Healthy Foods For Weak Kids: कमजोर बच्‍चों को हेल्‍दी बनाने के लिए आप क्या खिलाते हो

हेल्थ
Healthy Foods For Weak Kids
Healthy Foods For Weak Kids

Healthy Foods For Weak Kids or HEALTHY FOOD FOR KIDS

healthy food for kids: कमजोर बच्‍चों को ताकतवर (हेल्‍दी) बनाने के लिए आप क्या खिलाते हो

Healthy Foods For Weak Kids : बच्चे आमतौर पर खाने-पाने के मामले में काफी लापरवाह होते हैं. जिस कारण बच्‍चे कमजोर

Advertisement
होते हैं और उन्‍हें आसानी से थकान एवं अनेक परेशानियों का सामना करना पड़ता है । क्युकी इसका असर बच्चो के पाचनतंत्र यानी इम्युनिटी सिस्टम पर होता है। ऐसे में उनके माता-पिता की जिम्मेदारी रहती है कि बच्‍चे के शरीर की कमजोरी को किस तरह दूर किया जाए

और उसे एनर्जेटि यानी तंदुरुस्त और हेल्‍दी कैसे बनाया जाये तो यहां हम आपको sangeeetaspen.com के माध्यम से कुछ ऐसी चीजों (खाद्य पदार्थो) के बारे में बता रहे हैं जिन्‍हें बच्‍चों को हेल्‍दी बनाने के लिए नियमित रूप से खाने या नास्ते में शामिल कर आप अपने बच्‍चे को तंदुरुस्त और हेल्‍दी (baby healthy and strong) बना सकती हैं।

Healthy Foods For Weak Kids: कमजोर बच्‍चों को हेल्‍दी बनाने के लिए उनके खाने में खिलाएं ये चीजें

डाइट एक्सपर्टके अनुसार बच्चों को हर रोज विटामिन्स, मिनरल्स, फैट और प्रोटीन का संतुलित मात्रा में सेवन करना चाहिए. यह उनके शारीरिक विकास के लिए बेहद जरूरी है. अगर आपका बच्चा कमजोर है तो आप उसकी डाइट में घी, मक्खन, दाल, दूध, केला, शकरकंद हरी सब्जिया आदि जरूर शामिल करें.

बच्चों को खिलाएं ये चीजें – healthy food for kids

बनाना शेक – Banana Shake

केला एनर्जी का बेहतरीन स्रोत है. यह कमजोर बच्चों के लिए यह बेहद फायदेमंद होता है. इसका शेक या दूध और केला बच्चे को खिलाने से उनके वजन में वृद्धि होती है.

दूध में केसर – kheshr milk 

केसर का दूध खाली पेट पीना बहुत अच्‍छा होता है। केसर बच्‍चों के पाचन में सुधार करता है और दूध में केसर डालकर लेने से बच्‍चों का पाचन ठीक रहता है। अगर पाचन ठीक रहेगा तो बच्‍चा अच्‍छी तरह से खाएगा और हेल्‍दी बनेगा।केसर श्‍वसन मार्ग को साफ करता है जिससे अस्‍थमा से ग्रस्‍त बच्‍चों को सांस लेने में कम परेशानी होती है। केसर बच्‍चों को हड्डियों को मजबूत करने में भी मदद करता है। ये कैल्शियम के अवशोषण में मदद करता है और हड्डियों को स्‍वस्‍थ बनाता है।

Read This : बच्चों को खिलाएं ड्राई फ्रूट और ये सब्जियां

हरी सब्जियों का सेवन – eating green vegetables

हरी सब्जियां पोषक तत्वों से भरपूर होती हैं. इसके अलावा इनमें पाचन तंत्र को दुरुस्त रखने की भी क्षमता होती है. बच्चों को ब्रोकली, साग, मटर, पालक और बंदगोभी का नियमित सेवन करना चाहिए. इस तरह बच्‍चे को स्‍वाद के साथ-साथ पोषण भी मिल जाएगा.

घी या मक्खन – ghee or butter

घी और मक्खन फैट से भरपूर खाद्य है. इसका बच्चों को नियमित रूप से सेवन कराना चाहिए. घी और मक्खन का सेवन दाल अथवा रोटी में लगाकर किया जा सकता है.

