क्या कुंदरू की सब्जी खाने से कुंद (बुद्धि नष्ट) हो जाती है ? जानिए- साइंस क्या कहता है

न्यूज़, हेल्थ

कुंदरू किसे कहते है ? कुंदरू में कौन कौन से पौष्टिक तत्व पाए जाते है ? What are the Nutrients and Minerals of Coccinia grandis in Hindi

Kundru : कुंदुरी या कुंदरू

Advertisement
(Coccinia grandis, Kovakka अथवा Coccinia indica) एक उष्णकटिबंधीय है। यह सारे भारत में स्वतः भी उगती है और कुछ जगहों पर इसकी खेती भी की जाती है। कुंदुरी या कुंदरू की जड़ें लंबी और फल 2 से 5 सें. मी. लंबे और1 से 2.5 सें. मी. व्यास वाले अंडाकार होते हैं। कुंदरू (Coccinia grandis, Kovakka,Coccinia,indica)फल कच्चा रहने पर हरे और सफेद धारियों से युक्त होता है।

कुंदरू (Kundru) पक जाने पर इसका रंग चटक सिंदूरी हो जाता है। कच्चे फल तरकारी बनाने के काम आते हैं और पकने पर ये ताजे भी खाए जाते हैं। कुछ लोग पके हुए फलों को शक्कर में पाग देते हैं।साइंस की मानें तो कुंदरू सब्जी बेहद पौष्टिक है। इसकी पत्तियों से लेकर जड़ और तना तक दवाएं बनाने के काम आता है।

अगस्त 2009 की एक स्टडी के मुताबिक, कुंदरू (Kundru)  ब्लड शुगर को लो करता है। आयुर्वेद और नैचरोपैथी में माना जाता है कि कुंदरू की पत्ती और जूस डायबीटीज में फायदेमंद होता है। इसके साथ ही कुंदरू की न्यूट्रीशनल वैल्यू काफी ज्यादा होती है। इसमें आयरन, कैल्शियम, विटामिन बी1, बी2 और फाइबर्स होते हैं।कुंदरू में फाइबर्स होते हैं।

कुछ रिसर्चेज के मुताबिक, कुंदरू खाने से कॉन्स्टिपेशन (कब्ज) की समस्या से राहत मिलती है।कई नैचरोपैथ्स मानते हैं कि रोजाना कुंदरू खाने से शरीर में कैंसर सेल्स नहीं बढ़ पातीं। हालांकि इसका कोई वैज्ञानिक प्रमाण नहीं है।

इस सब्जी का आयुर्वेदिक महत्व भी है, आयुर्वेद में इसे बिंबी फल के रूप में जाना जाता है। अन्‍य सब्‍जियों के मुकाबले कहीं ज्‍यादा हैं। स्‍वाद के साथ-साथ इसमें विटामिन और मिनरल का एक अच्छा स्रोत भी है। 100 ग्राम कुंदरू (Kundru)  की सब्‍जी में की लगभग 1.4 मिलीग्राम आयरन, 0/08 मिलीग्राम विटामिन बी-2 (राइबोफ्लेविन), 0.07 मिलीग्राम विटामिन-बी 1 (थियामिन), 1.6 ग्राम-फाइबर और 40 मिलीग्राम कैल्शियम होता है।

आज के इस लेख में मैं आपको कुंदरू खाने के फायदे, नुकसान और कितनी मात्रा में खाना चाहिए इस विषय (यानी कुंदरू के विषय में ) में तो आइये जानते है, कुंदरू के विषय में विस्तार से

कुंदरू के फायदे क्या है ? – What are the Benefits of Ivy Gourd in Hindi

ब्लड शुगर लेवल को कम करने में मदद करता है – प्राचीन काल से कुंदरू (Kundru)  का उपयोग भारत और श्रीलंका में मधुमेह के लिए एक आयुर्वेदिक दवा के रूप में किया जाता रहा है। इसके लंबे पतले स्टेम और नई पत्‍तियों को पकाया जाता है और दवा के रूप में सेवन किया जाता है। केलानिया विश्वविद्यालय द्वारा किए गए शोध के मुताबिक कच्ची कुंदरू (Kundru) की पत्‍तियों में रक्त शर्करा के स्तर को कम करने के गुण होते हैं।


मोटापा रोकने में मदद करें – कुंदरू की जड़ में मोटापा-रोधी गुण होता है। यह पौधा शरीर के मेटाबॉलिज्‍म को बढ़ाता है, जिससे मोटापे की बीमारी दूर होती है और ब्‍लड शुगर लेवल कंट्रोल में रहता है।


किडनी स्टोन को ठीक करें कुंदरू – किडनी स्टोन की बीमारी बहुत कष्टदायक होती है और अगर इसके शुरुवाती लक्षण आप में दिखाई दे रहे है तो आपको भोजन में कुंदरू का सेवन करना चाहिए। कैल्शियम युक्त भोजन का सेवन करने से गुर्दे की पथरी की समस्या कम होने लगती है। कुंदरू में अच्छी मात्रा में कैल्शियम होता है जो गुर्दे की पथरी को कम करने में मदद करता है। इसके अलावा अधिक पानी का सेवन करना चाहिए। कुछ सब्जिया जैसे पालक का अत्यधिक सेवन गुर्दे की पथरी का कारण बनती है। इसलिए पालक की सब्जी बहुत अच्छे से साफ कर सेवन करे।

