Mahatma Gandhi Jayanti: क्या सच में महात्मा गांधी इस जानवर का दूध पीते थे,मिलते हैं कमाल के फायदे

हेल्थ

Mahatma Gandhi Jayanti: आखिर किसके कहने पर महात्मा गांधी ने जानवर के दूध का सेवन करने की बात मानी. जानें यहां
Advertisement

Mahatma Gandhi Jayanti : हर साल पूरे भारत में 2 अक्टूबर को महात्मा गांधी की जयंती (Gandhi Jayanti 2021) मनाई जाती है। इस बार देश बापू की 152वीं गांधी जयंती मना रहा हैं। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी (Mahatma Gandhi)का जन्म 2 अक्टूबर 1869 को गुजरात के पोरबंदर में हुआ था। उन्होंने अहिंसा के दम पर देश का आजादी दिलाने में बड़ा योगदान दिया। उनके जीवन से युवाओं को बहुत सी प्रेरणा मिलती हैं।

भारतीय स्वतंत्रता की मशाल लिए महात्मा गांधी हमेशा मजबूती से खड़े रहे. बुजुर्ग अवस्था में भी बापू काफी चुस्त और तंदरुस्त नजर आते थे.सादा जीवन उच्च विचार ये बापू के सिद्धांत थे। लोगों को सच्चा वीगन होने का अर्थ भी उन्होंने बताया। यहां तक की वह जानवरों का दूध भी नहीं पीते थे, क्योंकि उनका मानना था कि दूध पशुओं को दुहकर निकाला जाता है इसलिए वे यह भी मांसाहार होता है, ये भी पढ़ें:  A1 और A2 दूध में अंतर

इस जानवर का दूध पीते थे महात्मा गांधी

Goat Milk :  मगर फिर एक कारण से उन्होंने एक जानवर का दूध पीने का मन बनाया. इस जानवर के दूध से सेहत को कई बेहतरीन फायदे प्राप्त होते हैं. जिनके बारे में हेल्थ एक्सपर्ट भी बताते हैं.तो बापू कौन सा दूध पीते थे और इसके फायदे क्या है, आइए आपको बताते हैं.

Goat Milk : महात्मा गांधी शाकाहारी थे और अक्सर हरी पत्तेदार सब्जियां खाया करते थे। गांधी जी जब लंदन में थे तो वो कई जगह चल रही मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, गांधी जी लंदन में वेजिटेरियन सोसायटी (Vegetarian Society) का हिस्सा बन चुके थे, जिसके बाद उन्होंने किसी भी जानवर का दूध पीने से मना कर दिया था.

क्योंकि, उनका मानना था कि जानवरों से मिलने वाला दूध भी मांसाहार की श्रेणी में आता है. लेकिन मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जब बापू के स्वास्थ्य के लिए डॉक्टर्स ने उन्हें दूध का सेवन करने की सलाह दी, तो उन्होंने बकरी के दूध और बादाम के दूध (almond milk)का सेवन शुरू किया.बादाम के दूध में कोलेस्ट्रॉल और सैचुरेटेड फैट नहीं होता है और यह लैक्टोज मुक्त होता है। यह पूरी तरह वीगन होता है।

ये भी पढ़ें: जानें रात में गर्म दूध पीकर सोने के जबरदस्त फायदे

बकरी के दूध से मिलने वाले फायदे – Benefits of Goat Milk

  • एक्सपर्ट के मुताबिक, बकरी के दूध में स्वास्थ्य के लिए फायदेमंद कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटैशियम, कॉपर, जिंक, प्रोटीन, विटामिन ए, विटामिन बी और विटामिन सी मौजूद होता है.
  • बकरी का दूध (Goat Milk) जल्दी पच जाता है, क्योंकि इसमें फैट के globules गाय के दूध के मुकाबले छोटे होते हैं.
  • बकरी के दूध (Goat Milk) में मिल्क शुगर या लैक्टोज काफी कम होती है, जिस कारण लैक्टोज इनटॉलरेंस से ग्रसित लोगों के लिए भी यह सही विकल्प है.
  • बकरी के दूध में ‘A2 Casein’ प्रोटीन होता है. जिस वजह से प्रोटीन के मामले में इसकी मानव के ब्रेस्ट मिल्क से तुलना की जाती है.
  • बकरी का दूध (Goat Milk) शरीर में बुरे कोलेस्ट्रॉल का स्तर कम करता है और अच्छे कोलेस्ट्रॉल को बढ़ाता है.
  • बकरी के दूध में मौजूद triglycerides और फैटी एसिड त्वचा को मुलायम बनाने में मदद करते हैं. इसके साथ ही
  • इसमें मौजूद विटामिन-ए त्वचा की रंगत भी हल्की करता है.ये हार्ट के लिए फायदेमंद होता है।
  • बकरी के दूध मोटापा बढ़ने से रोकने, पचाने और एनीमिनया को भी रोकता है।
  • बापू पेय पदार्थ चाय-कॉफी से दूर रहते थे और सिर्फ जूस पिया करते थे। हफ्तों तक उपवास करने के बाद वह जूस पीकर ही अपना उपवास खोलते थे।
  • इसके साथ ही महात्मा गांधी के दिन की शुरुआत गुनगुने पानी में नींबू का रस और शहद डालकर पीने से होती थी। वह शाम को भी इसी तरह नींबू पानी पीते थे। ये भी पढ़ें: Health Care Tips: सरसों, चना और बथुआ का साग खाने के हैं गजब फायदे

Leave a Reply