadu ke faayde  |  Aadu fruit ke faayde enefits of peach expert told  qualities of this fruit
Peach Health Benefits in hindi

आड़ू फल के नुकसान | Side Effects of Peach in Hindi Aadu fruit ke faayde 

पीच के फायदे पाने के लिए अन्य खाद्य पदार्थों की तरह ही इसका सेवन संयमित मात्रा में करना चाहिए। अधिक मात्रा में और खराब आड़ू खाने से सेहत पर खराब असर पड़ सकता है।

माउथ एलर्जी – यूं तो आड़ू का सेवन एलर्जी से बचाव करने में मदद करता है । हां,अगर किसी ने कच्चा आड़ू खा लिया, तो माउथ एलर्जी हो सकती है ।

विषाक्तता – आड़ू से किसी तरह की विषाक्तता नहीं होती, लेकिन इसके बीज में साइनाइड होता है, जिससे कुछ लोगों को विषाक्तता हो सकती है। दरअसल, कई फलों जैसे चेरी, आलूबुखारा और आड़ू के बीज में जहरीले यौगिक होते हैं। इसलिए इनके बीज नहीं खाए जाते हैं। यदि वे गलती से खाए जाते हैं,

तो यह आमतौर पर नुकसान नहीं पहुंचाते हैं, लेकिन कुचले हुए बीज के सेवन से या बीज को चबाने से बचना चाहिए है, क्योंकि उनमें साइनाइड यौगिक होते हैं। ऐसे में आड़ू के बीज से बनी औषधि का सेवन डॉक्टर से पूछकर ही करना चाहिए

आड़ू का उपयोग | How to Use Peach in Hindi

आड़ू का उपयोग कई प्रकार से किया जा सकता है। हम सामान्य तरीकों के अलावा कुछ ऐसे तरीके भी बता रहे हैं, जिससे आड़ू के स्वाद में भी परिवर्तन हो सकता है। आड़ू खाने के तरीकों में यह शामिल है :

  • आड़ू को धोकर सामान्य फल की तरह खा सकते हैं।
  • आड़ू को काटकर दही में मिलाकर नाश्ते के रूप में ले सकते हैं।
  • ताजा आड़ू को दूध के साथ एक मिक्सर में पीस कर केले से साथ मिलाकर ले सकते हैं।
  • स्वादिष्ट स्नैक्स के लिए आड़ू काट कर गर्म करें और उस पर थोड़ी दालचीनी डालकर इसे भोजन में शामिल कर सकते हैं।
  • आड़ू का सॉस बनाकर सेवन किया जा सकता है।
  • आड़ू की चटनी बनाकर खा सकते हैं।
  • आड़ू का सेवन सलाद के साथ भी किया जा सकता है।
  • आड़ू-ग्रील्ड पनीर सैंडविच बनाकर भी खा सकते हैं।

कब खाएं

इसके कुछ टुकड़ों को  सुबह या शाम के नाश्ते के रूप में सेवन कर सकते हैं।
इसे सुबह या दोपहर के समय फल की तरह खा सकते हैं।

कितना खाएं

आड़ू का प्रतिदिन 100 -250 ग्राम तक सेवन कर सकते हैं । अगर किसी तरह की स्वास्थ्य समस्या है, तो आड़ू की सही मात्रा जानने के लिए डाइटीशियन से संपर्क करें।

आड़ू फल का चयन कैसे करें और लंबे समय तक सुरक्षित कैसे रखें?

  • आड़ू में दाग न लगा हो और न ही कही से कटा हो।
  • इस फल को सूंघकर देखें। इससे अच्छी खुशबू आनी चाहिए।
  • एक पका हुआ आड़ू पीले या सुनहरे रंग का होता है। अगर आड़ू का रंग हल्का हरा है, तो वह अभी कच्चा है।
  • आड़ू छूने पर न ज्यादा नरम और न ज्यादा सख्त हो।

कैसे करें स्टोर

  • अगर पूरी तरह से पका हुआ आड़ू नहीं खरीदा है, तो इसे कुछ दिन के लिए कमरे के तापमान पर रखा जा सकता है। इससे यह पक जाएगा और ज्यादा दिनों तक चलेगा।
    पके हुए आड़ू को कुछ दिन के लिए फ्रिज में रखा जा सकता है।
  • कटे हुए आड़ू को काला होने से बचाने के लिए उस पर नींबू का रस लगाकर एक से दो दिन तक स्टोर कर सकते हैं।

Leave a Reply