DDC election : रविशंकर प्रसाद बोले- बुरहान वानी के गाँव में हारना कश्मीर की हवा का रुख बताता है

Top News
DDC चुनाव: रविशंकर प्रसाद बोले- बुरहान वानी के गाँव में हारना कश्मीर की हवा का रुख बताता है
Advertisement
DDC चुनाव: रविशंकर प्रसाद बोले- बुरहान वानी के गाँव में हारना कश्मीर की हवा का रुख बताता है

गुपकार गठबंधन को बुरहान वानी के गाँव में भी हार का सामना करना पडता है तो समझ लीजिए कि कश्मीर की हवा का रुख क्या है। उन्होंने याद दिलाया कि बुरहान वानी की मौत किस तरह इन्हीं दलों ने बड़ा मुद्दा बना दिया था।

उन्होंने जीत के आँकड़े साझा करते हुए कुछ इलाकों को चिह्नित किया और कहा कि इन इलाकों को हॉट बेड कहा जाता था। लेकिन यहाँ की जनता क्या चाहती है इसे समझना होगा।

उन्होंने अनुच्छेद 370 के बाद पहली बार प्रदेश में हुए चुनावों पर कहा कि यहाँ की जनता ने पहली बार ईमानदारी से चुनाव देखे। जब फारूख अब्दुल्ला जीते थे उस समय सिर्फ 7 फीसद वोटिंग हुई थी।


वह बोले कि जम्मू-कश्मीर की जनता ने आतंकियों को वोट के माध्यम से तमाचा मारा है। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटने के बाद यहाँ के लोगों ने जमीन पर विकास देखा।

कश्मीर के आवाम ने राज करने वाले और काम करने वालों के बीच अंतर को देखा। कश्मीर में पहली बार केंद्र का पैसा पंचायत में पहुँचा है।

प्रेस कॉन्फ्रेंस में रविशंकर प्रसाद ने निर्दलीय उम्मीदवारों की तारीफ की और इंजीनियर एजाज को लेकर कहा कि उन्होंने जीतने के बाद जो बोला वो कश्मीर की नई आवाज है। ये कश्मीर की नई शुरूआत है।

कश्मीर की जम्हूरियत नई अंगड़ाई ले रही है। लोकतंत्र आशा और उत्साह की अंगड़ाई ले रहा है।

बता दें कि इस बार डीडीसी चुनाव में 51 फीसदी वोटिंग हुई है। नतीजों से पता चला है कि इस बार भाजपा का वोट शेयर भी गुपकार गठबंधन से अच्छा है। जानकारी के मुताबिक बीजेपी का वोट शेयर 38.74 फीसदी है

और गुपकार गैंग का कुल वोट शेयर 32.96 फीसदी है। भाजपा को कुल 4,87,364 वोट मिले और एनसी, पीडीपी तथा कांग्रेस का कुल वोट मिलाकर 4,77,000 है, जो भाजपा के वोट से काफी कम है।

news by : opindia.com

Leave a Reply