Food Allergy | foods make you allergenic here are symptoms | most common food allergies | you must know about these food allergies | Allergy Me Kya Khana Chahiye Aur Kya Nahi

हेल्थ
Food Allergy
Food Allergy

Food Allergy | foods make you allergenic here are symptoms | most common food allergies | you must know about these food allergies | Allergy Me Kya Khana Chahiye Aur Kya Nahi | खाद्य समूह जो आपकी एलर्जी को बढ़ा सकते है

Advertisement

Food Allergy – स्वास्थ्य विशेषज्ञों के अनुसार जब शरीर का इम्युन सिस्टम कुछ भी खाने या पीने के सामान को असामान्य तरीके से प्रतिक्रिया देता है तो उसे फूड एलर्जी (Food Allergy) कहते हैं।

इस वजह से कई लोगों को ओरल एलर्जी सिंड्रोम की परेशानी देखने को मिलती है।जबकि गंभीर स्थिति में फूड एलर्जी जानलेवा भी साबित होती है।आंकड़ों के मुताबिक 40 साल से कम उम्र के करीब 3 फीसदी भारतीयों को किसी न किसी फूड्स से एलर्जी होती ही है।

क्यों होती है फूड एलर्जी

विशेषज्ञों के अनुसार देश में लोगों की खराब लाइफस्टाइल, स्ट्रेस, नींद की कमी और धूल-मिट्टी एलर्जी होने की प्रमुख वजहों में से हैं। इसके अलावा, अधिकांश लोग फूड पैकेट्स में छपी वार्निंग और लेबल को नहीं पढ़ते हैं जिस वजह से फूड एलर्जी (Food Allergy) की पहचान नहीं हो पाती है। इसके अलावा खराब इम्युनिटी की वजह से भी फूड एलर्जी (Food Allergy) होने का खतरा रहता है।

क्या हो सकती है परेशानी

हेल्थ एक्सपर्ट्स के मुताबिक फूड एलर्जी (Food Allergy) की वजह से स्किन प्रभावित हो सकती है। साथ ही, गैस्ट्रोइंटेस्टिनल ट्रैक्ट, रेस्पिरेटरी या कार्डियोवास्कुलर सिस्टम से जुड़ी दिक्कतें हो सकती हैं। इससे सूजन, खुजली, रैशेज, उल्टी की शिकायत भी होती है। अनेक बार खतरनाक स्थिति में सांस लेने में परेशानी, निगलने या बोलने में दिक्कत और बेहोशी भी हो सकती है।

हम जो खाते हैं उसका हमारी एलर्जी पर भी महत्वपूर्ण प्रभाव पड़ता है। कुछ खाद्य पदार्थ एलर्जी (Food Allergy) पैदा कर सकते हैं जबकि कुछ एलर्जी के लक्षणों को कम करने में मदद कर सकते हैं। कुछ खाद्य पदार्थ पहले से मौजूद एलर्जी (Food Allergy) को और अधिक बड़ा भी सकते है। इस लेख में, हम एलर्जी की प्रतिक्रिया होने पर बचने के लिए खाद्य पदार्थों पर चर्चा करते हैं। तो आइये आज के इस ब्लॉग पोस्ट में जानते है, की सामान्तय लोगो को कौन – कौन फूड्स से एलर्जी का खतरा हो सकता है।

खाद्य पदार्थ जो एलर्जी को बढ़ा सकते हैं।

डेरी प्रोडक्ट – यदि आप एलर्जी से पीड़ित हैं तो दूध, मक्खन, पनीर आदि जैसे डेयरी उत्पाद आपके लिए अच्छे नहीं हो सकते हैं। डेयरी उत्पाद विशेष रूप से पनीर आपकी एलर्जी को और खराब कर सकता है क्युकी पनीर विशेष रूप से हिस्टामाइन के उत्पादन को गति प्रदान (बढ़ावा ) कर सकता है। हिस्टामाइन एक एलर्जी की प्रतिक्रिया के रूप में कोशिकाओं द्वारा जारी यौगिक हैं और एलर्जी के लक्षण पैदा करने के लिए जिम्मेदार हैं।

अंडा – अंडे में मौजूद प्रोटीन कोनैल्ब्यूमिन, ओव्यूम्यूकॉयड और ओवैल्ब्यूमिन लोगों में एलर्जी को ट्रिगर कर सकते हैं। वयस्कों से ज्यादा बच्चों में अंडा खाने से एलर्जी हो सकती है। इससे anaphylaxis का खतरा होता है जिससे बीपी अचानक घट सकता है, सांस लेने में परेशानी, उल्टी, स्किन रैश जैसी दिक्कत हो सकती है।

शराब – यदि आप एलर्जी का अनुभव कर रहे हैं तो विशेष रूप से शराब से बचना चाहिए। पनीर के समान, वाइन और अन्य अल्कोहल हिस्टामाइन के उत्पादन को बढ़ावा देते हैं। कोशिकाओं में हिस्टामाइन का उत्पादन सिरदर्द, चकत्ते, छींकने आदि जैसी एलर्जी का कारण बनता है।

मूंगफली – पीनट एलर्जी लोगों में बेहद आम है, कुछ लोगों को मूंगफली खाने से, उन्हें छूने वाले अन्य लोगों से, और हवा में मौजूद प्रोटीन के कणों के बीच सांस लेने से एलर्जी हो सकती है। इस वजह से गले में सूजन, ब्रीदिंग प्रॉब्लम, त्वचा में चकते और मुंह में खुजली हो सकती है।

