Krishna Janmashtami recipes : जन्माष्टमी पर धनिया पंजीरी बनाने की विधि

न्यूज़
कृष्ण जन्माष्टमी धनिया पंजीरी
कृष्ण जन्माष्टमी धनिया पंजीरी

Krishna Janmashtami recipes : पूरे देश में कृष्णा जन्माष्टमी जोर-शोर से मनाया जाता है। इस बार कृष्ण जन्माष्टमी  30 अगस्‍त सोमवार

Advertisement
को मनाया जा रहा है। हिन्दुओं के लिए जन्माष्टमी का बहुत महत्व है और हर साल की तरह इस बार भी लोग इस पर्व को हर्षोउल्लास के साथ मनाएंगे.

मथुरा और वृंदावन में जन्माष्टमी के अवसर पर अलग ही रौनक देखने को मिलती है. जन्माष्टमी ऐसा पर्व है जिसे भारत सहित विदेशों में भी खुशी के साथ मनाया जाता है. भगवान श्री कृष्ण (Lord Krishna) को भगवान विष्णु का आठवां अवतार माना जाता है.

यह भी पढ़े : Janmashtami 2021:साल 2021 में कब मनाई जाएगी कृष्ण जनमाष्टमी, जानें मुहूर्त्त और पूजा विधि

इस दिन लोग अपने घरों में बाल गोपाल (Baal Gopal) की मूर्ति की स्थापना करते हैं और पूरा दिन उपवास करते हैं और रात 12 बजे नन्हे कान्हा के जन्म लेने के बाद अपना व्रत तोड़ते हैं. जन्माष्टमी की पूजा के दौरान प्रसाद या नैवेद्यम की महत्वपूर्ण भूमिका होती है. वैसे तो इस दिन अपने ईष्ट को प्रसन्न करने के लिए 56 भोग (Bhog) तैयार किए जाते हैं

लेकिन कान्हा को दूध और दूध से बनी चीजें एवं धनिया पंजीरी (Panjiri) सबसे ज्यादा पसंद हैं । इसलिए उनके भोग में दूध से बने भोग एवं धनिया पंजीरी जरूर होने चाहिए।इनमें से धनिया पंजीरी काफी अहम होती है. घर हो या मंदिर जन्माष्टमी पर भगवान को धनिया पंजीरी का भोग लगाया जाता है.

धनिया पंजिरी (Dhaniya Panjiri) एक फलाहारी व्यंजन है जिसे प्रसाद के रूप में भी परोसा जाता है और अक्सर व्रत के दौरान इसे खाया जाता है. पंजीरी (Krishna Janmashtami recipes) काफी पोषक तत्वों से भरी होती हैं, इसे पीसी हुई चीनी, घी, आटा और ड्राई फ्रूटस डालकर बनाया जाता है.

हालांकि, त्योहार के मौके पर भगवान को भोग लगाने के लिए पंजीरी बनाते वक्त इसमें आटे की जगह धनिए का इस्तेमाल किया जाता है. दरअसल, व्रत के दौरान अनाज का सेवन करने की अनुमति नहीं होती, इसलिए धनिये का उपयोग (Krishna Janmashtami recipes) किया जाता है.

यह भी पढ़ें: हरतालिका : कूर्माचल के सामवेदी ब्राह्मणों का ‘उपाकर्म’

घर पर कैसे बनाएं धनिया पंजीरी/ धनिया पंजीरी बनाने की सामग्री

1 कप साबुत धनिया
1 कप पीसी हुई चीनी
1 कप मखाने
1 कप देसी घी
4 छोटी इलाइची
1/2 कप सूखा नारियल कद्दूकस किया हुआ
8 से 10 काजू
8 से 10 बादाम
2 बड़े चम्मच चिरौंजी

Krishna Janmashtami recipe Dhaniya Panjiri – धनिया पंजीरी/ धनिया पंजीरी बनाने की विधि

  • सबसे पहले साबुत धनिये को रोस्ट करके मिक्सी में डालकर पाउडर बना लें.
  • इसके बाद एक कढ़ाही में थोड़ा घी डालकर काजू, बादाम, मखाने और सूखे नारियल को रोस्ट कर लें.
  • अब कढ़ाही में थोड़ा घी और डालें और इसमें धनिया पाउडर को डालकर हल्की खुशबू आने तक भूनें.
  • जब धनिया ठंडा हो जाए तो इसमें सबसे पहले पीसी हुई चीनी डालकर मिलाएं.
    इसी तरह काजू, बादाम, मखाने और सूखा नारियल डालकर मिलाएं.
  • सबसे आखिरी में इसमें आप तुलसी का पत्ता भी डाल सकते हैं. आप चाहे तो पंजीरी में अपनी पसंद के ड्राई फ्रूट्स का इस्तेमाल कर सकते हैं
धनिया बर्फी
धनिया बर्फी

धनिया बर्फी – Krishna Janmashtami recipes Dhaniya barfi 

बर्फी बनानी है तो चाशनी बनाएं. इसके लिए चीनी और आधा कप पानी डालें. इसे उबालें. एक तार की चाश्नी तैयार होने पर इसमें भुना धनिया पाउडर, नारियल, इलाइची पाउडर और बीज डालकर मिलाएं. इसे तब तक धीमी आंच पर रहने दें जब तक ये जमने ना लगे. अब प्लेट में घी लगाएं. इस पर ये मिश्रण डालें. जब ये जम जाए तो बर्फी के आकार में काट लें.

कृष्ण जन्माष्टमी चरणामृत या पंचामृत
चरणामृत या पंचामृत

चरणामृत या पंचामृत

किसी भी पूजा में प्रसाद के रूप में चरणामृत बनाया जाता है। ऐसे में कृष्ण जन्माष्टमी के शुभ अवसर पर इसे खास तरीके में बनाएं। इसके लिए 500 ग्राम दूध,एक कप दही,एक चम्मच शहद,एक चम्मच घी, एक चम्मच गंगाजल पंचामृत में होना ही चाहिए। इसके साथ ही इसमें आप 100 ग्राम चीनी, चिरौंजी,मखाना भी डालें। अब इन सभी सामग्री को कच्चे दूध में मिला दें। वहीं आखिर में दही का इस्तेमाल करें। इस तरह आप चरणामृत को तैयार कर सकते हैं।

Leave a Reply