Fennel Seeds Use, health Benifits And Side Effect in Hindi | What is Saunf | सौंफ का उपयोग

हेल्थ
what is fennel seeds
what is fennel seeds

Fennel Seeds Use, health Benifits And Side Effect in Hindi | What is Saunf | सौंफ का उपयोग

Fennel Seeds : खाना खाने के बाद माउथ फ्रेशनर के रूप में भी सौंफ (Fennel seeds) का सेवन प्रचलित है। लगभग हर छोटे-बड़े रेस्टोरेंट में आपको यह मिल जाता है। दरअसल, सौंफ औषधीय गुणों से भरपूर होता है। जीरे की तरह दिखने वाले सौंफ का भारतीय रसोई में दिखना आम बात है।

Advertisement

सौंफ एक मसाला होता है जिसका उपयोग भारतीय रसोई में सदियों से होता आ रहा है। सौंफ केवल खाने के स्वाद को ही बढ़ाने का काम नहीं करती बल्कि सेहत के लिए भी काफी फायदेमंद मानी जाती है। सौंफ (Fennel seeds)का उपयोग व्यंजनों, माउथ फ्रेशनर के रूप में और चाय में होता है। सौंफ को आयुर्वेद में औषधी के रूप में भी इस्तेमाल किया जाता है।

Saunf : विशेषज्ञ कहते हैं कि सौंफ के उबले पानी और सूप के सेवन से पेट फूलने, कब्ज, अपच और एसिडिटी जैसी पाचन संबंधी समस्याओं से राहत मिल सकती है। इसके बीजों का इस्तेमाल दर्द निवारक के रूप में भी किया जाता है। साथ ही यह सूजन को कम करने और वजन घटाने में भी सहायक है। आप मुंह की बदबू दूर करने के लिए भी इसका इस्तेमाल माउथ फ्रेशनर के रूप में कर सकते हैं।

Fennel Seeds : सौंफ में कैल्शियम, सोडियम, आयरन, मैग्नीज, जिंक और पोटैशियम जैसे तत्व पाए जाते हैं, जो शरीर को कई बीमारियों से बचाने में मदद करते हैं। सौंफ में मौजूद गुण मोटापा घटाने में सहायक होते हैं। फाइबर से भरपूर सौंफ तेजी से वजन कम करने में कारगार होता है। सौंफ पाचनतंत्र का ख्याल रखने और मेटाबोलिज्म में सहायता करती है।

सुबह खाली पेट सौंफ का पानी पीने से आपका पेट लंबे लमय तक भरा रहता है और आप ज्यादा खाना खाने से बचते हैं, जो वजन कम करने में कारगार होता है। इस लेख में वजन कम करने के लिए सौंफ के फायदों के बारे में बताया गया है।

सौंफ क्या है (What is Saunf?)

सौंफ (fennel seeds in hindi) का उपयोग प्राचीन काल से मुंह को शुद्ध (Mouth Freshner) करने और घरेलू औषधि के रूप में होता आ रहा है। इसका पौधा लगभग एक मीटर ऊंचा तथा सुगन्धित होता है। इसके पत्तों का प्रयोग सब्जी के रूप में भी किया जाता है। भूमध्यसागरीय इलाके में सौंफ जैसा ही एक पौधा (fennel in hindi) पाया जाता है जिसे एनीसीड (aniseed) कहते हैं। इसका उपयोग इटालवी भोजन में किया जाता है।

what is fennel seeds
what is fennel seeds

सौंफ का उपयोग – Fennel Seeds For Weight Loss In Hindi

दिल के लिए भी है फायदेमंद – सौंफ पोटैशियम के साथ-साथ फाइबर का एक अच्छा स्रोत होता है, जो उच्च रक्तचाप और कोलेस्ट्रॉल को नियंत्रित करने में मदद करता है। इससे हार्ट अटैक (दिल का दौरा) और स्ट्रोक के होने का खतरा भी कम हो जाता है।

