कुल्थी की दाल के फायदे | Benefits of Kulthi | Gahat daal ke fayde |

हेल्थ
कुल्थी की दाल के फायदे
कुल्थी की दाल के फायदे

गहत (कुल्थी) की दाल के फायदे – Benefits of Gahat (Kulthi) lentils

कुलथी (गहत) एक प्रकार की दाल है, जिसे अंग्रेजी में हार्स ग्राम (Horse Gram) के नाम से जाना जाता है। इसे दक्षिण भारत की महत्वपूर्ण फसल माना गया है। इसका रंग गहरा भूरा होता है और देखने में मसूर की दाल की तरह लगती है।Read this :

Advertisement
Curry leaves : Use of curry leaves, health benefits and loss

कुलथी दाल (Horse Gram)एक सुपरफूड के रूप में जानी जाती है और इसका सेवन अधिकतर भारत के दक्षिणी भाग में मुख्य आहार के रूप में किया जाता है। कुलथी दाल पोषक तत्वों में भरपूर होती है। और इसमें बहुत सारे खनिज पदार्थ जैसे फॉस्फोरस, कैल्शियम, प्रोटीन और आयरन पाए जाते हैं। इसलिए यह मानव स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभकारी मानी जाती है।Read this :amazing benefits of cinnamon

दक्षिण भारत के कुछ प्रमुख व्यंजनों जैसे रसम आदि बनाने के लिए इसे प्रयोग में लाया जाता है। कुलथी दाल (Horse Gram) को कर्नाटक, आंध्र प्रदेश, ओडिशा व तमिलनाडु के अलावा छत्तीसगढ़, पश्चिम बंगाल, मध्य प्रदेश, बिहार, उत्तराखंड और हिमाचल प्रदेश में भी उगाया जाता है।Read this :Figs health benefits

इस दाल का वैज्ञानिक नाम मैक्रोटिलोमा यूनिफ्लोरम (Macrotyloma uniflorum) है। यह औषधि के रूप में फायदेमंद मानी जाती है

कुलथी दाल (Kulthi Dal) के फायदे – Benefits of Horse Gram

शरीर के लिए कुलथी दाल के फायदे

पथरी के इलाज में कुल्थी के फायदे – Kulattha Beneficial to Treat Kidney Stone 

पथरी के लिए कुलथी दाल (Horse Gram) का सबसे बड़ा फायदा पथरी यानी किडनी स्टोन के लिए माना जाता है। पथरी के लिए कुलथी का इस्तेमाल लंबे समय से किया जा रहा है। इसे किडनी स्टोन का इलाज करने के लिए पारंपरिक और वैकल्पिक दवा का दर्जा प्राप्त है।Read this :Health Benefits and Side Effects of Parijat (Harsingar)

कुलथी दाल (Horse Gram) एंटीऑक्सीडेंट और शरीर से गंदगी बाहर निकाले वाले गुणों से समृद्ध होती है, जो किडनी से पथरी को बाहर निकालने में मदद कर सकती हैं

The Miraculous Health Benefits Of Horse Gram - GOQii

मोटापा कम करने में फायदेमंद कुल्थी – Benefit of Kulthi for Weight loss

अगर किसी तरह भी वजन कम नहीं हो रहा है तो कुलथी का सेवन फायदेमंद साबित हो सकता है। इसके लिए कुलथी का सेवन करने के पहले चिकित्सक से सलाह ले लें।Read this :गिलोय क्या है इसके फायदे एवं नुकशान

कुलथी दाल कोलेस्ट्रॉल को कम करे – Kulthi dal reduce cholesterol

कुलथी दाल (Horse Gram) एलडीएल यानी खराब कोलेस्ट्रॉल को कम करने और एचडीएल यानी अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाने का काम कर सकती है। इसके अलावा, कुलथी दाल प्रोटीन से समृद्ध होती है।और प्रोटीन हाइपोकोलेस्ट्रोलेमिक (hypocholesterolemic) प्रभाव को रोकने का काम कर सकता है।

कुलथी दाल के सेवन से कब्ज में राहत – Kulthi dal relieves constipation

कुलथी की दाल फाइबर से समृद्ध होती है, जो कब्ज से निजात दिलाने का काम करती है। अतः आप कब्ज जैसी समस्याओं से छुटकारा पाने के लिए किया जा सकता है।Read this :अलसी क्या है,अलसी के फायदे और नुकसान

कुलथी दाल के नुकसान – Side Effects of Horse Gram

  • कुलथी (Horse Gram) में फाइबर की मात्रा पाई जाती है और फाइबर की अधिक मात्रा पेट में गैस, सूजन व पेट में ऐंठन का कारण बन सकती है ।
  • कुलथी दाल (Horse Gram) का अधिक उपयोग करने से पेट में सूजन, गैस व कब्ज की समस्या हो सकती है। क्युकी कुलथी में कैल्शियम की मात्रा होती है । और शरीर में कैल्शियम की मात्र जरूरत से ज्यादा होने पर गैस व कब्ज आदि की समस्या होती है।Read this :रागी मुद्दे या रागी बॉल रेसिपी बनाने की विधि

कुलथी दाल (Kulthi Dal) का उपयोग – How to Use Horse Gram

कुलथी की दाल के फायदों और इसमें मौजूद पोषक तत्वों को जानने के बाद इसका सेवन किस प्रकार किया जाए, यह जानना भी जरूरी है। इस बारे में हम यहां विस्तार से बता रहे हैं।

  • कुलथी दाल (Kulthi Dal/Horse Gram) को आप अन्य आम दाल की तरह बनाकर खा सकते हैं। हां इसे बनने में समय ज्यादा लगता हैं। इसके लिए आप आवश्यकतानुसार कुलथी दाल को रातभर पानी में भिगोकर रख दें और फिर अगले दिन बनाएं।Read this :Lemongrass Essential Oil
  • दक्षिण भारत में इसका इस्तेमाल रसम नामक खास व्यंजन बनाने के लिए किया जाता है।
  • कुलथी दाल (Horse Gram) को अंकुरित करके भी खा सकते हैं।
  • कुलथी की रोटियां महि मनाई जाती है। इसके लिए सबसे पहले कुलथी दाल को आटे की तरह पीसा जाता है। उसके बाद इसकी रोटियां बनाई जाती हैं।
  • कुलथी की दाल का इस्तेमाल कर लड्डू भी बनाए जा सकते हैं।
  • कुलथी की दाल को मिक्सी में पीस के दाल (दुबके) बनाकर भी खा सकते हैं।

आशा है कि कुलथी दाल के फायदों पर लिखा यह लेख आप सभी को पसंद आया होगा।

आप सभी पाठक इस बात का भी ध्यान रखें कि कुलथी की दाल लेख में शामिल शारीरिक समस्याओं का इलाज नहीं है। इसका सेवन बीमारियों से बचाव और उनके लक्षणों को कुछ हद तक कम करने में मददगार हो सकता है।

Leave a Reply