थकान – आयरन की कमी से अक्सर शरीर में कमजोरी, गंभीर थकान और अन्य स्वास्थ्य संबंधी बीमारियां हो सकती हैं। कुंदरू में 1.4 मिलीग्राम आयरन होता है, जो दैनिक अनुशंसित मूल्य का 17.50% है। इसलिए कुंदरू (Kundru)  को अपनी डाइट में नियमित शामिल करने से आपकी फिटनेस का लेवल बढ़ सकता है।

मेटाबॉलिज्‍म को बनाए हेल्‍दी – थियामाइन कार्बोहाइड्रेट को ग्लूकोज में बदलने में मदद करता है, जो जिससे शरीर में ऊर्जा पैदा होती है। यह प्रोटीन और वसा को भी तोड़ने में मदद करता है। कुंदरू खाने के बाद रक्त और प्लाज्मा में थियामाइन मिल जाता है जो, ऊर्जा में परिवर्तित होता है। कुंदरू का उपयोग निरंतर ऊर्जा बढ़ाने के लिए किया जा सकता है।

​मिलता है ढेर सारा फाइबर​ – फाइबर युक्त आहार के मुख्य लाभ पाचन तंत्र के स्वास्थ्य में सुधार करना होता है। डाइटरी फाइबर आपके मल के वजन और आकार को बढ़ाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है और साथ ही इसे नरम भी बनाता है। कुंदरू का सेवन करने से बवासीर, गैस्ट्रो इसोफेगल रिफ्लक्स रोग और कब्ज आदि बीमारियों से बचा जा सकता है।

यदि आप अपने शरीर को ब्‍लड शुगर, मोटापा, पेट से जुड़ी समस्‍या, हृदय की बीमारी से बचाना चाहते हैं, तो कुंदरू (Kundru)  को अपनी डाइट में शामिल करें। आइए जानते हैं इसे खाने से हमारे शरीर को होने वाले लाभ।

कुंदरू के नुकसान क्या है ? – What are the Side-Effects of Ivy Gourd in Hindi

  • कुंदरू के फायदे तो बहुत है लेकिन अत्यधिक सेवन करने से कुछ नुकसान भी हो सकते है।
  • अगर आप किसी तरह की सर्जरी करवाने वाले है तो दो सप्ताह पहले इसका सेवन करना बंद कर दे, क्योंकि यह रक्त शर्करा के स्तर को कम करता है।
  • गर्भवती महिला और स्तनपान करने वाली महिला को इसका करने से बचना चाहिए। यह इनके लिए नुकसानदायक हो सकता है।
  • इसका अत्यधिक सेवन नहीं करना चाहिए, क्योंकि यह रक्त शर्करा को बहुत कम कर देता है।
  • कुछ लोगो में अधिक सेवन करने से व्यक्ति को मलती व उल्टी की समस्या हो सकती है।
Benefits of Ivy Gourd

Q : क्या कुंदरू की सब्जी खाने से कुंद (बुद्धि नष्ट) हो जाती है ? जानिए- साइंस क्या कहता है

Ans : अब सवाल ये उठता है कि कुंदरू को लेकर लोगों के मन में ये बात आई कैसे? जिन्हें पता न हो उनकी जानकारी के लिए बता दें कि चाणक्य नीति में एक श्लोक है जिसमें लिखा है कि तुंडी खाने से बुद्धि नष्ट हो जाती है। इस वजह से कई लोग कुंदरू खाने से परहेज करते हैं। 

किंग जॉर्ज मेडिकल कॉलेज की सीनियर डाइटीशियन दीप्ति श्रीवास्तव का कहना है कि चाणक्य के इस श्लोक का कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है जबकि सब्जी के फायदे जांचे-परखे हैं। किसी रिसर्च में अब तक ये बात सामने नहीं आई है कि कुंदरू (Kundru)  खाने से दिमाग को नुकसान पहुंचता है। उनका कहना है कि कुंदरू आसानी से पचने वाली सब्जी है। इसमें ऐंटीऑक्सीडेंट्स और फाइबर पाए जाते हैं

Q : कुंदरू खाने से दिमाग कम होता है क्या ?

Ans : नहीं कुंदरू खाने से दिमाग कम होता है अब सवाल ये उठता है कि कुंदरू को लेकर लोगों के मन में ये बात आई कैसे? जिन्हें पता न हो उनकी जानकारी के लिए बता दें कि चाणक्य नीति में एक श्लोक है जिसमें लिखा है कि तुंडी खाने से बुद्धि नष्ट हो जाती है। इस वजह से कई लोग कुंदरू खाने से परहेज करते हैं।

Q : कुंदरू का वैज्ञानिक नाम क्या है?

Ans : कुंदरू का वैज्ञानिक नाम कोकसीनिया कॉर्डिफोलिया () है। कहा जाता है सबसे पहले इस सब्जी की खेती अफ्रीका और एशिया में की गई है

अगर आपको कुंदरू का सेवन करने से स्वास्थ्य में किसी प्रकार की समस्या हो रही है, तो इसका सेवन करना बंद कर दे और अपने डॉक्टर से सम्पर्क करे। हमारा उद्देश्य आपको रोगो के प्रति जानकारी देना है हम आपको किसी तरह के दवा, या उपचार की सलाह नहीं देते है।

Leave a Reply