Koo app: इस देसी ट्विटर की खुबिया देख केन्द्रीय मंत्री और रेल मंत्री भी इधर शिफ़्ट हो गए

Tech
जानें ट्विटर जैसी देसी Koo app को किसने बनाया है?
Advertisement

भारत में विदेशी सोशल मीडिया एप्स के विकल्प की रूप में पिछले काफी समय से स्वदेशी ऐप व स्वदेशी प्रोडक्ट्स को बढ़ावा दिया जा रहा है., जिसके चलते माइक्रोब्लॉगिंग साइट के विकल्प के रूप में पिछले साल tooter नाम से एक वेबसाइट लॉन्च हुई और अब Koo App (#kooapp) ट्विटर के विकल्प के तौर पर तहलका मचा रहा है।

चीनी ऐप्लिकेशन तथा व्हाट्सऐप और फेसबुक द्वारा डेटा को लेकर लगातार विवाद में आने के बाद भारत सरकार अब भारतीयों के डेटा को लेकर सतर्क मोड में आ चुकी है. क्योंकि भारत में अब तक डेटा को लेकर किसी तरह के नियम कानून नहीं हैं. ऐसे में देश में अब विदेशी सोशल मीडिया को रिप्लेस करने को लेकर विकल्प तलाशे जा रहे हैं. ऐसे में अब Twitter के विकल्प के तौर पर भारत में Koo App आ चुका है.

इन दिनों माइक्रो ब्लोगिग साइड ट्वीटर और केंद्र सरकार के बिच तनाव चल रहा है ऐसे में Twitter का सरकार से पन्गा लेना पड़ सकता है महगा क्युकी अब देशी App Koo ट्वीटर से मुकाबला करने की तयारी में है

जानें क्यों देसी ट्विटर कहा जा रहा Koo App को 

भारत ने आपद में अवश्य ढूढ़ते हुए बहुत से इनोवेशन किये है P.m modi ने आत्म निर्भर भारत मिशन के तहत अनेक देशी App लांच किये और इन App को लोगो ने भी खूब पसंद किया अब इसी लिस्ट में मेड इन इंडिया App Koo का नाम सामने आया है।

माना जा रहा हर की यह देसी Microblogging साइट कू ट्वीटर को कड़ी टक्क्र दे सकती है आप इस aap का उपयोग भी ट्वीटर की तरह ही अलग अलग मुद्दों पर अपनी राय रखने के लिए कर सकते है ।

इसमें हिंदी, अंग्रेजी समेत भारत की कुल 8 भाषाओं को शामिल किया गया है. कू को ऐप और वेबसाइट दोनों ही माध्यमों से इस्तेमाल किया जा सकता है. इसमें शब्दों की अधिकतम सीमा 350 है।तथा इसका इंटरफेस भी ट्विटर जैसा ही है

Koo app: इस देसी ट्विटर की खुबिया देख केन्द्रीय मंत्री और रेल मंत्री भी इधर शिफ़्ट हो गए

यह ऐप लोगों द्वारा काफी पसंद किया जा रहा है. इस स्वदेसी aap को कई भारतीय मंत्रियों और सेलिब्रेटियों ने डॉउनलोड करके साइन आप भी कर लिए है इस लिस्ट में रेल मंत्री पियूष गोयल (Piyush Goyal) और केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद जैसे नेताओ का नाम भी शामिल है .

इन्होंने अपना अकाउंट कू ऐप पर बना लिया है और भी कई मंत्री एक एक कर अपना अकाउंट बना रहे हैं. मगलवार को पियूष गोयल ने जानकारी दी की वो भी अब कू प्लेटफॉर्म से जुड़ गए है साथ ही उन्होंने लोगो से भी इस देशी आप से जुड़ने की अपील की है

जानें ट्विटर जैसी देसी Koo app को किसने बनाया है ?

कू को मार्च 2020 में अप्रमेय राधाकृष्ण और मयंक बिदावत्क ने बनाया था अभी इसके सह-संस्थापक और सीईओ अप्रमेय राधाकृष्ण हैं सरकार द्वारा अगस्त 2020 में दिए गए चैलेंज आत्मनिर्भर भारत के तहत इस aap को बनाया गया पिछले साल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मन की बात कार्यक्रम में Koo aap की चर्चा करि थी

Koo App : कैसे किया जाता है इस्तेमाल

इस ऐप को आप गूगल प्ले स्टोर और ऐपल स्टोर दोनों ही जगहों से डाउनलोड कर सकते हैं। ये aap ऑय फोन और एंड्राइड डिवाइस दोनों पर काम करता है गूगल प्ले स्टोर पर इसकी एवरेज रेटिंग 4.7 स्टार की है और एप्पल स्टोर पर 4.1 स्टार की है। एंड्राइड डिवाइस पर इस आप को पचास हजार से ज्यादा रिव्यू मिल चुके है

