Benefits of Mosambi in Hindi | मोसंबी के फायदे | Mosambi Juice पीने के फायदे | रोजाना एक गिलास मौसंबी जूस

हेल्थ
benefit of mosambi sweet lemon juice
benefit of mosambi

Benefits of Mosambi in Hindi | sweet lemon juice benefits in hindi | मोसंबी के फायदे | Mosambi Juice पीने के फायदे | रोजाना एक गिलास मौसंबी जूस

मौसंबी का परिचय (Introduction of Mosambi)
Advertisement

mosambi : मौसंबी (sweet lime in hindi) को मीठा नींबू भी कहा जाता है। गर्मी के दिनों में प्यास बुझाने के लिए मीठे नींबू का जूस अमृत की तरह लगता है। मौसंबी में अनेक तरह के विटामिन्स होते हैं, इसमें कैल्शियम, प्रोटीन, फाइबर, आयरन, पोटाशियम, फॉस्फोरस भरपूर मात्रा में होते हैं। आपने भी मौसंबी को बहुत बार खाया होगा, लेकिन शायद आपको मौसंबी के जूस के बहुत सारे फायदों (mosambi benefits) की जानकारी नहीं होगी। आयुर्वेद के अनुसार, मीठा नींबू वात-पित्त-दोष ठीक करता है। इस लेख में आगे हम मौसंबी के अनजाने फायदों के बारे में चर्चा करेंगे।

यह भी पढ़े :  Summer fruit benefits : ये फल गर्मियों में शरीर में पानी की कमी नहीं होने देते हैं

मौसंबी क्या है? (What is Sweet Lime?)

मौसंबी (mosambi fruit) को मीठा नींबू भी कहते हैं।इसका वैज्ञानिक नाम सिट्रस लिमेटा है।लेकिन नींबू की अपेक्षा कई गुना अधिक लाभकारी है।मौसंबी का फल करीब एक महीने तक बिना बिगड़े सुरक्षित रह सकता हैं। गर्मी के दिनों में शरीर में पानी की कमी को पूरा करने में मीठा नींबू का जूस (mosambi juice) बहुत फायदेमंद होता है।

आपने अक्सर लोगों को गर्मी के चिलचिलाती महीनों के दौरान मौसंबी के जूस को पीते हुए देखा होगा । इसकी तासीर ठंडी होती है. गर्मियों में ये शरीर को ठंडक पहुंचाता है. मौसंबी विटामिन सी और पोटैशियम का एक समृद्ध स्रोत है.

फ्रेश और स्वादिष्ट होने के अलावा ये जूस शीतलन और औषधीय प्रभावों के लिए जाना जाता है । हालांकि मौसंबी का स्वभाव अम्लीय यानि एसिडिक होता है। मौसंबी के फल (Benefits of Mosambi in Hindi) का सूखा छिलका कमजोरी दूर करने के साथ-साथ वात को कम करने में भी मददगार होता है।

मौसमी की किस्में

मौसमी का उपयोग पोषक आहार के रूप में होता है। मौसमी की तीन किस्में-नेवल, जुमैका और माल्टा हैं। मौसमी की कलम लगाने से आजकल इसकी अनेक उपजातियां हैं। नेवल किस्म अमेरिका में उत्तम मानी जाती है। माल्टा का छिलका व रस लाल रंग का होता है।मौसमी का रस साबुन, शराब तथा अन्य पेयों में डाला जाता है। इसके छिलके से निकाला हुआ तेल जल्दी उड़ जाता है। इसलिए इसके तेल को जैतून के तेल के साथ मिलाकर उपयोग किया जाता है।

मौसंबी का पेड़ 6 मीटर तक ऊँचा और फैला हुआ होता है। यह कांटों से युक्त और हमेशा हरा रहता है। मौसंबी फल कच्ची अवस्था में हरे रंग का तथा पकने पर सुनहरा या नारंगी रंग का हो जाता है। फल के अन्दर चिकने, सफेद रंग के, तथा नुकीले बीज होते हैं। मौसंबी का रस शारीरिक शक्ति और भूख बढ़ाता है। इसी तरह मौसंबी में और भी बहुत सारे अनजाने गुण अलग – अलग बीमारियों के लिए फायदेमंद (benefit of mosambi) हैं

  मोसंबी के फायदे benefit of mosambi
मोसंबी के फायदे benefit of mosambi

मौसंबी जूस या मौसंबी के स्वास्थ्य लाभ

पाचन के लिए अच्छा – मौसंबी में फ्लेवोनोइड्स होते हैं जो पाचन में सुधार करने में मदद करते हैं. मौसंबी का जूस पीने से पाचन संबंधी किसी भी समस्या जैसे अपच और गैस्ट्रिक समस्याओं को दूर रखने में मदद मिलती है. ये हानिकारक टॉक्सिन को बाहर निकाले में मदद करता है जो कब्ज पैदा करते हैं. पाचन संबंधित समस्याओं का इलाज करने के लिए अपने जूस में एक चुटकी नमक मिला सकते हैं.

इम्युनिटी बढ़ाने के लिए – मौसंबी के जूस का नियमित रूप से सेवन करने से संपूर्ण स्वास्थ्य में सुधार होता है. मौसंबी विटामिन सी से भरपूर होता है जो आपकी इम्युनिटी को बेहतर बनाता है.

