Keratosis Pilaris: क्या है केराटोसिस-पिलारिस

हेल्थ
Keratosis Pilaris: What is Keratosis-Pilaris
Keratosis Pilaris: What is Keratosis-Pilaris

Keratosis Pilaris: क्या है केराटोसिस-पिलारिस

Keratosis Pilaris : केराटोसिस-पिलारिस, जिसे चिकन स्किन ‘लाइफन पिलारिस’ या ‘फोलिक्युलर केराटोसिस’ के नाम से भी जाना जाता है। जो एक ऐसी स्कि

Advertisement
न कंडीशन है, जिसमें चेहरे पर छोटे-छोटे दाने हो जाते हैं। ये सूखे, खुरदरे पैच और दानेदार घमोरियर छोटे दाने या फुंसी असल में मृत त्वचा कोशिकाएं (डेड सेल्स) हैं, जो बालों के रोम को बंद कर देती हैं। वे कभी-कभी लाल या भूरे रंग के दिखाई देते हैं।

यह भी पढ़ें : Skin care: सर्दियों में रखे अपना खास ख्याल

यह ऑटोसोमल आनुवांशिक रोग है, जिसमें स्किन खुरदुरी, हल्की लालिमा लिए हुए और मुंहासों से भर जाती है। चेहरे के अलावा ये पीठ, हाथ के बाहरी हिस्सों (कोहनी से कलाई तक को भी प्रभावित कर सकता है) पर दिखाई देता है। यह समस्या आमतौर पर सेंसिटिव स्किन वालों में देखने को मिलती है। जो सर्दियों में बहुत ज्यादा नजर आने लगती है और गर्भावस्था में भी ये परेशानी बढ़ जाती है।

यह बिल्कुल संक्रामक नहीं है और आमतौर यह आपके ऊपरी हाथों को प्रभावित करती है। इसके अलावा, जांघ या गाल में भी केराटोसिस पिलारिस दिखाई दे सकता है, लेकिन यह बहुत दुर्लभ है। यह बच्चों और किशोरों में सबसे आम है और केराटोसिस पिलारिस (Keratosis Pilaris) की समस्‍या ज्यादातर 30 साल की उम्र तक अपने आप गायब हो जाती है।

यह भी पढ़ें : Health Care Tips: सरसों, चना और बथुआ का साग खाने के हैं गजब फायदे

इसका कोई सटीक इलाज उपलब्ध नहीं है, लेकिन हम केराटोसिस पिलारिस (Keratosis Pilaris) को रोकने की कोशिश कर सकते हैं। आप एक मॉइस्चराइजर और क्रीम का उपयोग कर सकते हैं, जो आपकी त्वचा पर इसके लक्षणों को कम करने में प्रभावी हो सकती हैं। आप इसके लिए एक स्किन एक्‍सपर्ट की मदद ले सकते हैं


केराटोसिस पिलारिस के कारण -Keratosis Pilaris

केराटोसिस पिलारिस का मुख्य कारण केराटिन का निर्माण है। एक प्रोटीन है, जो हानिकारक पदार्थों और संक्रमण से त्वचा की रक्षा करता है। केराटिन एक कर्कश प्लग बनाता है, जो त्वचा की सतह पर बाल कूप को ब्लॉक करता है। इन प्लगों के कारण त्‍वचा में खुरदरापन और केराटोसिस पिलारिस (Keratosis Pilaris) की समस्‍या होती है।

यह भी पढ़ें : home made remedies : चेहरे को गोरा व सुंदर बनाने के कुछ आसान घरेलु उपाय

हमारे शरीर के बालों में मौजूद केराटिन रोम छिद्रों में बंद हो जाता हैं, जो बढ़ते बालों के रोम की ओपनिंग ब्‍लॉक कर देते हैं। यह केराटोसिस पिलारिस के गठन का कारण बनता है। केराटोसिस पेलारिस (Keratosis Pilaris) का सटीक कारण स्किन एक्‍सपर्ट के लिए भी अज्ञात है, लेकिन यह त्वचा की स्थिति जैसे एटोपिक डर्मटाइटिस और आनुवंशिक रोग के साथ जुड़ा हो सकता है।


केराटोसिस पिलारिस के लक्षण – Keratosis Pilaris

  • दानों के आसपास हल्का गुलाबीपन या स्किन का लाल होना
  • खुजली और चिड़चिड़ी त्वचा
  • रूखी त्वचा

किसी भी दुष्प्रभाव से बचने के लिए आप इस्‍तेमाल करने वाले प्रॉडक्‍ट में दो सबसे आम सामग्री का ध्‍यान रखें। एक मॉइस्चराइजिंग क्रीम में यूरिया और लैक्टिक एसिड होता है। वे मृत त्वचा को ढीला करने और हटाने में मदद करते हैं। यह स्किन सेल्‍स और ड्राई स्किन सेल्‍स को नरम करती हैं।

यह भी पढ़ें : Papaya benefits : पपीता खाने के हैं बहुत अनोखे फायदे

इसके अलावा, आप इसके लिए कोई भी ऐसी क्रीम लगा सकता है जिसमें अल्फा हो-हाइड्रॉक्सी एसिड, लैक्टिक एसिड, सैलिसिलिक एसिड या यूरिया हो। लेजर ट्रीटमेंट का उपयोग भी इसके उपचार के लिए किया जा सकता है।

ऐसे दाने जो सैंडपेपर की तरह महसूस होते हैं।दाने जो त्वचा की टोन के आधार पर अलग-अलग रंगों में दिखाई दे सकते हैं (मांस के रंग, सफेद, लाल, गुलाबी, भूरे या काले)

केराटोसिस को रोकने के लिए टिप्‍स – Keratosis Pilaris

  • केराटोसिस पिलारिस के कारण दिखाई देने वाले छोटे दानों या चकत्तों को खरोंचें या रगड़ें नहीं।
  • गर्म पानी से स्‍नान करें। यह त्वचा के रोमछिद्रों को ढीला करने में मदद कर सकता है।
  • हमेशा बंप्‍स को संभावित रूप से हटाने के लिए एक कठोर ब्रश के साथ त्वचा को धीरे से रगड़ें।
  • शॉवर के बाद हमेशा एक मॉइश्चराइज़र का इस्तेमाल करें।
  • तंग कपड़े पहनने से बचें क्योंकि इससे घर्षण हो सकता है और त्वचा में जलन हो सकती है।
  • त्वचा को रोजाना एक्सफोलिएट करें। इससे त्‍वचा की स्थिति में सुधार करने में मदद मिलती है।
  • बहुत ज्यादा नहीं लेकिन गुनगुने पानी से नहाने से रोमछिद्र खुलते हैं और ढीले होते हैं। लेकिन बहुत ज्यादा देर नहाना अवॉयड करें क्योंकि इससे शरीर का प्राकृतिक तेल कम होने लगता है।
  • नहाते वक्त हल्के हाथों से, लूफा या प्यूमिस स्टोन से बॉडी को साफ करें जिससे डेड स्किन आसानी से निकल जाती है।

यह भी पढ़ें : हेल्थ टिप्स : अच्छी नींद चाहिए तो रात में सोने से पहले करे ये काम

Leave a Reply