आंवला – Gooseberry

आप अपने बच्‍चे को सुबह नाश्‍ते में आंवले का एक मुरब्‍बा जरूर खिलाएं। अगर बच्‍चा मुरब्‍बा नहीं खाता है तो उसे चार से पांच आंवले की कैंडी खिला दें। आंवला खाने से बच्‍चों में कब्‍ज नहीं होती और इसमें मौजूद विटामिन-सी भोजन से आयरन के अवशोषण को बढ़ाता है

Read This : A1 और A2 दूध में अंतर

जिससे हीमोग्‍लोबिन के स्‍तर में सुधार आता है। आंवला भूख बढ़ाने में भी मदद करता है। भूख बढ़ने पर बच्‍चे अधिक खाते हैं जिससे वजन बढ़ाने में मदद मिलती है। दुबले बच्‍चों को नाश्‍ते में आंवला जरूर खिलाना चाहिए। यह बच्‍चों की इम्‍यूनिटी को भी बढ़ाता है और इंफेक्‍शन से बचाने का काम करता है।

Read This :  आँवला खाने के क्या – क्या फायदे होते हैं

अण्डा और आलू – Egg and Potato

कमजोर बच्चों के लिए अंडा और आलू बेहद फायदेमंद हो सकते हैं, क्योंकि आलू में कार्बोहाईड्रेट और अंडे में प्रोटीन काफी मात्रा में पाया जाता है. कमजोर बच्चों का वजन बढ़ाने के लिए इनका सेवन बेहद जरूरी है.

दाल – lentils

दालें प्रोटीन की सबसे बड़ी स्रोत हैं. दाल के पानी में भी पर्याप्त मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है. आपका बच्चा कमजोर है तो उसका वजन बढ़ाने के लिए उसे नियमित रूप से दाल का पानी पीने को दें

पनीर – cheese

पनीर में उच्‍च मात्रा में प्रोटीन पाया जाता है और ये कैल्शियम से भी युक्‍त होता है। बच्‍चे को पनीर खिलाने से उसकी हड्डियां और दांत मजबूत होते हैं। इसमें मौजूद विटामिन-बी की उच्‍च मात्रा बोन कार्टिलेज को बनाने में सुधार करती है। इसमें डायट्री फाइबर और प्रोटीन होते हैं जो इम्‍यूनिटी को मजबूत करते हैं। बच्‍चे के विकास के लिए जरूरी पोषण भी पनीर से लिया जा सकता है।

Read This : संस्कृत भाषा या संस्कृत दिवस 2021 का महत्व निबंध

मलाई वाला दूध – skim milk 

मलाई वाले दूध में पर्याप्त मात्रा में वसा पाया जाता है, जो बच्चों का वजन बढ़ाने के लिए फायदेमंद साबित होता है. अगर बच्चा दूध पीने से मना करता है तो शेक या फिर चॉकलेट पाउडर मिक्स करके उसे पिलाने की कोशिश करें.

घी – ghee 

खाने को पचाने में घी मदद करता है और इससे पेट से संबंधी परेशानियां भी दूर रहती हैं। बच्‍चों के लिए घी एनर्जी का भी प्रमुख स्रोत है। इसमें सैचुरेटिड फैटी एसिड होते हैं जो बच्‍चे को एनर्जी और ताकत देते हैं।

पांच साल की उम्र तक बच्‍चे के मस्तिष्‍क का अधिकतर विकास हो जाता है इसलिए इस समय बच्‍चे को घी जरूर खिलाएं, क्‍योंकि घी में ओमेगा 3 फैटी एसिड होते हैं।आप सुबह नाश्‍ते में घी में परांठा बनाकर बच्‍चे को दे सकती हैं।

बादाम – Almond

बादाम बच्‍चों की इम्‍यूनिटी को बढ़ाते हैं और हड्डियों को मजबूत करते हैं। यह मस्तिष्‍क के विकास में मदद करता है और एनर्जी देता है। बच्‍चों में कब्‍ज की परेशानी को भी बादाम से दूर किया जा सकता है।

च्‍यवनप्राश – chyawanprash

सुबह या शाम दूध के अंदर च्‍यवनप्राश डालकर दें। इससे बच्‍चों की इम्‍यूनिटी बढ़ती है और वो पूरा दिन फुर्तीला महसूस करते हैं। आप घर पर भी च्‍यवनप्राश बना सकती हैं। इसमें कई जड़ी-बूटियों होती हैं जिससे बच्‍चा स्‍वस्‍थ और मजबूत बनता है।

अगर आपको यह पोस्ट पसंद आया हो तो इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर ,लाइक, कमेंट करे और हेल्थ या अन्य किसी भी जानकारी के लिए मेरे ब्लॉग या मेरे यूट्ब चैनल को सब्सक्राइब करे

Leave a Reply