Anemia Symptoms And Treatment | Anemia Causes, Symptoms, Diagnosis, Treatments

हेल्थ
Anemia Causes, Symptoms, Diagnosis, Treatments
Anemia Causes, Symptoms, Diagnosis, Treatments

एनीमिया (Anemia) : एनीमिया का अर्थ है, शरीर में खून की कमी। हिमोग्लोबिन एक ऐसा तत्व है जो हमारे शरीर में खून की मात्रा बताता है पुरुषों में इसकी मात्रा 12 से 16% तथा महिलाओं में इसकी मात्रा 11 से 14% होनी चाहिए

Advertisement

हीमोग्लोबिन पूरे शरीर मे ऑक्सीजन को प्रवाहित करता है और इसकी संख्या मे कमी आने से शरीर मे ऑक्सीजन की आपूर्ति मे भी कमी आती है जिसके कारण व्यक्ति थकान और कमजोरी महसूस कर सकता है। समान्यत हीमोग्लोबिन की मात्रा सभी मे 12.0-15.5 होनी चाहिए।

एनीमिया क्या है और इसमें एनीमिया डाइट कैसे मदद करती है

एनीमिया (Anemia) रक्त की कमी, लाल रक्त कोशिका के उत्पादन में कमी और तेजी से रेड ब्लड सेल्स के खत्म होने को कहा जाता है। इसका आम कारण शरीर में आयरन की कमी है। आयरन से ही हीमोग्लोबिन बनाता है। यह रक्त को लाल रंग देने वाला प्रोटीन होता है, जो फेफड़ों की मदद से पूरे शरीर में ऑक्सीजन पहुंचाता हैसाथ ही विटामिन बी 12 और फोलेट जैसे न्यूट्रिएंट्स की कमी से भी एनीमिया होता है। एनीमिया डाइट प्लान इन सभी पोषक तत्वों की पूर्ति करके एनीमिया से बचाव कर सकता है

एनीमिया की बीमारी में क्या खाएं – Foods for Anemia

एनीमिया से बचाव और शरीर में रक्त के स्तर को बनाए रखने में खाद्य पदार्थ तभी मदद करते हैं जब वह जरूरी न्यूट्रिएंट्स से भरपूर हों। इसी वजह से लेख के इस भाग में एनीमिया से लड़ने वाले आहार और उनमें मौजूद पोषक तत्व के बारे में बता रहे हैं।

पालक – एनीमिया की समस्या से जूझ रहे लोग पालक का सेवन कर सकते हैं। दरअसल, पालक आयरन से भरपूर होता है और अधिकतर एनीमिया आयरन की कमी के कारण ही होता है। ऐसे में माना जाता है कि पालक का सेवन करके एनीमिया की स्थिति में सुधार हो सकता है।

फूल गोभी- आयरन की कमी के कारण होने वाले एनीमिया को दूर करने में एस्कॉर्बिक एसिड यानी विटामिन सी की भी अहम भूमिका होती है। यह पोषक तत्व आयरन के अवशोषण में मदद कर सकता है। इसी वजह से आहार में विटामिन सी से समृद्ध फूल गोभी को भी शामिल किया जा सकता है ।

पत्ता गोभी- शरीर में विटामिन सी की कमी होने से भी एनीमिया का जोखिम होता है। इस विटामिन सी की पूर्ति करने के लिए पत्ता गोभी का सेवन कर सकते हैं। इसमें विटामिन सी की अच्छी मात्रा पाई जाती है, जो एनीमिया से बचाव कर सकती है ।

ब्रोकली- ब्रोकली खाने के फायदे में एनीमिया से बचाव को भी गिना जाता है। इसमें आयरन और विटामिन सी दोनों की अच्छी मात्रा होती है। ये दोनों पोषक तत्व एनीमिया से बचाव करने और एनीमिया की स्थिति को बेहतर करने में मदद कर सकते हैं।

