Curry leaves : Use of curry leaves, health benefits and loss

हेल्थ

करी पत्ता किसे कहते है ?

करी पत्ता को मीठी नीम के नाम से जाना जाता हैं यह संगधीय श्रेणी का पौधा

Advertisement
है । करी पत्ता का Curry leaves botanical name है। करी पत्ते के पेड़ भारत और श्रीलंका में पाया जाते है। समान्यत: यह हिमालय के क्षेतरो में अधिक देखे जाते है।

इसका पौधा आस पड़ोस की बालकनियों या छतो में देखा जा सकता। यह आसानी से गमलों में उग जाता है, इसे हम दाल, करी, साम्भर तथा अन्य सब्जियों में खुशबू और स्वाद के लिए उपयोग करते हैं, अगर आप चाहें तो कढ़ी पत्ते की चटनी भी बनाकर खा सकते हैं। करी पत्ते में कैल्शियम, फास्फोरस, लोह, प्रोटीन और विटामिन ए, बी और सी पाए जाते हैं करी पत्ता पाचन संबंधी विकारों में बहुत उपयोगी माना जाता है

करी पत्ता में विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाया जाता है जो इम्यूमिनी को सुधारने में मदद करता है। इसके साथ ही करी पत्ते में पाए जाने वाले एंटीऑक्सीडेंट फ्री रडिकल से भी लड़ने में मदद करते हैं। करी पत्ते को एंटी- बैक्टीरियल, एंटी- माइक्रोबियल और एंटी- फंगल खूबियों के लिए भी जाना जाता है।

कढ़ी पत्ते में मौजूद एंटी- इंफ्लामेट्री कंपाउंड लिनालूल घाव और इंफेक्शन को कम करने में मदद करते हैं। करी पत्ते की खुशबू और सामग्री सभी प्रकार के बैक्टीरिया, फंगल और वायरल को मारने में मदद करते हैं जिससे आपको खांसी, जुखाम होने के आसार कम हो जाते हैं। खुले घाव या स्किन बर्न में करी पत्ते का पेस्ट बनाएं और रातभर घाव में लगा रहने दें।

तो जानते हैं कढ़ी पत्ते के क्या-क्या फायदे और नुक्सान है।

अगर आप किसी भी कारण से चिंता, परेशानियों या डिप्रेशन का सामना कर रहे हैं, तो करी पत्ता सूंगने से चिंता का स्तर कम हो जाएगा

कढ़ी पत्ते के फायदे

त्वचा संबंधी संक्रमण को करता है दूर

करी पत्ते के अंदर एंटीऑक्सीडेंट, एंटी बैक्टीरियल और एंटी फंगल तत्वों की बहुतायत होती है। इसलिए यह किसी भी किस्म के त्वचा संबंधी संक्रमण या फंगल इंफेक्शन को ठीक करने में मददगार साबित होता है।

वजन कम करने में मदद

करी पत्ते के फायदे वजन कम करने से भी जुड़े हुए हैं। करी पत्ता को डाइट में शामिल करने से आप आसानी से अपना वजन कम कर सकते हैं। इसलिए आयुर्वेद में करी पत्ता को जरुरी सामग्री के तौर पर इलाज के लिए इस्तेमाल किया जाता है। आयुर्वेद के रिसर्च में यह साबित किया गया है कि यह खुशबूदार होने के अलावा वजन कम करने में लाभदायक है।

समय से पहले बाल सफेद नहीं होते हैं

20, 30 साल की उम्र में बाल सफेद होना एक बहुत बड़ी समस्या है। इस समस्या से निकलने के लिए बहुत लोग बालों को कलर करते है परन्तु यह पक्का हल नहीं है। इस समस्या से बचने के लिए आप करी पत्ते को अपनी डाइट में शामिल करें। करी पत्ते विटामिन बी से भरपूर होता है जो बालों को सुरक्षित और मजबूत बनाता है।

करी पत्ता डायबिटीज और दिल की बीमारी में फायदेमंद होता है

करी पत्ता एंटीऑक्सीडेंट और विटामिन सी से भरपूर होता है जो ज्यादातर बीमारी और खासततौर पर डायबिटीज और दिल की बीमारी दूर रखने में मदद करता है। यह ब्लड शुगर लेवल सामान्य बनाए रखने में मदद करता है।

करी पत्ता कॉलेस्ट्रॉल कंट्रोल करने में सहायक

करी पत्ते से कॉलेस्ट्रॉल को कंट्रोल किया जा सकता है। करी पत्ता रक्त में एचडीएल यानी अच्छे कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ाकर कोलेस्ट्रॉल के स्तर को संतुलित बनाए रखता है.

करी पत्ते से होने वाले नुकसान

  • सैम सामान्यतय करी पत्ते का सेवन से किसी प्रकार का कोई नुकसान (साइड इफेक्ट) नहीं होता है। परन्तु फिर भी कुछ खास परिस्थितियों में में इसका उपयोग करना सेहत के लिए ठीक नहीं हेाता है।
  • गर्भवती और स्तनपान कराने वाली महिलाओं को करी पत्ते का उपयोग करने से पहले डाॅक्टर से सलाह जरूर ले लेनी चाहिए। क्योंकि इस अवस्था में इसका इस्तेमाल करने के कुछ दुष्परिणाम भी हो सकते हैं।     
  • किसी भी प्रकार के पौधों के पत्तों का उपयोग करने से एलर्जी हो सकती है। अगर आपको भी ऐसी कोई शिकायत है, तो करी पत्ते का उपयोग ना करे
  • अगर करी पत्ता युक्त तेल का उपयोग करने से आपके बाल झड़ने लगे हैं, तो इसका उपयोग करना बंद कर दें। क्योंकि कई करी पत्ता आयल सूट नहीं करता।

करी पत्ता कैसे खाना चाहिए

कोशिस करे की करी पत्ते को खाली पेट खाये इससे वजन कम होता है। अगर आपको पत्ते खाने में दिक्क्त है तो आप इसका पानी उबाल कर भी पी सकते है । उसके लिए पानी में 10 से 20 करी पत्ते उबाल लें अब हल्का ठंडा होने दे पी लें। इसके बाद इस पानी में कुछ बड़े नींबू की डाले और तोड़ा शहद भी मिलाये और पी ले। ऐसा रोजाना खाली पेट करे इससे एक्स्टा फैट ख़त्म हो जाता है

अगर आपके बाल (hair fall) बहुत गिर रहे है। तो करी पत्ता तेल (Curry Leaf Oil) और करी पत्ता हेयर मास्क (curry leaves hair oil) का उपयोग करे hair fall से आराम होगा

नारियल तेल में करी पत्ते को डालें और 5-7 मिनट तक गर्म करें। और जब तेल का रंग बदलने लगे तो इसे गैस से हटा दे आयल को छान ले और ठंडा होने के बाद तेल को उंगलियों की सहायता से बालों की जड़ों में लगाएं और धीरे-धीरे मसाज करें ताकि तेल अब्जॉर्ब हो जाए। करीब एक घंटे तक तेल लगे रहने दें फिर शैंपू से सिर धो लें।

कैसे बनाएं करी पत्ता हेयर मास्क

करी पत्ता हेयर मास्क के लिए करी पत्ता, आंवला और शिकाकाई पाउडर को मिक्स करें और इसे 1 कप पानी में लगभग 10 मिनट तक उबालें। जब यह मिश्रण पूरी तरह ठंडा हो जाए उसके बाद इसे अच्छे से मिक्स कर लें। अब इसे सर पर लगाए । एक घंटेबाद नॉर्मल पानी से सर साफ़ कर लें।

2 comments

Leave a Reply