Green tea pine ke fayde | Truths and Myths of Green| Green tea is Good or Bad ?

हेल्थ

An introduction to green tea

अगर आप इंटरनेट पर वजन कम करने के उपाय ढूंढ रहे हैं तो आपको कई सारे आर्टिकल ऐसे मिलेंगे जो इस बात का दावा कर रहे होंगे कि ग्रीन टी () पीने से वजन कम हो जाता है. वजन कम करने के लिए क्‍या चीजें खाएं की लिस्‍ट में भी ग्रीन टी का नाम शुमार है. लेकिन क्‍या ये बात सच है कि ग्रीन टी पीने से वजन सचमुच में कम हो जाता है या एक कोई मिथ है. कई लेख ऐसे दावे करते भी पाए जाते हैं कि ग्रीन टी पीने से कैलरीज जल्‍दी बर्न होती हैं

Advertisement

लेकिन अब तक ऐसी कोई वैज्ञानिक रिसर्च नहीं हुई है, जिससे इस बात की पुष्टि होती हो कि ग्रीन टी पीने से सचमुच में वजन कम होता है. यदि इस बात का कोई वैज्ञानिक आधार नहीं है तो इस दावे का आधार क्‍या है?आज मैं आपको sangeetaspen.com के माध्यम से ग्रीन टी के विषय में किये गए दावों पर विस्तार कई जरूरी जानकारियां दे रही हु और इस पोस्ट हम जानेगे की ग्रीन टी के बारे में सच्चाई क्या है (The truth about green tea) जैसेकि ग्रीन टी वजन कम नहीं करती, जी हां बिलकुल सही पड़ा आपने लेकिन ग्रीन टी में फैट और कार्ब्‍स नहीं होते. साथ ही इसमें एंटी ऑक्‍सीडेंट तत्‍व प्रचुर मात्रा में पाए जाते हैं.

What are some of the proposed health benefits of green tea?

न्‍यूयॉर्क मेडिकल रिसर्च सेंटर की एक स्‍टडी कहती हैं कि ग्रीन टी (Green Tea) पहले से बनी हुई चर्बी को घटाने का काम नहीं करती, लेकिन नई चर्बी को बनने से रोकने का काम जरूर करती है. यानी कि आपने ऑयली और जंक फूड खा-खाकर अपना वजन बढ़ा रखा है तो ऐसा नहीं होगा कि ग्रीन टी पीने से वो वजन कम हो जाए. लेकिन अगर आप इसका सेवन करते हैं तो नई चर्बी बनने और जमा होने की प्रक्रिया थोड़ी धीमी हो जाएगी.

ग्रीन टी (Green Tea) का हमारे मेटाबॉलिज्‍म और एनर्जी साइकिल पर असर होता है. यानी ग्रीन टी एक तरह से मेटाबॉलिज्‍म को दुरुस्‍त रखने का काम भी करती है. मोटापे का गहरा रिश्‍ता हमारे मेटाबॉलिज्‍म से भी होता है. यदि मेटाबॉलिज्‍म सही ढंग से काम कर रहा है तो समय पर भूख लगेगी, समय पर खाना पचेगा और वह फैट में परिवर्तित नहीं होगा. मेटाबॉलिज्‍म सुस्‍त हो तो खाया हुआ खाना बहुत देर से पचता है

अगर आप ऑयली और जंक फूड खाने (समोसे, पकौड़ी या कोई भी ज्‍यादा तेल-घी वाली चीजें) के शौकीन है तो ज्‍यादा तेल-घी वाली चीजें खाने के बाद ग्रीन टी का सेवन करना लाभकारी होता है. जब भी हम कुछ तला-भुना खाते हैं तो वो तेल जाकर आंतों में चिपक जाता है. उसके तुरंत बाद ग्रीन टी (Green Tea) पीने से टी आंतों को साफ करने का काम करती है. साथ ही जो चीजें पचने में भारी होती हैं, उन्‍हें पचाने में भी मददगार होती है.

लेकिन कभी भी भोजन करने के बाद या रात को ग्रीन टी का सेवन नहीं करना चाहिए. ऐसा इसलिए क्योंकि ग्रीन टी में मौजूद चीजें भोजन में मौजूद आयरन, जिंक और क्रोमियम जैसे खनिजों के अवशोषण को रोक सकते हैं. दूसरी ओर, एक कप ग्रीन टी (Green Tea) पीने से आपकी नींद में बाधा आ सकती है. इसमें मौजूद कैफीन चिंता, घबराहट और हाई ब्लड प्रेशर का कारण भी बन सकता है.

