Dragon fruit ke fayde | All About Dragon Fruit in Hindi | dragon fruit ke fayde upyog aur nuksan in hindi | dragon fruit benefits | Kamalam ke fayde

हेल्थ
dragon fruit benefits | Kamalam ke fayde
dragon fruit benefits | Kamalam ke fayde

Dragon fruit ke fayde | All About Dragon Fruit in Hindi | dragon fruit ke fayde upyog aur nuksan in hindi | dragon fruit benefits | Kamalam ke fayde | ड्रैगन फ्रूट के फायदे, उपयोग और नुकसान

ड्रैगन फ्रूट क्या है? Dragon Fruits Meaning in Hindi

Dragon fruit :  फल हमारे शरीर को स्वस्थ रखते है आप सेब, केला, आम, कीवी और सीताफल जैसे फलों से तो परिचित होंगे, लेकिन यहां जिस फल की बात कर रहे हैं, उसके बारे में कम ही लोग जानते हैं।

Advertisement

इस फल का नाम है ड्रैगन फ्रूट। इसके रंग रूप को देखते हुए इसे यह नाम दिया गया है। क्या आपके ड्रैगन फ्रूट (Dragon fruit) का नाम सुना है। बहुत सारे लोग ऐसे हैं जिन्होंने शायद ही इस फल के बारे में सुना हो या इसे खाया हो।

ड्रैगन फ्रूट काफी महंगा होता है और हर जगह नहीं मिलता है । हालांकि ड्रैगन फ्रूट का उपयोग हमें स्वस्थ रखने के साथ-साथ कुछ शारीरिक समस्याओं से उबरने में भी किया जा सकता है। ड्रैगन फ्रूट (Dragon fruit) पोषकतत्वों से भरपूर फल है। ड्रैगन फ्रूट में ऐंटी-ऑक्सिडेंट्स, विटमिन सी और भरपूर फाइबर होता है।

इसके सेवन से हार्ट, डायबिटीज और कैंसर जैसी बीमारी से लड़ने में मदद करता है। ड्रैगन फ्रूट में लायकोपीन और बीटा कैरोटीन होता है। जिससे कैंसर और हार्ट डिजीज का खतरा कम होता है। की समस्या दूर हो जाती है। इससे इम्यूनिटी मजबूत होती है।

ड्रैगन फ्रूट एक फल है जिसे हिंदी में पिताया (Pitaya) के नाम से जाना जाता है। इसका रंग हल्का गुलाबी होता है। यह स्वाद में तरबूजे और किवी की तरह लगता है। ड्रैगन फ्रूट (Dragon fruit) का वैज्ञानिक नाम हिलोकेरेस अंडटस है। यह एक किस्म की बेल पर लगने वाला फल है, जो कैक्टेसिया फैमिली से संबंधित है।

यह उष्णकटिबंधीय क्षेत्रों में मिलता है इसके तने गूदेदार और रसीले होते हैं।यह फल बाहर से हॉट पिंक और पीले रंग के बल्ब की तरह दिखता है। इस पुरे फल के ऊपर हरी पत्तियां आग की लपटों की तरह लिपटी हुई होती है। इस फ्रूट का स्वाद मीठा होता है जो की रसदार होता है।इसका उपयोग मुरब्बा,जेली, सलाद और शेक बनाकर किया जा सकता है।

ड्रैगन पौधे (Dragon fruit) का नाम ग्रीक शब्द “हाइले” से आया है, जिसका अर्थ है “वुडी,” और लैटिन शब्द “सेरेस”, जिसका अर्थ है “मोम।इसकी मुख्य पैदावार अमेरिका और दक्षिण एशिया में की जाती है। इसके अलावा इसे पटाया, क्वींसलैंड, पश्चिमी ऑस्ट्रेलिया और न्यू साउथ वेल्स में भी उगाया जाने लगा है।

खास यह है कि इसके फूल बहुत ही सुगंधित होते हैं, जो रात में ही खिलते हैं और सुबह होने तक झड़ जाते हैं। इसके गुणों और फायदों को देखते हुए अब धीरे – धीरे पूरी दुनिया में इसकी खेती की जाने लगी है ।

dragon fruit benefits Kamalam ke fayde
dragon fruit benefits Kamalam ke fayde

लेकिन गुजरात सरकार ने इस फल (ड्रैगन फ्रूट) का नाम बदलकर ‘कमलम’ (Kamalam)रख दिया इसका ना बदलने का कारण यह था की किसी फ्रूट में ड्रैगन शब्द का इस्तेमाल ठीक नहीं लगता। यह फल कमल की तरह दिखाई देता है। इस वजह से इस फ्रूट का नाम संस्कृत शब्द ‘कमलम’ (Kamalam) रख दिया गया है।

ड्रैगन फ्रूट (Dragon fruit) दो प्रकार का होता है – सफेद गूदे वाला और लाल गूदे वाला। ड्रैगन फ्रूट स्वास्थ्य के लिए बहुत लाभदायक होता है। इसमें कई तरह के पोषक तत्व होते है।

