कोरोना काल में कैसे मनाये Karwa Chauth व्रत

आस्था

Table of Contents

How to celebrate karwa chauth fast in (covid -19) pandemic time

इस वर्ष (2020) करवा चौथ बुधवार 4th नवम्बर को है। परन्तु 2020 के सभी त्योहारों,पारम्परिक उत्स्वों पर चीन के वुहान (Wuhan) शहर से फैले कोरोना वायरस (Coronavirus) का बहुत बुरा असर पड़ा है।

और अब यह एक महामारी का रूप ले चुका है| ऐसे में भारतीय त्योहारों की चमक फीकी पड़ गयी है |इस वर्ष (2020

) में होली के बाद से ही सभी त्योहारो को लोगो द्वारा अपने घरो में रहकर ही मनाया जा रहा है

अब सभी त्यौहार इसी भय के वातावरण में ही गुजरने वाले है| ऐसी स्तिथि में भारतीय महिलाएं, करवा चौथ को लेकर असमंजस है| यह उनके लिए आने वाला सबसे बड़ा व्रत एवं त्यौहार होता है|

करवा चौथ, उत्तर भारत में मनाये जाने वाला व्रत है, पर इस व्रत की लोकप्रियता के चलते देश के अन्य हिस्सों में भी लोग इससे बहुत उल्लास के साथ मनाने लगे है| चलिए जानते है इस साल (2020) कैसा रहेगा करवा चौथ का त्यौहार|

Read this : Karwa Chauth 2020 : करवा चौथ कब है, करवा चौथ का शुभ मुहूर्त,कथा,मंत्र,आरती

2020 में कब है करवा चौथ (Karwa Chauth 2020 Shubh Muhurat)

करवा चौथ का शुभ मुहूर्त (Karwa Chauth 2020 Shubh Muhurat)
करवा चौथ तिथि- 04 नवंबर 2020 (बुधवार)
करवा चौथ पूजा मुहूर्त-
शाम 5 बजकर 29 मिनट से शाम 6 बजकर 48 मिनट तक
चंद्रोदय- रात 8 बजकर 16 मिनट पर
चतुर्थी तिथि आरंभ- सुबह 3 बजकर 24 मिनट पर (04 नवंबर)

पिछले कुछ वर्षो से यह व्रत अक्टूबर के महीने में आ रहा था ,परन्तु इस वर्ष अधिक मास के कारण यह व्रत (Karwa Chauth 2020) 4 नवंबर को आ रहा है| इस वर्ष (Karwa Chauth 2020) की पूजा का मुहर्त शाम 5:29 PM से 6:48 PM तक रहेगा| इस अवधि के दौरान अपनी पूरी पूजा संपन्न करना सबसे श्रेष्ठ रहेगा|

करवा चौथ पूजा का महत्व (Karwa Chauth 2020)

Read this : Karwa Chauth 2020 :पूजा,शुभ मुहूर्त,तथा कथा

इस व्रत का हिन्दू धर्म में बहुत महत्व है| उत्तर भारत में सुहागन महिलाओं के लिए यह सबसे बड़ा व्रत है| इस दिन सुहागन महिलाएं अपनी पति की लम्बी आयु के लिए पुरे दिन का निर्जल व्रत रखती है और शाम को पूजा करके इसकी कथा सुनती है| इस दिन सम्पूर्ण शिव परिवार की पूजा करी जाती है|

फिर रात को चंद्रमा को अर्घ्य देकर, पति के हाथ से पानी और अन्न ग्रहण करके करवा चौथ (Karwa Chauth) पूरा किया जाता है| कई स्थानों में कुंवारी लड़कियाँ भी करवा चौथ (Karwa Chauth) व्रत को करती है और चाँद को देख कर अपना व्रत पूरा करती है|

How to celebrate karwa chauth fast in (corona) pandemic time
How to celebrate karwa chauth fast in (corona) pandemic time

कोरोना काल में कैसे मनाये करवा चौथ (Karwa Chauth) व्रत – क्या करे और क्या ना करे (कुछ महत्वपूर्ण सुझाव)

इस वर्ष (2020) कोरोना के कारण सभी त्योहारों को छोटे स्तर पर ही मानना उचित माना जा रहा है| करवा चौथ (Karwa Chauth) के त्यौहार को भी आप सब घर पर अपने परिवार के साथ आनंद से मनाये | किसी भी प्रकार के सामूहिक आयोजन में जाने से बचे|

इस वर्ष करवा चौथ (Karwa Chauth) व्रत की कहानी सुनने के लिए मंदिर या फिर किसी के घर जाने से उचित होगा की आप अपने घर में अकेले ही इस पूजा को करे करवा चौथ (Karwa Chauth) की किताब से कहानी को पढ़ ले और पूजा संपन्न करे|

Read this : Karwa Chauth 2020 : Ghar par kaise sajaye Karwa Chauth thali

करवा चौथ (Karwa Chauth)का दिन हर सुहागन के लिए बहुत खास है| महिलाएं इस दिन के लिए बहुत सी तैयारियां करती है, मेहँदी लगाती है और सजती है| किन्तु इस साल इस व्रत की तैयारी या खरीदारी के लिए भीड़ वाले इलाकों में नहीं जाए|

जितना हो सके सामान घर से जुटा ले या फिर ऑनलाइन खरीदारी की मदद ले| अगर बाजार जाना अत्यंत आवश्यक हो तो मास्क का उपयोग करे और ऐसे समय पर जाए जब भीड़ ज्यादा ना हो|