श्वसन संबंधी समस्याएं के लिए – मौसंबी में एंटी-कंजेस्टिव गुण होते हैं जो श्वसन संबंधी किसी भी समस्या को दूर रखते हैं.

कैंसर से लड़ता है – मौसंबी में लिमोनोइड्स होते हैं जो विभिन्न प्रकार के कैंसर से लड़ने में मदद करते हैं.

वजन घटाने में मदद करता है – अगर आप वजन कम करने के प्राकृतिक तरीके ढूंढ रहे हैं तो मौसंबी के जूस को पीने से मदद मिलेगी. मौसंबी के जूस में पानी और शहद मिलाकर सुबह सेवन कर सकते हैं. ये वजन कम करने में आपकी मदद कर सकता है.

किडनी को डिटॉक्सीफाई करने के लिए – मौसंबी में भरपूर मात्रा में पोटैशियम होता है जो संक्रमण को ठीक करने में मदद करता है. ये किडनी को डिटॉक्सीफाई करने में भी मदद करता है.

मोशन सिकनेस से राहत देता है – अगर आपको मोशन सिकनेस की समस्या है तो एक गिलास मौसंबी का जूस पीने से मदद मिल सकती है. ये आपको एसिडिटी और सीने में जलन से छुटकारा दिलाने में मदद करता है. मौसंबी का जूस आपके पेट को भी आराम पहुंचाता है.

नर्वस सिस्टम के लिए अच्छा – मौसमी आपके नर्वस सिस्टम के लिए बेहतरीन रूप से काम करता है. ये बुखार के इलाज में मदद करता है. ये मानसिक समस्याओं के इलाज के लिए भी फायदेमंद माना जाता है.

हाइड्रेशन के लिए – गर्मियों में डिहाइड्रेशन आम बात है. ऐसे में आप एक गिलास मौसंबी के जूस का सेवन कर सकते हैं. आप इसे अपने वर्कआउट सेशन के बाद भी ले सकते हैं, क्योंकि ये आपको फ्रेश और हाइड्रेट करता है.

अस्थमा से राहत – एक गिलास मौंसबी के जूस में जीरा और सोंठ का चूर्ण मिलाकर पीने से दमा की खांसी में राहत मिल सकती है.

पीलिया का इलाज करता है – मौंसबी पीलिया के लिए एक बेहतरीन इलाज माना जाता है. ये आपके लीवर सिस्टम में सुधार करता है और पीलिया का इलाज करता है. सिर्फ आपके स्वास्थ्य के लिए ही नहीं, ये आपकी त्वचा और बालों के लिए भी लाभदायक है

mosambi juice side effects in hindi मौसंबी के नुकसान /हानियां… 

पेट में अल्सर की समस्या – साइट्रिक एसिड मौजूद होने के कारण मौसंबी के जूस का अधिक सेवन पेट के अल्सर को बढ़ावा दे सकता है। जिससे हालत और गंभीर हो जाती है। इसके अलावा, मौसंबी के जूस के अधिक सेवन से आपको पेट में जलन की समस्या भी हो सकती है।

दांतों की समस्या – बार-बार कुछ ना कुछ खाने-पीने के बावजूद हम हर बार अपना मुंह धोने या कुल्ला करने से बचते हैं। जिससे मुंह में प्लाक जमा हो जाने के कारण दांतों में कैविटी की समस्या हो सकती है। साथ ही साइट्रिक एसिड की अधिक मात्रा के कारण मौसंबी के जूस का अधिक सेवन दांतों में कैविटी की समस्या को जन्म दे सकता है, जिससे सेंसटिविटी और दांत दर्द की समस्या भी झेलनी पड़ सकती है।

आयरन अधिक हो जाना – विटामिन सी की पर्याप्त मात्रा मौजूद होने के कारण मौसंबी के जूस का अधिक सेवन शरीर में आयरन की मात्रा को बढ़ा सकता है। जिसके परिणामस्वरूप आपको कमजोरी, जोड़ों में दर्द तथा हार्ट फेल होना जैसी गंभीर समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

किडनी को नुकसान – मौसंबी में प्रचुर मात्रा में पोटैशियम पाया जाता है। ऐसे में इसके जूस का सेवन किडनी से संबंधित किसी समस्या से ग्रस्त व्यक्ति के लिए हानिकारक हो सकता है। क्योंकि इस पोटैशियम तत्व को किडनी पेशेंट कंट्रोल नहीं कर पाता है। इसलिए इसके जूस का सेवन करने से पहले चिकित्सक की सलाह अवश्य ले लें।

एसिडिटी – जहां एक तरफ मौसंबी के जूस का सेवन पाचन तंत्र के लिए अच्छा माना जाता है, वहीं साइट्रिक एसिड और विटामिन सी युक्त मौसंबी के जूस का अधिक सेवन एसिडिटी की समस्या पैदा कर सकता है।

FAQ :

Q : मोसम्बी के पोषक तत्व कौन से हैं ?

Ans : इसमें कार्बोहाइड्रेट, पोटाशियम और विटीमिन सी पाया जाता है।

Q : मौसमी का जूस कब पीना चाहिए?

Ans : मौसमी का जूस आप सुबह के समय वर्कआउट के बाद पीएं।

Leave a Reply