International Yoga Day 2022 | World Yoga Day on 21 June | International Day of Yoga | International Yoga Day 2022 Theme in Hindi

हेल्थ
International Yoga Day 2022
International Yoga Day 2022

Table of Contents

International Yoga Day 2022 | World Yoga Day on 21 June | International Day of Yoga| international yoga day 2022 theme in hindi | इस दिन है योग दिवस

International Yoga Day 2022: अंतरराष्ट्रीय योग दिवस हर साल 21 जून को योग दिवस मनाया जाता है. इस दिन देशभर में योग से जुड़े कई कार्यक्रम आयोजित किए जाते हैं, अंतरराष्ट्रीय योग दिवस

Advertisement
(International Yoga Day 2022) पर लोगों को योग के महत्व और उसके प्रति जागरूक करने के लिए प्रेरित करते हैं. ऐसे में जानते हैं इस दिन का इतिहास और इस साल की थीम.

योग करने से न केवल खुद को तंदुरुस्त बनाया जा सकता है बल्कि सेहत को कई समस्याओं से दूर भी रखा जा सकता है. लोगों को लगता है कि योग वृद्धावस्था में किया जाता है. यह केवल एक मित्थक है किसी भी उम्र में कोई भी व्यक्ति योग कर सकता है.

योग क्या है और हम इसे क्यों मनाते हैं ?

योग एक प्राचीन शारीरिक, मानसिक और आध्यात्मिक अभ्यास है जिसकी उत्पत्ति भारत में हुई थी। ‘योग’ शब्द संस्कृत से निकला है और इसका मतलब शरीर और चेतना के मिलन का प्रतीक है या एकजुट होना है। पहली बार 11 दिसम्बर 2014 को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने प्रत्येक वर्ष 21 जून को विश्व योग दिवस के रूप में मान्यता दी।

21 जून को ही क्यों मनाया जाता है वर्ल्ड योगा डे (World Yoga Day on 21 June)

21 जून को विश्व योग दिवस (World Yoga Day ) के रूप में चयनित करने के पीछे कुछ कारण थे. 21 जून का दिन पूरे साल का सबसे लंबा दिन होता है. इसका मतलब है कि इस दिन सूर्योदय से लेकर सूर्यास्त तक का समय सबसे ज्यादा होता है.

इसी से योगा के अभ्यास से मिलने वाले लंबे स्वास्थ्य को प्रतिबिंबित किया गया है. इस दिन ही सूर्य अपनी स्थिति दक्षिणायन में लाता है, जो कि योग और अध्यात्म के लिए सबसे उपयोगी मानी जाती है. इन कारणों से ही 21 जून को अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के रूप में चुना गया. इसके अतिरिक्त अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस (International Yoga Day 2022) की स्थापना का प्रस्ताव भारत द्वारा प्रस्तावित किया गया था और 175 देशो ने योग के महत्व को समझते हुए इसको समर्थन दिया ।

International Yoga Day 2022
International Yoga Day 2022

योग के प्रस्ताव को पहली बार भारत के प्रधान मंत्री श्री नरेंद्र मोदी ने महासभा के 69 वें सत्र के उद्घाटन के दौरान अपने संबोधन में पेश किया था,

जिसमें उन्होंने कहा था: “योग हमारी प्राचीन परंपरा से एक अमूल्य उपहार है। योग मन और शरीर, विचार और क्रिया की एकता का प्रतीक है … एक समग्र दृष्टिकोण हमारे स्वास्थ्य और हमारी भलाई के लिए मूल्यवान है। योग केवल व्यायाम के बारे में नहीं है; यह अपने आप को, दुनिया और प्रकृति के साथ एकता की भावना की खोज करने का एक तरीका है। ”

इस साल की थीम क्या है? international yoga day 2022 theme in hindi

बता दें हर साल योग दिवस के दिन नई थीम तय की जाती है. 2021 में be with yoga be at home भी वहीं इस साल यानी 2022 में योगा की थीम योगा फॉर ह्यूमैनिटी yoga for humanity रखी गई है.