Green tea melts fat and aids in weight loss

वजन घटाने के लिए ग्रीन टी के लाभ होने की संभावना कम होती है। वजन कम करने के नियमित संतुलित आहार ले फलों और हरी सब्जियों से युक्त स्वस्थ भोजन सलाद को अपने आहार में बढ़ावा दे एक्सरसाइज और योग करें बहुत पानी पियें अगर आप ठंडे या फ्रिज में रखे पानी की जगह गुनगुना पानी ले तो ज्यादा अच्छा है।

साथ ही घर पर बना ताजा खाना खाये बाहर के पके हुए भोजन पर आश्रित ना रहे और ना ही फ्रिज में रखा बासी खाना खाये। इन उपायों को रोज़ अपना कर आप आसानी से वजन कम कर सकते है। हालांकि इन तरीकों के साथ-साथ ग्रीन टी का इस्तेमाल सकारात्मक परिणाम दिला सकता है।

ये कुछ छोटे – छोटे बदलाव आपके दिखने और महसूस करने के तरीके में बड़ा बदलाव ला सकते हैं और लंबे समय तक आपको फिट रखेंगे

🍵Green tea pine ke fayde 🍵 😍😍| benifits of green tea | Fat Loss Drink Green Tea | ग्रीन टी के फायदे | ग्रीन टी बेनिफिट्स इन हिंदी 🍵

ग्रीन टी पीने का सही तरीका और समय ? Green Tea Benefits in Hindi

How To Drink Green Tea : ग्रीन टी स्वास्थ्य के लिए बहुत फायदेमंद है. आजकल वजन घटाने से लेकर फिटनेस तक के लिए लोग ग्रीन टी का इस्तेमाल कर रहे हैं. ग्रीन-टी (🍵Green tea ) में कुछ ऐसे यौगिक पाए जाते हैं जो आसानी से वजन कम करने में सहायक हो सकते हैं। ग्रीन-टी कई प्रकार के एंटीऑक्सिडेंट्स से भी भरपूर होती है

जो शरीर को फ्री रेडिकल्स से बचाते हुए कैंसर जैसे गंभीर रोगों से सुरक्षा देने में सहायक है। इसके अलावा कई अध्ययनों में पता चलता है कि ग्रीन टी में एंटी एजिंग गुण भी पाए जाते हैं जो समय से पहले बुढ़ापे के लक्षणों को कम करने में सहायक हो सकते हैं। ऑफिस और घरों में लोग दिन में कई बार ग्रीन टी पीते रहते हैं. वजन घटाने के लिए कुछ लोग सुबह के समय खाली पेट ग्रीन टी पीते हैं. इससे बॉडी डिटॉक्स होती है और वजन घटाने में भी मदद मिलती है.

🍵ग्रीन-टी (🍵Green tea ) दुनिया भर में तमाम तरह के स्वास्थ्य लाभ के लिए प्रयोग में लाए जाने वाले सबसे लोकप्रिय पेय में से एक है। लेकिन क्या आप जानते हैं कि सुबह खाली पेट ग्रीन टी सभी को डाइजेस्ट नहीं होती है. कुछ लोगों को सुबह ग्रीन टी पीने से परेशानी भी हो सकती है. ऐसे में आपको दूसरों को देखकर किसी भी समय ग्रीन टी पीने की शुरुआत नहीं करनी चाहिए. इससे आपके स्वास्थ्य पर असर पड़ सकता है. जानते हैं

ग्रीन टी पीने के फायदे और इसे पीने का सही समय क्या है.🍵Green tea pine ke fayde 🍵 😍😍| benifits of green tea | Fat Loss Drink Green Tea | ग्रीन टी के फायदे | ग्रीन टी बेनिफिट्स इन हिंदी 🍵

स्वास्थ्य विशेषज्ञों के मुताबिक 🍵ग्रीन-टी (🍵Green tea ) बनाते और पीते समय हम अमूमन कई तरह की गलतियां करते हैं जिससे इसके पोषक गुण कम हो जाते हैं। ग्रीन-टी से अधिकतम लाभ प्राप्त करने के लिए सबसे पहले हमें इसे बनाने और पीने के दौरान की जाने वाली सामान्य गलतियों से बचना होगा।

SHOCKING TRUTH About🍵Green tea | Fat Loss Drink Green Tea | Best and Worst Time to Drink Green Tea |🍵 ग्रीन टी पीने का सही तरीका और सही समय

  • अगर आप ग्रीन टी पीना चाहते हैं तो भोजन के कम से कम 1 घंटे पहले इसे पी सकते हैं.ग्रीन टी पीने का सही तरीका और समय ? Green Tea Benefits in Hindi
  • ग्रीन टी में टैनिन होता है, भोजन से तुरंत पहले इसे पीने से कब्ज, पेट-दर्द या मिचली की समस्या हो सकती है.

ग्रीन-टी 🍵के स्वाद को बढ़ाने के लिए इसमें शहद डालने की सलाह दी जाती है, हालांकि जिस बर्तन में आप चाय उबाल रहे हैं, उसी में शहद न डालें। उबलती चाय में शहद मिलाने से इसके पोषक तत्व नष्ट हो सकते हैं। इसलिए शहद को चाय में ऊपर से मिलाकर ही इसका सेवन करें, सीधे उबलते हुए पानी में इसे न डालें।

Are there any side effects ?