सौंफ में मौजूद होता है फाइबर (Full of fiber)- सौंफ में फाइबर होता है जिसके सेवन से भूख कम लगती है और आप लम्बे समय तक भरा हुआ महसूस करते हैं। यह वजन कम करने में सहायक होता है।

शरीर से टॉक्सिन्स निकालने में मददगार (Clears out toxins)- सौंफ के रोज़ाना सेवन से शरीर डेटॉक्स होता है जो शरीर में जमे विषाक्त पदार्थ को निकालने में सहायक होता है। यह पाचनतंत्र को मजबूत करता है।

एंटी-ऑक्सीडेंट्स गुणों से भरपूर (Full of anti-oxidants)- सौंफ में जिंक, फॉस्फोरस, सेलेनियम, मैगनीज और एंटीऑक्सीडेंट तत्वों होते हैं। यह रोग प्रतिरोधक क्षमता को मजबूत बनाने में सहायक होती है। यह इम्यूनिटी बढ़ाने का एक शानदार तरीका है। ऐसे में नियमित तौर पर खाली पेट सौंफ का सेवन करने से फायदे होते हैं।

मेटाबोलिज्म में सुधार करे (Improves Metabolism)-सौंफ का सेवन मेटाबोलिज्म में सुधार कर सकता है। यह नेचुरल फैट बर्नर की तरह काम करता है। सौंफ या सौंफ की चाय मोटापा कम करने में मददगार साबित हो सकते हैं।

हड्डियों के लिए भी फायदेमंद है सौंफ – सौंफ में केवल कैल्शियम ही नहीं बल्कि मैग्नीशियम, फास्फोरस और विटामिन-के भी पाए जाते हैं, जो हड्डियों को मजबूत करने में उपयोगी होते हैं। जिन लोगों को अन्य स्रोतों से कैल्शियम उचित मात्रा में नहीं प्राप्त होता है, सौंफ का सेवन उनके लिए ज्यादा फायदेमंद होता है

सौंफ के अन्य फायदे

  • सौंफ के सेवन से लिवर संबंधी बीमारियों के होने का खतरा कम रहता है।
  • यह अच्छी नींद लाने में भी उपयोगी हो सकता है।
  • यह बालों को मजबूत बनाता है और उन्हें झड़ने से रोकने में भी मदद करता है।
  • दिमाग को तेज करने के लिए भी आप सौंफ का सेवन कर सकते हैं।

सौंफ के नुकसान क्या हैं?

विशेषज्ञ कहते हैं कि स्तनपान करा रही महिलाओं के लिए सौंफ का सेवन उचित नहीं माना जाता। इससे उन्हें अनेक स्वास्थ्य संबंधी समस्याएं हो सकती हैं। इसके अलावा एक बात का और ध्यान रखें कि अधिक मात्रा में सौंफ का सेवन बिल्कुल न करें, वरना यह फायदे की जगह नुकसान पहुंचा सकता है।

सौंफ के सेवन का सही तरीका क्या है?

खाना खाने के बाद एक चम्मच सौंफ का बीज लेकर उसे चबाकर खाएं। इससे पाचन शक्ति में तो सुधार होता ही है, साथ ही पेट दर्द और सूजन से भी राहत मिलती है। अगर आप अपच की समस्या से पीड़ित हैं तो सौंफ की चाय पी सकते हैं या एक से डेढ़ चम्मच सौंफ के पाउडर का सेवन हल्के गर्म पानी के साथ दिन में दो बार कर सकते हैं।

सौंफ के सेवन की मात्रा (How Much to Consume Saunf?)

रस – 5 मिली

काढ़ा – 15-30 मिली

चूर्ण – 2 ग्राम

सौंफ के सेवन का तरीका (How to Use Saunf?)

अधिक लाभ के लिए चिकित्सक के परामर्शानुसार ही सौंफ (sounf) का सेवन करें।

सौंफ कहां पाया या उगाया जाता है (Where is Saunf Found or Grown?)

पूरे भारत में समुद्र तल से 1800 मीटर की ऊँचाई तक सौंफ की खेती की जाती है।

Leave a Reply