How to use the signal app: जानिए सिग्नल ऐप की सभी सेटिंग्स के बारे में

न्यूज़
How to use the signal app
How to use the signal app

गूगल प्ले स्टोर से सिग्नल ऐप की डाउनलोंडिग करोड़ो से भी ज्यादा हो चुकी है। ऐसे में अगर आप भी सिग्नल ऐप पर पहली बार आए हैं। और ऐप के सभी फीचर्स के बारे में जानना चाहते है तो आज मै इससे जुड़े सभी फीचर्स के बारे में बताउगी यानी ग्रुप बनाने से लेकर ऐप की प्राइवेसी

Advertisement
तक, सब कुछ बताऊगी ।

सिग्नल ऐप के सभी फीचर्स के बारे जानते हैं – Know all the features of the Signal app

ऐप इन्स्टॉलेशन और इंटरफेस – App installation and interface

ऐप इन्स्टॉलेशन – App installation : ऐप को गूगल प्ले स्टोर से इन्स्टॉल करने के बाद यूजर को अपना मोबाइल नंबर देना है। जिसके बाद यूजर को एक ओटीपी आएगा इस ओटीपी को डालते ही मोबाइल में ऐप पर लॉगइन हो जाएगा ।

ऐप का इंटरफेस – App interface : ऐप ओपन होते है होम स्क्रीन पर उन यूजर्स के नाम दिखाई देगा , जो जो इस ऐप को इन्स्टॉल कर चुके हैं। आप किसी भी कॉन्टैक्ट पर जाकर चैटिंग शुरू कर सकते हैं।

सेटिंग्स – Settings : अब आपको टॉप-राइट में 3 डॉट दिखेंगे । जब इस पर टैब किया जाता है तब एक लिस्ट ओपन होती है। इसमें न्यू ग्रुप, मार्क ऑल रीड, इनवाइट फ्रेंड्स और सेटिंग का ऑप्शन मिलता है।जिसे आप अपनी सुविधा अनुसार भर सकते है

ऐप का टॉप मेनु – App top menu

ग्रुप कैसे बनाएं – How to create a group : अगर आप ग्रुप बनाना चाहते है तो इसके लिए न्यू ग्रुप पर जाएं। अब ग्रुप में जिन कॉन्टैक्ट को जोड़ना चाहते हैं उन्हें सिलेक्ट कर लें। अब ग्रुप को नाम दें और प्रोफाइल फोटो लगाएं।

अब CREATE पर टैब करें। ग्रुप तैयार हो गया। ग्रुप में नए मेंबर्स जोड़ने के लिए उसे ओपन करें। अब ग्रुप सेटिंग में जाकर Add members पर टैब करें।

अगर आपके सिग्लन ऐप पर कई सारे मैसेज आ गए हैं। आप इन्हें पढ़ना नहीं चाहते हैं तब Mark all read पर टैब कर दें। कॉन्टैक्ट या ग्रुप के सामने से मैसेज के नंबर्स चले जाएंगे।

इनवाइट फ्रेंड्स – Invite friends : आप ऐप पर किसी फ्रेंड्स को इनवाइट करना चाहते हैं तब इस ऑप्शन का इस्तेमाल करें। जैसे ही आप इसे सिलेक्ट करते हैं

ऐप का लिंक शेयर करने का ऑप्शन आ जाता है। आप इसे उसे किसी प्लेटफॉर्म जैसे फेसबुक मैसेंजर, मैसेज, ईमेल, वॉट्सऐप, हैंकआउट, टेलीग्राम या अन्य पर शेयर कर सकते हैं।

How to use the signal app

सिग्नल की सेटिंग – Signal setting

ऐप के सेटिंग मेनु में प्रोफाइल फोटो और नाम बदलने से लेकर SMS, नोटिफिकेशन, प्राइवेसी, स्टोरेज, हेल्प समेत कुल 11 ऑप्शन मिलते हैं। इन सभी के बारे में एक-एक कर जानते हैं।

प्रोफाइल फोटो बदलना – Change profile photo : इसके लिए अपने नाम वाले मेन्यु पर टैब करें। अब नाम बदलना चाहते हैं तब नया नाम लिख लें। इसकी तरह फोटो के आइकॉन पर टैब करने से आप प्रोफाइल फोटो लगा सकते हैं। फिर से फोटो बदलने के लिए फोटो पर टैब करना होगा।