आपको सुबह खाली पेट ग्रीन टी पीने से बचना चाहिए. इसके साथ थोड़ा बहुत कुछ जरूर खाएं.

  • पूरे दिन में 3 कप से ज्यादा ग्रीन टी न पिएं इससे डिहाइड्रेशन की समस्या हो सकती है.
  • ज्यादा मात्रा में कैफीन से उलटी, दस्त, पेट खराब और टॉयलेट की समस्या हो सकती है. कई बार सोने से पहले ग्रीन टी पीने से नींद भी नहीं आती.
  • ग्रीन टी पीने के लिए सुबह और शाम का समय सही है, इससे मेटाबॉलिज्म तेज होता है.
  • दूध या चीनी डालकर ग्रीन टी न पीएं, इससे आपको फायदा नहीं मिलेगा.

वेट लॉस में मददगार है ग्रीन टी, रोजाना एक कप पीने से होते हैं ये 9 फायदे | Green  tea for weight loss and other benefits of green tea in hindi

🍵😍 ग्रीन टी के फायदे | benifits of green tea🍵😍| Fat Loss tea 😍|😍Green tea pine ke fayde 🍵 😍😍|

 

वजन घटाने में मदद- ग्रीन-टी आपका वजन कम करने में मदद करती है. इसमें एंटीऑक्सीडेंट होते हैं जिससे मेटाबॉलिज्म तेज होता है. ग्रीन टी पीने से शरीर में फैट की मात्रा कम होती है. ग्रीन टी पीने के बाद एक्सरसाइज करने से फैट ऑक्सीडेशन बढ़ता है, जिससे आपका वजन कंट्रोल रहता है. हालांकि आपको इस दौरान अपने खाने-पीने पर भी ध्यान देने की जरूरत है.

स्किन इंफेक्शन दूर- ग्रीन टी में एंटीऑक्सीडेंट्स काफी मात्रा में होते हैं. जिससे स्किन के डैमेज सेल्स की भरपाई करने में मदद मिलती है. इससे त्वचा की सूजन की समस्या भी दूर होती है साथ ही स्किन टाइटनिंग और मुहांसों की समस्या को भा दूर करती है.ग्रीन-टी पिएं और घटाएं कैंसर का खतरा, जानें क्या कहते हैं वैज्ञानिक | Drink green  tea and reduce the risk of cancer, know what scientists say

कैंसर से बचाव- नियमित रुप से ग्रीन टी पीने से कैंसर का खतरा भी कम होता है. इसमें पॉलीफिनॉल्स होता है जो ट्यूमर और कैंसर सेल्स रोकने में मदद करता है. ब्रेस्ट और प्रोस्टेट कैंसर को रोकने में ग्रीन टी मदद करती है.

धमनियां को हल्दी रखे- रोजाना ग्रीन टी पीने से धमनियों की ब्लॉकेज दूर करने में भी मदद मिलती है. ग्रीन टी बॉडी से बेड कोलेस्ट्रॉल के लेवल को कम करती है. इससे हार्ट की समस्या भी कम होती हैं.

मानसिक स्वास्थ्य- ग्रीन टी में पाया जाने वाला कैफीन दिमाग के लिए अवरोधक न्यूरोट्रांसमीटर की प्रक्रिया को रोकने का काम करता है. इसे पीने से याददाश्त अच्छी होती है. ग्रीन टी में मौजूद एमिनो एसिड, दिमाग के केमिकल मैसेंजर गाबा के लेवल को सुधारता है. इससे तनाव भी कम होता है.

ग्रीन-टी का सेवन करना सेहत के लिए लाभदायक होता है, हालांकि इसका मतलब यह नहीं है कि आप बहुत अधिक मात्रा में ग्रीन-टी पीना शुरू कर दें। ग्रीन-टी के ज्यादा सेवन के कारण पाचन और नींद की समस्या हो सकती है। दिन में 2-3 बार से अधिक मात्रा में ग्रीन-टी का सेवन नहीं करना चाहिए। ज्यादा पीने से इसके फायदे की जगह नुकसान भी हो सकते हैं।

ग्रीन-टी पीने वालों को इसके समय और मात्रा दोनों का ध्यान रखना चाहिए, सोने से पहले तो इसका सेवन बिल्कुल नहीं करना चाहिए। एक कप ग्रीन टी में लगभग 35 मिलीग्राम कैफीन होती है, ऐसे में सोने से ठीक पहले इसे पी लेने से नींद बाधित हो सकती है। सोने से पहले किसी भी तरह के कैफीन युक्त चीजों के सेवन से परहेज करने की आवश्यकता है।

उम्मीद करती हु आप मेरी बातो से सहमत होंगे आपकी क्या राय है कमेंट करके अवश्य बताये
आपके स्वस्थ एवं फिट जीवन के लिए – शुभकामनाएँ!

Leave a Reply