Health Tips Headache Also A Symptom Of Omicron

हेल्थ
Advertisement

Omicron Symptoms: सिरदर्द भी है ओमिक्रोन का लक्षण, इस तरह करें पहचान

Corona Omicron Symptoms: काफी लंबे समय से कोरोना वायरस (Coronavirus) हमारे बीच है और समय-समय पर ये काफी तेजी से फैल भी रहा है. ऐसे में हर कोई इस वायरस से खुद को बचा रहा है लेकिन हर बार इसका बदलाव स्वरूप भी चिंता का विषय बना हुआ है. वहीं इन दिनों कोरोना का नया वेरिएंट ओमिक्रोन (Omicron Variant Alert) काफी तेजी से फैल रहा है. विदेश ही नहीं भारत में भी इसके काफी ज्यादा मामले सामने आ चुके हैं. जिसके कारण लोग डरे हुए हैं.

 बात लक्षणों की करें तो इसके कई ऐसे लक्षण हैं जो पहले के वेरिएंट में नजर आए. इसमें सिरदर्द की समस्या भी नजर आ रही है. ओमिक्रोन के मरीजों में लोगों को तेज सिरदर्द होता है जिसके बाद वो संक्रमित हो रहे हैं. वहीं इसके अलावा भी ओमिक्रोन के कई ऐसे लक्षण हैं जिन्हे नजरअंदाज नहीं करना चाहिए.


इस मौसम में सर्दी-फ्लू का खतरा अधिक होता है। चूंकि कोरोना के लक्षण फ्लू से मिलते-जुलते हैं इसलिए जांच करानी जरूरी है। सर्दी, खांसी और बुखार के अलावा भी अगर किसी को कुछ अजीब लक्षण महसूस हो रहे हैं, तो सतर्क हो जाएं।

त्वचा पर पित्ती या घमौरी — ओमीक्रोन (Omicron)का त्वचा पर गहरा प्रभाव पड़ रहा है। पिछले दिनों जो लोग ओमीक्रोन पॉजिटिव पाए गए हैं, उनमें से कुछ में त्वचा से जुड़े लक्षण पाए गए हैं। उनकी त्वचा पर तीन अलग-अलग प्रकार चकत्ते पाए गए हैं। इनमें पित्ती, घमौरी और हाथ पैर की सूजन शामिल हैं। ये तीनों स्थितियां त्वचा को लाल और खुजलीदार बना सकती हैं।

डायरिया — कोरोना वायरस के एनी वेरिएंट में डायरिया एक प्रमुख लक्षण रहा है। ओमीक्रोन के मामले में भी कई मरीजों में यह लक्षण देखा जा रहा है। जॉन हॉपकिन्स मेडिसिन के अनुसार, ओमीक्रोन वायरस से संक्रमित होने के तुरंत बाद लगभग 20 प्रतिशत मरीजों को दस्त के लक्षण का सामना करना पड़ रहा है।

कंजंक्टिवाइटिस — एक्सपर्ट्स मान रहे हैं कि ओमीक्रोन के लक्षण आंखों में भी नजर आ सकते हैं। अगर कोई व्यक्ति कंजंक्टिवाइटिस से पीड़ित है, तो उसे अपनी जांच करानी चाहिए। यह कोरोना का लक्षण हो सकता है। इसे पिंक आइज के रूप में भी जाना जाता है जिसमें आंखों का लाल होना, पानी आना और दर्द होना आदि शामिल है।

रात में पसीना आना — रात के पसीना आना की समस्या को आमतौर पर कैंसर या दिल की जैसी अन्य बीमारियों के साथ जोड़कर देखा जाता है। अब ओमीक्रोन के मरीजों में भी यह लक्षण देखने को मिल रहा है। मरीजों को गले में खराश के साथ रात में पसीना आना जैसी समस्या का सामना करना पड़ रहा है।

भूख में कमी — ऐसा माना जा रहा है कि कोविड ओमीक्रोन से पीड़ित तीन में से एक व्यक्ति को भूख में कमी का सामना करना पड़ रहा है। इतना ही नहीं कुछ मरीज खाना छोड़ रहे हैं। यह लक्षण 35 वर्ष से अधिक आयु के रोगियों में अधिक देखने को मिल रहा है। अगर आप इस समस्या से जूझ रहे हैं, तो आपको तुरंत कोरोना की जांच करानी चाहिए।

नॉर्मल फ्लू ओर ओमिक्रोन वेरिएंट ये हैं अंतर

कोरोना वायरस के नए ओमिक्रोन वेरिएंट (Omicron Variant) और नॉर्मल फ्लू में सिरदर्द (Headache) का लक्षण नजर आता है. ऐसे में यह समझना मुश्किल हो जाता है कि आप ओमिक्रोन वायरस से संक्रमित हुए हैं या फिर नॉर्मल फ्लू से लेकिन अगर आप चाहें तो इसका पता लगा सकते हैं. जहां एक तरफ फ्लू के लक्षण जल्दी दिखने लगते हैं तो वहीं ओमिक्रोन से संक्रमित होने के बाद सिरदर्द के लक्षण कुछ दिन बाद नजर आते हैं.

ओमिक्रोन नॉर्मल फ्लू की तुलना में ज्यादा संक्रामक हैं और तेजी से फैलता भी है. जह आप इस वायरस की चपेट में आते हैं. तो इसके लक्षण दिखने में 2 से 14 दिन लगते हैं जबकि फ्लू में ये लक्षण एक से 4 दिन में दिख जात हैं.

कोरोना की चपेट में आने के बाद जब सिरदर्द शुरू होता है. तो ये काफी तेजी से होता है. जब्कि फ्लू में इसका असर कोरोना के मुकाबले कम देखने को मिलता है.हालांकि इस सर्दी के मौसम में फ्लू और कोरोना दोनों के केस सामने आ रहे हैं.

Leave a Reply