जैसे कैल्शियम, विटामिन बी 3, आयरन, कार्बोहाइड्रेट, विटामिन बी 1, फास्‍फोरस, विटामिन बी 2, विटामिन सी 5 इत्यादि पोषक तत्व होते है। जो शरीर की रोगप्रतिरोधक क्षमता को बढ़ाने में सहायता करते है।

 dragon fruit benefits | ड्रैगन फ्रूट के फायदे

वजन कम करने में – ड्रैगन फ्रूट का सेवन करने से शरीर का वसा कम होता है। प्रोटीन मिलता है। जिससे वजन नहीं बढ़ता है। अपने सलाद में ड्रैगन फ्रूट का सेवन जरूर करे। (और पढ़े – मोटापा का इलाज क्या है)

अस्थमा में – ठंड के अस्‍थमा और खांसी जैसे श्वसन संबंधि परेशानियां घातक हो सकते हैं और हमारे दैनिक गतिविधियों को प्रभावित कर सकती हैं। इसका सही समय पर उपचार करना चाहिए। ड्रैगन फ्रूट में प्रचुर मात्रा में विटामिन सी होता है। जो अस्थमा के लिए बहुत फायदेमंद रहता है।

कैंसर से रोकथाम – ड्रैगन फ्रूट में फाइबर, कैल्शियम, फास्‍फोरस और विटामिन सी बी 2 भी होते हैं साथ ही वे तत्‍व भी होते हैं जो शरीर से विषाक्‍त (toxins) पदार्थों को हटाने में मदद करते हैं। जिससे कैंसर रोग पैदा नहीं होता है।

मस्तिष्क के लिए – ब्रेन से जुडी सभी बिमारियों में ड्रैगन फ्रूट लाभ पहुंचाता है। ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस से सिर्फ शारीरिक ही नहीं बल्कि मानसिक नुकसान भी बहुत होता है। जिसकी वजह से ब्रेन डिसफंक्शन जैसे : पार्किन्सन रोग, अल्जाइमर रोग व मिर्गी का दौरा भी पड़ने लगता है।

बालो के लिए – बालो की गिरती समस्या को रोकने के लिए ड्रैगन फ्रूट का सेवन करना चाहिए। इसमें कई तरह के पोषक तत्व उपस्थित रहते है। जो बालो की जड़ो को मजबूत करता है और बालो की गिरने की समस्या रोकता है।

कब्ज दूर करने में – कब्ज एक ऐसी समस्या होती है। जिसमे मल कडा और ठोस होता है। ड्रैगन फ्रूट में पानी की मात्रा अधिक होती है। यह व्यक्ति को हाइड्रेड रखता है। कब्ज को रोकता है। इसके अलावा चयापचय प्रणाली को बढ़ाने में और पाचन तंत्र में सुधार करने में मदद करते है।

त्वचा दूर करने में – त्वचा को सुंदर बनाने के लिए लड़किया बहुत से तरिके अपनाती है। ड्रैगन फ्रूट ऐसा फल है। इसमें उच्च मात्रा में विटामिन सी और ए होता है। जो त्वचा के मुहांसे को दूर करता है। जिससे त्वचा सुंदर नजर आने लगती है।

डायबिटीज कंट्रोल रखे – शुगर यानि डायबिटीज एक ऐसी बीमारी है। जिसमे रक्त शर्करा का स्तर सामान्य रहना अधिक जरुरी होता है। ड्रैगन फ्रूट में कई तरह के विटामिन व खनिज होते है। जो रक्त शर्करा के स्तर को नियंत्रित करते है। जिससे इंसुलिन बनने में सहायता मिलती है। अपने आहार में रोजाना ड्रैगन फ्रूट को शामिल करे।

पाचन क्रिया ठीक रखने में – शरीर में पाचन क्रिया का सही रहना बहुत जरुरी होता है। पाचन क्रिया को ठीक रखने के लिए ड्रैगन फ्रूट का सेवन करना चाहिए। इसमें उपस्थित फाइबर पाचन को सही से कार्य करने में सहायता करता है। कब्ज जैसी समस्या नहीं होती है।

गर्भावस्था में – ड्रैगन फ्रूट में आयरन होता है जो गर्भवती महिलाओं के लिए जरुरी है क्योंकि प्रेग्नेंसी के समय महिला में खून की कमी हो जाती है। इसका कारण है एनीमिया जिससे की जन्म के समय शिशु की मृत्यु, गर्भपात या समय से पहले प्रसव होने का खतरा होता है। अगर आपके मन में भी यह सवाल था की ड्रैगन फ्रूट गर्भावस्था में खाना चाहिए या नहीं तो आप इसे जरूर खा सकती है

dragon fruit ke fayde upyog aur nuksan in hindi
dragon fruit ke fayde upyog aur nuksan in hindi

ड्रैगन फ्रूट का चयन कैसे करें और लंबे समय तक सुरक्षित कैसे रखें? – How to Choose Dragon Fruit and Preserve It for a Long Time in Hindi?