और गूगल प्ले स्टोर पर इसे करीब 11 लॉक से ज्यादा बार डावनलोड किया जा चूका है इन दिनों केंद्र सरकार और ट्वीटर के बिच तनाव चल रहा है जिसके चलते ट्वीटर को अनेक बार सरकार की और से नोटिस भी मिल चुके है ऐसे में बड़ी हतियो का कू की और आना ट्वीटर के लिए घातक हो सकता है Read this :Twitter ने की भारत सरकार के निर्देशों की अवहेलना,भारत सरकार ट्विटर पर सख्त

कू ऐप का फीचर्स

इसमें आप इंडिया न्यूज़ पर अपनी राय साझा कर सकते हैं।
भारतीय समाचार पत्र और चैनल द्वारा पोस्ट की गई ट्रेंडिंग भारतीय समाचार यहां से देख सकते हैं।
आप विभिन्न भारतीय भाषाओं में कुछ भी चर्चा कर सकते हैं।
भारतीय समाचार रिपोर्टर्स, पत्रकारों, राजनेताओं, क्रिकेटरों, अभिनेताओं, कार्यकर्ताओं और अन्य दिलचस्प लोगों का अनुसरण सकते हैं।
Youtube के न्यूज़ चैनल ट्रेनिंग चैनल की खोज यहाँ की गई है।
कू ऐप ट्विटर के विकल्प की तरह है।
इसमें आप ट्रेंडिंग # हैशटैग का इस्तेमाल कर सकते हैं।
आप अपने Follwers के साथ tex / वीडियो / ऑडियो या तीनों में से किसी के संयोजन को साझा कर सकते हैं।

कू ऐप पीसी डाउनलोड वेबसाइट

यदि आप इसे Pc में उपयोग करना चाहते हैं, तो आपको इसे Pc में डाउनलोड करने की आवश्यकता नहीं है, यह अब इंटरनेट पर Koo App वेबसाइट पर उपलब्ध हो गया है।

आप ट्विटर की तरह कू ऐप वेबसाइट को भी खोल सकते हैं। और लॉगिन करके इसका उपयोग कर सकते हैं

कैसे काम करें कू ऐप ?

Koo App ट्विटर की तरह ही काम करता है, और आप #Hashtag, Trending Topic, News आदि पर ध्यान देकर ट्विटर जैसे लोगों को भी शेयर कर सकते हैं। और न्यूज़ इंडिया से जुड़ी सभी खबरें लोगों तक जल्दी पहुँच सकती हैं।और इसमें राजनीति, व्यवसाय, फिल्मों और अन्य घटनाओं से संबंधित जानकारी उपलब्ध है। और विभिन्न प्रकार के पेशेवर लोग जुड़े हुए हैं।

Koo App कैसे Use करे ?

कू ऐप में लॉग इन करने के बाद, आपको अपना विवरण सीधे प्रोफाइल में भरना होगा। उसके बाद अगर आप कुछ पोस्ट करना चाहते हैं, तो आप कर सकते हैं।

आपको + कू पर क्लिक करना है।

उसके बाद ‘ऑन योर माइंड’ में नजर आएंगे।

फिर # हैशटैग और @ दिखाई देगा।

उसके बाद, कीबोर्ड, माइक और वीडियो का विकल्प दिखाई देगा। वहां से आप अपना टेक्स्ट मैसेज, ऑडियो और वीडियो भी शेयर कर सकते हैं। और आप हैशटैग और फ्रेंड्स पर ध्यान दे सकते हैं।

डाउनलोड करने के बाद, Koo App को लॉगिन करने के लिए पहले भाषा का चयन करना होगा। इसके बाद आपको मोबाइल नंबर डालना होगा, ओटीपी आएगा, फिर कन्फर्म हो जाएगा। उसके बाद आपको Koo App में लॉग इन किया जाएगा।

कहां से हुई फंडिंग

Koo App की फंडिंग इंफोसिस के मोहनदास पाई की 3one4 कैपिटल की ओर से की गई. कू ने फंडिंग के रूप में 30 करोड़ रुपये जुटाए हैं. इससे पहले कू को ऐक्सेल पार्ट्नर्ज, कालारी कैपिटल, ब्लूम वेंचर्ज और ड्रीम इंक्युबेटर से भी फंडिंग मिली है। कू के सह-संस्थापक और सीईओ अप्रमेय राधाकृष्ण हैं। कू ऐप को आप गूगल प्ले स्टोर और ऐप स्टोर दोनों ही जगहों से डाउनलोड कर सकते हैं

2 comments

Leave a Reply