आरिफ ने आयशा को आत्महत्या के लिए किया मजबूर, आयशा की 70 मिनट की कॉल रिकॉर्डिंग में बड़ा खुलासा

न्यूज़
Arif forced Ayesha to suicide, big reveal in 70-minute recording,
Arif forced Ayesha to suicide, big reveal in 70-minute recording,

आरिफ ने आयशा को आत्महत्या के लिए किया मजबूर, आयशा की 70 मिनट की कॉल रिकॉर्डिंग में बड़ा खुलासा
Advertisement


23 साल की आयशा की मौत के बाद जाँच में जुटी पुलिस को आरिफ के ख़िलाफ़ एक महत्वपूर्ण सबूत मिला है। ये सबूत 70 मिनट की कॉल रिकॉर्डिंग है। जिसमें आयशा ने आत्महत्या करने से पहले अपने पति आरिफ से बात की थी। पुलिस के मुताबिक, इस कॉल रिकॉर्डिंग के जरिए मामले में कई खुलासे हो सकते हैं। 

आयशा की आखिरी वीडियो और माता-पिता से हुई बातचीत की रिकॉर्डिंग ने सबको झकझोर दिया है। हर कोई उसके शौहर आरिफ को सख्त से सख्त सजा दिलवाना चाहता है।

Read this : ‘अल्लाह से मिलूँगी’: आयशा ने हँसते हुए की आत्महत्या

आत्महत्या करने से पहले आयशा ने आरिफ से फोन पर बात की और दोनों के बीच करीब 70 मिनट की फोन रिकॉर्डिंग

अहमदाबाद पुलिस ने आयशा और आरिफ के बीच हुई बातचीत की कॉल रिकॉर्ड्स को एक्सेस किया। ये बातचीत आयशा ने नदी में कूदने से पहले आरिफ से की थी। इसमें आरिफ को साफ कहते सुना जा सकता है – “जाकर मर और मुझे अपने मौत की वीडियो भेज दियो” – पुलिस को ये अहम सबूत आरिफ का मोबाइल फोन बरामद होने के बाद मिला है।

Arif forced Ayesha to suicide

आत्महत्या करने से पहले आयशा ने आरिफ से फोन पर बात की और दोनों के बीच करीब 70 मिनट की फोन रिकॉर्डिंग है। पुलिस को यह रिकॉर्डिंग मिल गई है, जिसमें आरिफ आयशा से यह कहते हुए पाया गया कि तू मर जा और मरने का वीडियो मुझे भेज देना। 

गौरतलब है कि गुजरात के अहमदाबाद में आयशा ने 25 फरवरी 2021 को अहमदाबाद में साबरमती रिवर फ्रंट में कूदकर अपनी जान दे दी थी और आत्महत्या करने से पहले एक भावुक वीडियो साझा की थी। इस वीडियो के वायरल होने के बाद पुलिस हरकत में आई थी और 1 मार्च को आरोपित आरिफ को गिरफ्तार कर लिया था। 

इसके अलावा आयशा के घरवालों ने आरोप लगाया था कि आरिफ का दूसरी लड़की से अफेयर था। वह उनकी बेटी के सामने अपनी गर्लफ्रेंड से बात करता था। एक बार वह आयशा को गर्भावस्था में मायके छोड़ गया था। इस घटना से वह इतना डिप्रेस्ड हुई कि सर्जरी के बावजूद बच्चा न बच सका।


मामले में आगे की जाँच चल रही है। पुलिस पता लगा रही है कि कहीं तीसरी महिला के कारण तो आरिफ ने आयशा को दहेज आदि माँगने के लिए मजबूर नहीं किया।

यह भी पता चला है कि साल 2020 में आयशा की ओर से आरिफ के ख़िलाफ़ वतवा पुलिस थाने में दहेज का केस दर्ज कराया गया था। इस मामले के तहत आरिफ और उसके घरवालों को पुलिस ने गिरफ्तार भी किया था।

इसके बाद जमानत पर ये लोग छूट गए थे। पुलिस को 70 मिनट की जो रिकॉर्डिंग मिली है, उसमें आयशा और आरिफ के बीच दहेज के मामले को लेकर भी बातचीत हुई है। रिकॉर्डिंग के मुताबिक आरिफ आयशा पर दहेज का मामला वापस लेने का दबाव बना रहा था। 

Arif forced Ayesha to suicide

दोनों की शादी जुलाई 2018 में हुई थी। शादी के वक्त आयशा के पिता ने डेढ़ लाख रुपए दिए थे लेकिन कुछ माह बाद आयशा को वापस भेज दिया गया। ससुराल वालों ने आयशा से बात भी बंद कर दी। वह इस दुख को बर्दाश्त नहीं कर पा रही थीं और खुद को मारने का फैसला किया।

आत्महत्या से पहले बनाए गए वीडियो में आयशा ने कहा था, “प्यार करते हैं आरिफ से। उसे परेशान थोड़े न करेंगे। उसे आज़ादी चाहिए, आज़ाद रहे वो। चलो, अपनी ज़िंदगी तो यहीं तक है। मैं खुश हूँ कि मैं अल्लाह से मिलूँगी। मैं उनसे पूछूँगी कि मुझसे क्या गलती हुई।

अच्छे माँ-बाप मिले, दोस्त भी बहुत अच्छे मिले- फिर भी कमी कहाँ रह गई? सुकून के साथ जाना चाहती हूँ। और अल्लाह से मैं ये भी कहूँगी कि मुझे दोबारा इंसानों की शक्ल न दिखाए।”

Leave a Reply