ड्रैगन फ्रूट्स खरीदने के पहले कुछ जरुरी बातों का विशेष ध्यान रखना चाहिए। कैसे इसे ज्यादा समय तक सुरक्षित रख सकते है।

  • इसे खरीदते समय इसका रंग जरूर देख लें।
  • फल पर कोई दाग तो नहीं लग रहा है इस बात का विशेष ध्यान रखे क्योंकि फ्रूट संबंधी बीमारी या कीड़े नुकसान पहुँचा सकते है।
  • ड्रैगन फ्रूट को लम्बे समय तक सुरक्षित रखने के लिए इसे ठंडे स्थान पर रखे।
  • अगर इसे 7 से 10 डिग्री सेल्सियस और 90% से 98% आर्द्रता वाले स्थान पर रखा जाए तो यह फल 3महीने तक सुरक्षित रहता है।

ड्रैगन फ्रूट खाने का तरीका – How to Eat Dragon Fruit in Hindi

  • ड्रैगन फ्रूट को अलग – अलग तरीकों से खाया जा सकता है। आप इसे सीधे नहीं खाना चाहते तो विभिन्न तरीके आजमाकर भी खा सकते है।
  • इसे फ्रूट चाट में मिलाकर भी खा सकते है। कुछ तरह के फ्रूट्स की चाट बना लें और उसमें ड्रैगन फ्रूट के टुकड़े भी डालें।
  • सलाद के साथ भी यह स्वादिष्ट लगता है।
  • इसके टुकड़ों पर दही और कटे हुए मेवे डालकर खाएं।
  • अगर आप इसे सीधे ही काटकर खा सकते है तो ऐसे खा लीजिये।
  • इसका मुरब्बा बना लें और खाएं।
  • ड्रैगन फ्रूट्स की कैंडी भी बनती है।
  • अगर आपको शेक पसंद है तो शेक बनाकर पियें।
  • जेली बनाकर ब्रेड पर लगाएं और खाएं बच्चों को यह बहुत पसंद आएगी।

ड्रैगन फ्रूट के नुकसान क्या है ? What are the Side-Effects of Dragon Fruit in Hindi

  • वैसे तो ड्रैगन फ्रूट से अभी तक कोई नुकसान नहीं हुआ है फिर भी कुछ बातों पर ध्यान देना जरुरी है जिसकी वजह से कुछ तरह के नुकसान हो सकते है।
  • इस फल की बाहरी परत को ना खाएं क्योंकि इस पर किट लगे हुए होते है।
    ड्रैगन फ्रूट से वजन घटाने में मदद मिलती है लेकिन इसमें शुगर की मात्रा ज्यादा होती है जो स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है।
  • अगर आप रेड ड्रैगन फ्रूट ज्यादा ही खाते है तो आपके मूत्र का रंग पिंक और रेड हो जाएगा। आप एक सिमित मात्रा में ही इसका सेवन करे।

निष्कर्ष :
ड्रैगन फ्रूट्स (Dragon Fruit) खाने में जितना बढ़िया होता है उतने ही बढ़िया इसके फ़ायदे भी होते है आप भी इस शानदार फल को खा कर इसके लाभ प्राप्त कर सकते है यह प्रकृति का सबसे अद्भुत फल है इसे खाने से पहले अगर आप डॉक्टर से सलाह लेते है तो यह और भी अच्छा रहेगा।

FAQ :

Q : क्या मैं ड्रैगनफ्रूट रोज खा सकता हूं?

Ans : जी हां, आप ड्रैगन फ्रूट रोज खा सकते हैं।

Q : क्या ड्रैगन फ्रूट किडनी के मरीजों के लिए लाभदायक है?

Ans : जी हां, लाल ड्रैगन फ्रूट का उपयोग किडनी (रीनल फंक्शन) को उच्च कार्बोहाइड्रेट्स और उच्च फैट वाली डाइट के प्रभाव से बचाने में मदद कर सकता है

Q : ड्रैगन फल क्या काम में आता है?

Ans : ड्रैगन फ्रूट में लायकोपीन और बीटा कैरोटीन होता है जिससे कैंसर और हार्ट डिजीज का खतरा कम करने के काम में आता है.

Q : ड्रैगन फ्रूट का हिंदी में क्या नाम है?

Ans : ड्रैगन फ्रूट का नाम बदलकर किया ‘कमलम’, कर दिया है । लेकिन यह संस्कृत नाम है इसे हिंदी में हिंदी में पिताया (Pitaya) के नाम से जाना जाता है।

Q : ड्रैगन फ्रूट की कीमत क्या है?

Ans : ड्रैगन फ्रूट की कीमत 200 से 250 रुपये प्रति किलो है।हालांकि इसकी कीमत हर अलग अलग जगह में अलग है ।

Leave a Reply