अनार जूस- अनार का जूस आयरन और विटामिन सी दोनों पोषक तत्वों से युक्त है। इनकी मदद से रेड ब्लड सेल्स (लाल रक्त कोशिकाएं) यानी हीमोग्लोबिन के स्तर में सुधार हो सकता है। इसी वजह से माना जाता है कि अनार का जूस आयरन के लिए अच्छा होता है ।

स्ट्रॉबेरी- एनीमिया की बीमारी में क्या खाएं सोच रहे हैं, तो आप स्ट्रॉबेरी का सेवन कर सकते हैं। स्ट्रॉबेरी में विटामिन सी की अच्छी मात्रा होती है, जो आयरन के अवशोषण में मदद करता है। इससे एनीमिया की स्थिति में सुधार हो सकता है

एनीमिया की बीमारी में क्या न खाएं – Foods to Avoid in Anemia in Hindi

एनीमिया की बीमारी में ऐसे खाद्य पदार्थों का सेवन करने से बचाना चाहिए, जो शरीर में आयरन और अन्य पोषक तत्वों को अवशोषित होने नहीं देते। इसके अलावा, पोषण रहित आहार से भी परहेज करना चाहिए।

  • चाय और कॉफी का सेवन कम करें
  • लो एनर्जी डाइट न लें
  • टैनिन और फाइटिक एसिड युक्त खाना न खाएं
  • तैलीय और मसालेदार खाद्य पदार्थ का सेवन न करें
  • चाइनीज फास्ट फूड से परहेज करें
  • शराब और धूम्रपान जैसे नशीली पदार्थों का सेवन न करे
Anemia Symptoms And Treatment
Anemia Symptoms And Treatment

एनीमिया के इलाज के लिए जीवनशैली – Lifestyle changes in Anemia Treatment In Hindi

एनीमिया की बीमारी को जल्दी ठीक करने में दैनिक जीवन में बदलाव करने की जरूरत हो सकती है। यह बदलाव न सिर्फ एनीमिया के स्तर को बेहतर करेगा, बल्कि शरीर को अन्य बीमारियों से बचाने में भी मदद कर सकता है।

  • रोजाना योगाभ्यास और व्यायाम करें
  • अधिक से अधिक तरल पदार्थ और पानी पिएं
  • समय पर सोए और समय पर खाएं
  • अधिक से अधिक हरी सब्जी और फल खाएं
  • समय-समय पर स्वास्थ्य की जांच करते रहें
  • दिन में ज्यादा से ज्यादा शारीरिक गतिविधि करें

एनीमिया आहार के लाभ- Benefits Of The Anemia Diet in Hindi

  • एनीमिया आहार से रेड बल्ड सेल्स बनते हैं।
  • आयरन के अवशोषण में मदद कर सकता है।
  • आयरन के स्तर को ठीक कर सकता है।
  • विटामिन सी के लेवल को बढ़ाने में सहायक हो सकता है।
  • हृदय रोग और गठिया जैसी समस्या को दूर रखने का काम कर सकता है ।
  • हड्डियों और दांतों को मजबूती प्रदान कर सकता है।
  • घाव भरने और स्कार को ठीक करने में भी मदद मिल सकती है

यह भी पढ़ें : Healthy Food : स्वस्थ आहार क्या है, लाभ, आदतें, कैसे खाएं

एनीमिया आहार के साइड इफेक्ट – Side Effects Of The Anemia Diet in Hindi

एनीमिया डाइट के कारण आयरन की मात्रा ज्यादा होने से आयरन विषाक्तता हो सकती है ।
आयरन की अधिक मात्रा से लिवर डैमेज, मधुमेह, हाइपोथायरायडिज्म यानी थायराइड का जोखिम हो सकता है

One thought on “Anemia Symptoms And Treatment | Anemia Causes, Symptoms, Diagnosis, Treatments

Leave a Reply