How to celebrate karwa chauth fast in (corona) pandemic time

अगर हर साल आप दोस्तों और रिश्तेदारों को आमंत्रित कर के यह त्यौहार मानते है, तो इस साल ऐसा नहीं करे| आप दोस्तों और रिस्तेदारो से फोन पर या वीडियो कॉल के माध्यम से बात कर ले इससे दूर होते हुए भी आप आसानी से बात कर पाएंगे और सुरक्षित भी रहेंगे।

Read this : Karwa Chauth 2020 : सरगी क्या है,क्यों दी जाती है,सरगी का महत्व

अगर आप को किसी मित्र के द्वारा कहीं से त्यौहार को मनाने का निमंत्रण मिला हो तो, नम्रतापूर्वक उसे इंकार कर दे|

बहुत से लोग चंद्रमा पूजा के बाद परिवार के साथ बहार जा कर खाने का आनंद लेते है| किन्तु इस वर्ष आप घर पर रहकर ही खाने पीने की व्यवस्था करे। ऐसे समय में बहार जाकर खाना, कोरोना को आमंत्रित करने जैसा है|

हिन्दू धर्म के सभी त्योहारों पर दान-धर्म का बहुत महत्व है|अगर आप करवा चौथ पर सुहाग से जुडी वस्तुएं जैसे चूड़ी, सिन्दूर, मेहँदी, काजल, आदि का दान करती है|

तो कृपया इस वर्ष दान धर्म करते समय बेहद सावधानी रखे | या आप अभी दान की वास्तु को अलग रखा दे और जब कोरोना ख़त्म हो जाये तब दान कर दे

अगर फिर भी आप घर से बहार जाकर चूड़ी, सिन्दूर, मेहँदी, काजल, आदि का दान कर रही है, तो मास्क और दस्तानो (gloves) का प्रयोग अवश्य करे और भीड़ भाड़ वाली जगह में जाने से बचे |

कोसिस करे की दान में किसी वास्तु को देने से अच्छा एक निश्चित राशि या जिस वस्तु की उन लोगो को आवश्यकता है वह दान करे क्युकी जरूरतमंद की आवश्यकता पूर्ति से बड़ा दान कुछ भी नहीं है।

How to celebrate karwa chauth fast in (covid -19) pandemic time
How to celebrate karwa chauth fast in (covid -19) pandemic time

Photosource: hindustan

अब ठंडे दिन (winter season) आरंभ हो चुकी है तो ठण्ड में काम आने वाली उपयोगी वस्तुओ का दान करे इससे आप दोनों को ही बहुत प्रसन्ता मिलेगी

हम में से बहुत सी महिलाये इस दिन ज़रूरतमंदों को अपने घर बुलाकर भोजन करती है | किन्तु इस महामारी (covid -19) के बीच इस वर्ष ऐसा करना उचित नहीं है | आपके भोजन कराने से

उचित यह होगा की आप दान की तय राशि या वस्तु निकाल कर रख दे और बाद में सही समय पर इसे दे | या फिर आप इन दान वस्तु के छोटे छोटे पैकेट बना कर,मास्क और दस्तानो (gloves) का उपयोग कर सावधानी के साथ यह सब दान करे |

Read this : दिल्ली के ‘बाबा का ढाबा’ वाले बाबा पहुंचे थाने, फेमस करने वाले यू-ट्यूबर गौरव वासन के खिलाफ दर्ज कराई शिकायत

भारतीय त्योहारों के उत्साह में ना कभी कोई कमी रही है और ना रहेगी चाहे किसी भी परिस्थितिया की बात हो किन्तु

यह समय सावधानी और सुरक्षा का है अगर हम आप सुरक्षित है तो प्रतेक दिन उतस्व/त्यौहार है | इस वैश्विक महामारी (कोरोना) ने हमें बहुत कुछ सिखाया है।

सबसे अच्छी बात कोरोना काल में हमे आत्मनिर्भरता का पाठ सिखा दिया है| जिससे हमे स्वदेशी वस्तुओं का महत्व का ज्ञान हुआ | इसीलिए जितना हो सके देशी वस्तुओ का उपयोग करे

और इस मुसीबत के समय में ‘लोकल पर वोकल’ (Local par Vocal) को बढ़ावा दे| इसी कड़ी में प्रधानमंत्री (Prime Minister) नरेंद्र मोदी ने भी जब पहली बार राष्‍ट्र के नाम संबोधन किया था

तब ‘लोकल पर वोकल‘ (Local for Vocal) का नारा दिया है। अब कुछ ही दिनों में दिवाली आने वाली है। मेरा आप सभी से निवेदन है की उस समय (दिवाली) भी स्वदेसी वस्तुओ का उपयोग करे और ज्यादा से ज्यादा रेडियो तथा ठेलियो एवं फुटपात की दुकानों से खरीदारी करे जिससे ये सब भी हम सब के साथ खुशियों की दिवाली मना सके

Read this : Yahoo का पहला स्मार्टफोन लॉन्च, ये हैं फीचर्स

आपको हमारा यह पोस्ट कैसा लगा हमें कमेंट करके अवश्य बताये तथा अपने मित्रो को भी यह पोस्ट शेयर करे,

जिससे उनको भी आवश्यक जानकारिया प्राप्त हो सके ऐसी ही महत्वपूर्ण जानकारियों के लिए हमारे ब्लॉग को लाइक, शेयर, सब्सक्राइब और कमेंट अवश्य करे

 आप सभी को करवा चौथ की हार्दिक शुभकामनाये

आपका कीमती समय देने के लिए आप सभी पाठको का धन्यवाद

अगर आप करवा चौथ पर अपने जीवन साथी को उपहार देना चाहते है तो दी हुयी इमेज पर क्लिक करके भी ले सकते है

Leave a Reply