अंतरर्राष्ट्रीय योग दिवस क्यों मनाया जाता है

योग जीवन के लिए उतने ही जरुरी है, जितना की एक BP के मरीज को उसकी टेबलेट. किसी बीमारी में पड़कर फिर उसके इलाज के लिए इधर उधर भागना और बहुत खर्चा करना, इससे बेहतर हैं आज से ही योग के लिए वक्त निकालना . ना इसमें कोई खर्चा होता हैं और न ही कोई नुकसान.

योग के बस फायदे होते हैं, जिन्हें दुनिया के सभी लोगो ने माना है, इसलिए देश में अन्तराष्ट्रीय योग दिवस मनाया जा रहा हैं. दुनिया में बढ़ती हुई बीमारियों को देखते हुए यह बहुत अच्छा निर्णय हैं जो विश्वस्तर पर लिया गया हैं.

जरुरी नहीं हैं कि योग के लिए कई घंटो का वक्त निकाला जाए, 30 मिनिट भी आपके लिए फायदेमंद होंगे. योग केवल मोटे लोगो या बीमार लोगो के लिए ही जरुरी नहीं हैं. योग व्यक्ति का सर्वांगिक विकास करता हैं. शारीरिक विकास के साथ मनो विकास भी करता हैं.

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस उद्देश्य

योग दिवस की घोषणा के पीछे एक ही उद्देश्य है, धर्म जाति से उपर उठकर समाज कल्याण के लिए एक शुरुआत करना. योग से जीवन के हर क्षेत्र में लाभ हैं इससे कई तकलीफों का अंत हैं. अतः सभी धर्म एवम जाति में योग के प्रति जागरूकता होनी चाहिये.

यह भी पढ़े :  Surya Namaskar Benefits And side effects In Hindi | surya namaska precautions

International Yoga Day
International Yoga Day

FAQ :

Q : योग दिवस का उद्देश्य क्या है?

Ans : योग दिवस का उद्देश्य आध्यात्मिक और शारीरिक अभ्यास के लाभों के बारे में जागरूकता फैलाना है।

Q : अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस 2022 की थीम क्या है ?

Ans : अंतरराष्ट्रीय योग दिवस 2022 की थीम: अंतरराष्ट्रीय योग दिवस की थीम Yoga For Humanity है जिसका अर्थ है मानवता के लिए योग

Q : पहला अंतरराष्ट्रीय योग दिवस कब मनाया गया ?

Ans :21 जून 2015 को पहला अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाया गया.

Q : 2022 में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का कौन सा संस्करण आयोजित किया जायेगा ?

Ans : अंतरराष्ट्रीय योग दिवस का 8वां संस्करण “मानवता के लिए योग” थीम पर मनाया जाएगा. इस थीम को आयुष मंत्रालय ने 21 जून 2022 अंतरराष्ट्रीय योग दिवस को चुना है. जिसका मुख्य कार्यक्रम मैसूर में आयोजित किया जाएगा

Q : अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की शुरुआत किस देश से हुई थी ?

Ans : अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस की शुरुआत भारत देश से हुई थी

Q : योग दिवस का लोगो किसका प्रतीक है

Ans : पहले तो एक मनुष्य हाथ जोड़कर योग करता हुआ दिखाई दे रहा है। इस चित्र में मनुष्य का हाथ जोड़ना एकता और संगठन का प्रतीक है। हाथ जोड़ना अपनी आत्मीय चैतन्यता के साथ वैश्विक चैतन्यता को मिलाने का प्रतीक है। यह सामंजस्य मन व शरीर, मनुष्य व प्रकृति तथा स्वास्थ्य व अच्छे इंसान के बीच का है।

Q : योग के पिता (जन्मदाता ) के रूप में कौन जाना जाता है?

Ans : अधिकतर यह मानते हैं कि योग के जनक महर्षि पतंजलि थे।

Leave a Reply