मसालेदार भोजन – बहती नाक से पीड़ित होने या साइनस को जड़ से ख़त्म करने के लिए अक्सर मसालेदार भोजन (गर्म खाने ) को अधिक महत्व दिया जाता है,लेकिन अगर आप एलर्जी से पीड़ित हैं तो वे आपके लिए उपयुक्त नहीं हो सकते हैं। मसालेदार भोजन सूजन को बढ़ावा देते हैं और नाक और गले में जलन भी पैदा करते हैं। मसालेदार भोजन डेयरी और अल्कोहल के समान होते हैं और हिस्टामाइन के उत्पादन में सहायता करते हैं।

लाल मांस – रेड मीट एक अन्य खाद्य समूह है जिसे एलर्जी से पीड़ित होने पर पूरी तरह से बचना चाहिए। रेड मीट में भड़काऊ गुण होते हैं और यह आपके एलर्जी से पीड़ित लक्षणों को काफी खराब कर सकते है

Food Allergy
Food Allergy

फल – यह चौंकाने वाला हो सकता है लेकिन फल वास्तव में आपकी एलर्जी को बढ़ा सकते हैं। ताजे फल पराग में प्रचुर मात्रा में होते हैं जो पहली बार में आपकी एलर्जी का कारण भी हो सकते हैं।पराग एलर्जी बहुत आम है और पराग अन्य एलर्जी को भी खराब कर सकता है। हालांकि सभी फल खतरनाक नहीं होते हैं,

आपको ऐसे खाद्य पदार्थों का उओयोग करते समय ध्यान देना चाहिए जो हिस्टामाइन उत्पादन को बढ़ावा देते है। क्युकी हिस्टामाइन एक एलर्जी की प्रतिक्रिया के रूप में कोशिकाओं द्वारा जारी यौगिक हैं और एलर्जी के लक्षण पैदा करने के लिए जिम्मेदार हैं।

मछली – एक्सपर्ट्स के मुताबिक फिश एलर्जी कई बार जानलेवा भी साबित होती है। इससे गले में सूजन, दस्त, उल्टी, स्किन इरिटेशन, ब्लड प्रेशर में गिरावट हो सकती है।

सब्ज़ियाँ – ताजे फलों की तरह, ताजी सब्जियां भी पराग में प्रचुर मात्रा में होती हैं जो कई में एलर्जी और पहले से मौजूद एलर्जी को ट्रिगर करती हैं। हालाँकि, सब्जियों को हमारे आहार से पूरी तरह से बाहर नहीं किया जा सकता है। इसलिए, आपको सब्जियों का सेवन करने से पहले अच्छी तरह से पकाने चाहिए। साथ ही जिन कच्ची सब्जियो और सलाद से आपको एलर्जी है उनसे बचें।

दूध – कई बच्चों को गाय के दूध से एलर्जी होती है, इससे पेट में दर्द, डायरिया और वोमिटिंग जैसी दिक्कत हो सकती है।

सोयाबीन – सोयाबीन से लोगों को कई तरह की एलर्जी हो जाती है जिस वजह से रैशेज, क्रैम्प्स, जीभ, होंठ, हाथ-पैर और आंखों में सूजन आ सकती है।

you must know about these food allergies
you must know about these food allergies

FAQ :

Q : एलर्जी होने पर क्या नहीं खाना चाहिए?

Ans :एलर्जी से पीड़ित लोगों को मैकाडामिया नट्स, ब्राजील नट्स, बादाम, अखरोट और पिस्ता जैसे ट्री नट्स से बचने की सलाह दी जाती है।

Q : बार बार एलर्जी क्यों होती है?

Ans : शरीर में एलर्जी कई कारणों से होती है. कुछ लोगों को फूलों से, कुछ को मिट्टी और जानवरों से एलर्जी होती है. अधिकांश तौर पर लोगों को खाने-पीने की चीजों से भी एलर्जी होती है. वहीं कुछ ऐसे लोग भी होते हैं, जिन्हें कोई धातु पहनने पर या छूने पर एलर्जी हो जाती है या फिर किसी कीड़े के डंक मारने पर एलर्जी हो सकती है.

Q : एलर्जी को कैसे पहचाने

Ans :एलर्जी के लक्षण इस बात पर निर्भर करते हैं कि व्यक्ति को किस चीज़ से एलर्जी है और साथ ही वह कैसे उसके संपर्क में आया है। अगर व्यक्ति को संभावित पदार्थ खाने में दिया जाए तो उसे पेट और सांस से जुड़ी समस्याएँ हो सकती है।इसके अलावा त्वचा में खुजली, चेहरे की सूजन और घबराहट जैसी समस्या हो सकती ऐसे में तुरंत डॉक्टर से सम्पर्क करे

अंत में, आप केवल अपने खाने के माध्यम से अपनी एलर्जी को कम कर सकते हैं। यह ध्यान रखना सुनिश्चित करें कि कौन से ऐसे खाद्य पदार्थ है जो आपकी एलर्जी का कारण बन सकते हैं ताकि उनसे बचा जा सके। साथ ही उन खाद्य पदार्थो का अधिक उपयोग करे जो आपकी एलर्जी को कम कर एनर्जी और इम्युनिटी को बढ़ा सकते हैं

यह जानकारी केवल एक सामान्य जानकारी एवं सलाह है। यह किसी भी तरह से योग्य चिकित्सा राय का विकल्प नहीं है। अधिक जानकारी के लिए हमेशा किसी विशेषज्ञ या अपने डॉक्टर से सलाह लें। साथ ही अगर आपको यह जानकारी उपयोगी लगी हो तो अपने अन्य मित्रो के साथ भी साझा करे

Leave a Reply