SMS और MMS -SMS and MMS: इस मेनु में आपको तीन ऑप्शन मिलते हैं। पहले ऑप्शन से आप सिग्नल को फोन का डिफॉल्ड SMS ऐप बना सकते हैं। उसके नीचे SMS डिलीवरी का ऑप्शन होता है। आप इसे ऑन कर सकते हैं।

सबसे नीच Wi-Fi कॉलिंग कम्पेटिबिलिटी मोड होता है। आप Wi-Fi पर MMS सर्विस शुरू करना चाहते हैं, तब इसे ऑन कर सकते हैं।

नोटिफिकेशन – Notification : इस मेनु से आप ऐप से जुड़े नोटिफिकेशन को मैनेज कर सकते हैं। वाइब्रेशन, LED कलर, साउंड, चैट साउंड को भी चेंज कर सकते हैं।

प्राइवेसी – privacy : यहां आपको ऐप एक्सेस, कम्युनिकेशन, सेंडर और सिग्नल पिन से जुड़ी सेटिंग मिलती हैं। यदि आप अपने ऐप को सिक्योर करना चाहते हैं तब स्क्रीन लॉक, स्क्रीन सिक्योरिटी और कीबोर्ड को ऑन कर सकते हैं।

कम्युनिकेशन में डिफॉल्ट सेटिंग ही रखें। यहां किसी यूजर को ब्लॉक करना चाहते हैं तब उसका नाम या कॉन्टैक्ट सिलेक्ट कर लें। पिन मेनु में पिन रिमायंडर को ऑन रखें। यदि आप पिन को चेंज करना चाहते हैं तब यहां से कर सकते हैं।

How to use the signal app

अपीरियंस – Appearances : यहां से ऐप की थीम जैसे लाइट या डार्क कर सकते हैं। यहां आपको लेंग्वेज बदलने का ऑप्शन भी मिलता है। आप हिंदी में भी ऐप को चला सकते हैं।

चैट एंड मीडिया – Chat and media : यहां से आप मीडिया डाउनलोडिंग के ऑप्शन को सिलेक्ट करते हैं। यानी मोबाइल डेटा या वाई-फाई पर क्या डाउनलोड हो और क्या नहीं। मैसे के फॉन्ट का साइज बदल सकते हैं। अपने सिस्टम के इमोजी को भी ऐप पर ला सकते हैं। चैट बैकअप के लिए आपको ये सेटिंग टर्नऑन करना होगी।

स्टोरेज – Storage : यहां आपको ऐप स्टोरेज और उसके डेटा स्टोरेज की जानकारी मिलेगी। आप मैसेज को कब तक रखना चाहते हैं उसे कीप मैसेज में जाकर सिलेक्ट कर सकते हैं। इसमें 30 दिन से लेकर हमेशा तक का ऑप्शन दिया है। कन्वर्शेसन की लिमिट तय कर सकते हैं। मैसेज हिस्ट्री को यहां स डिलीट कर सकते हैं।

लिंक्ड डिवाइस – Linked device : इस मेन्यु की मदद से आप अपने फोन को डेस्कटॉप पर लिंक कर सकते हैं। ये वॉट्सऐप के वेब वर्जन की तरह काम करता है।

हेल्प – Help : सिग्नल ऐप से जुड़ी किसी भी प्रॉब्लम को डायरेक्ट कंपनी तक भेज सकते हैं। इसके लिए आप अपनी प्रॉब्मल को टाइप करें और उसे सेंड कर दें।

एडवांस्ड – Advanced : इस मेनु से आप मैसेज और कॉल को बंद कर सकते हैं। पिन को रिसेट कर सकते हैं। अपने सिग्नल अकाउंट को भी यहां स ही डिलीट करना होगा।

डोनेट टू सिग्नल – Donate to signal : वैसे तो ये ऐप फ्री है, लेकिन आप इसे डोनेशन देना चाहते हैं तब इस मेनु पर जाना होगा। यहां टैब करते हैं वेब ब्राउजर में डोनेशन पेज खुल जाता है। इसमें मिनिमम 3 डॉलर से शुरूआत है। आप कस्टम अमाउंट में जाकर कोई भी अमाउंट डाल सकते हैं।

।न्यूज़ सोर्स : bhaskar

Leave a Reply