KBC के इस सवाल पर मचा बवाल, Amitabh Bachchan के खिलाप FIR

Top News
fir registered  Amitabh bachchan show kbc
fir registered Amitabh bachchan show kbc
Imagesource : bookmyshow

FIR registered against amitabh bachchan show kbc for controversial question

टेलीविजन का पॉपुलर शो ‘कौन बनेगा करोड़पति’ (Kaun Banega Crorepati) हमेसा से अपने सवालो और इनाम जीतने वालों को लेकर विवादों /चर्चा में रहा है

लेकिन इस बार केबीसी (Kaun Banega Crorepati) एक सवाल की वजह से उठे विवाद के कारण बहुत ही चर्चा में है. लोग सोशल मीडिया पर अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) को लेकर अपना गुस्सा निकाल रहे है

Advertisement

इससे पहले भी लोगो द्वारा केबीसी (Kaun Banega Crorepati) के दौरान पूछे जाने वाले सवालों को लेकर कई लोग आपत्ति जता चुके हैं. लेकिन इस बार विवाद इतना बढ़ गया है कि एक शख्स ने तो

अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) और कार्यक्रम (Kaun Banega Crorepati) के खिलाफ ही महाराष्ट्र के लातूर में पुलिस में मामला दर्ज करा दिया है.

कौन बनेगा करोड़पति शो के दौरान अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ने कर्मवीर एपिसोड में मनुस्मृति से संबंधित प्रश्न पूछा था।. इस कार्यकर्म (एपिसोड) में सामाजिक कार्यकर्ता वेजवाड़ा विल्सन और अभिनेता अनूप सोनी आये थे। बहुत से लोग ने मनुस्मृति से संबंधित प्रश्न को लेकर बवाल सुरु कर दिया हैं. अब सोशल मीडिया से लेकर हर जगह इसकी चर्चा हो रही है.

बॉलीवुड सुपरस्टार अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) के खिलाफ भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) विधायक अभिमन्यु पवार ने एफआईआर दर्ज करवाई है। पवार ने अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) पर हिंदू धार्मिक भावनाओं को भड़काने का आरोप लगाते हुए ये एफआईआर महाराष्ट्र के लातूर में दर्ज कराई है।

“अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ने शो के दौरान हिन्दू धार्मिक भावनाओं को आहत किया”

अपनी लिखित शिकायत में बीजेपी विधायक अभिमन्यु पवार ने कहा है कि सोनी टीवी पर प्रसारित होने वाले कार्यक्रम केबीसी (Kaun Banega Crorepati) में अमिताभ बच्चन के एक सवाल से हिंदू धार्मिक भावनाएं आहत हुई हैं।

शो में पूछे थे ये सवाल

दरअसल अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ने अपने शो में सवाल पूछा था कि 25 दिसंबर 1927 को डॉ भीमराव अंबेडकर और उनके अनुयायियों ने इनमें से कौन से धर्मग्रंथ की प्रतियां जलाई थी ? साथ ही सवाल के विकल्प इस प्रकार दिए गए थे 1. विष्णु पुराण, 2. श्रीमद भगवत गीता, 3. ऋग्वेद, 4. मनुस्मृति

शिकायत में भाजपा विधायक पवार ने कहा है कि ये चारों विकल्प हिंदू धर्म से जुड़े ग्रंथों के हैं। अगर उनकी मंशा हिन्दुओ की भावनाओ को आहत करने वाली नहीं थी तो उन्हें चारों विकल्प में अलग-अलग धर्म ग्रंथों का नाम भी देना चाहिए था। लेकिन यहां सिर्फ हिंदू धर्म के ग्रंथों का ही जिक्र किया गया।

कौन है अभिमन्यु पवार

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस के बेहद करीबी और फडणवीस के पीए रह चुके अभिमन्यु पवार के अनुसार यह एक सोची समझी साजिश के तहत किया गया है। जिससे सांप्रदायिक माहौल को खराब किया जा सके।


धार्मिक भावनाएं आहत करने का आरोप

इस सवाल का जवाब देने के बाद, अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) ने यह भी कहा कि 1927 में डॉ. बी. आर अंबेडकर ने जातिगत भेदभाव और छुआछूत को वैचारिक रूप से सही ठहराने के लिए प्राचीन हिंदू ग्रंथ ‘मनु स्मृति’ की निंदा की थी और उन्होंने इसकी प्रतियां जला दी थीं।

तब से ही यह सवाल नेटिजन्स को पसंद नहीं आया, कई लोगों ने शो पर वामपंथी प्रचार करने के आरोप लगाने शुरू कर दिए हैं. जबकि अन्य ने इसे हिंदू भावनाओं को आहत करने वाला बताया है।

पुलिस में मामला दर्ज

इस सवाल के खिलाफ ‘कौन बनेगा करोड़पति’ (Kaun Banega Crorepati) और इसके मेजबान अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) के खिलाफ लखनऊ में एक प्राथमिकी (FIR) भी दर्ज की गई है।

हैरानी की बात है अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) जिनको महानायक कहा जाता है वह भी हिन्दू धर्म ग्रंथो पर इस प्रकार सवाल करेंगे। बच्चन (Amitabh Bachchan) साहब से जब बोलने की उम्मीद की जाती है तब तो बोला नहीं जाता उस समय श्री मति बच्चन (jyaa Bachchan) बोलती है और वह भी विपरीत बात बोलती है।

इससे पहले भी देखा गया है की अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) जब भी बोला हिन्दुओ और हिन्दू धर्मग्रंथो,तथा हिन्दुओ की आस्थाओ पर ही सवाल किया है।

अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) से एक सवाल है मेरा क्या सिर्फ फिल्मो में ही हिंदुत्व का दिखावा करना है या हकीकत में भी

हिंदुत्व के लिए खड़े होना है। बच्चन (Amitabh Bachchan) ये डोलत भी यही रहेगी ये शोहरत भी यही रहेगी। आपके साथ आपके अच्छे कर्म जायेगे जो व्यक्ति लोगो की दुवाओ से स्वस्थ हो सकता है। उसे लोगो के प्रति सम्मान रखना चाहिए ना की भड़काऊ बयान बाजियां करनी चाहिए ।

Leave a Reply