रागी को बनाएं अपने आहार का हिस्सा,जाने रागी के फायदे और नुकशान

हेल्थ
रागी क्या होता है इसके अन्य नाम क्या है (What is  the ragi)
रागी क्या होता है इसके अन्य नाम क्या है (What is  the ragi)

रागी को बनाएं अपने आहार का हिस्सा,रागी खाने के फायदे और नुकशान

Read this : अलसी की चटपटी चटनी

रागी क्या होता है इसके अन्य नाम क्या है (What is  the ragi)

रागी या मड़ुआ अफ्रीका और एशिया के सूखे क्षेत्रों में उगाया जाने वाला एक मोटा अन्न है। यह एक बरस में पक कर तैयार हो जाता है। यह मूल रूप से इथियोपिया के ऊँचे क्षेत्रों का पौधा है

जिसे भारत में कुछ चार हज़ार वर्ष पहले लाया गया था। ऊँचे क्षेत्रों में अनुकूलित होने में यह बहुत समर्थ है। हिमालय में यह 2,300 मीटर की ऊंचाई तक उगाया जाता है।

Read this : सिलाई या ब्यूटी पार्लर कमर्शियल एक्टिविटी में आते है या नहीं
Advertisement

रागी के छोटे-छोटे दाने में कई समस्याओं का हल है, ये एक ऐसा बेहतरीन अनाज है जिसे अगर डाइट में शामिल कर लिया तो ढेरों सेहत लाभ तो होंगे, साथ ही सुंदरता में भी निखार आ जाएगा।

what is another name

रागी या नाचनी / मड़ुआ मुख्यत एक खाने योग्य अनाज है। जो अनेक प्रकार के पोषक तत्वों व ऊर्जा प्राप्त करने वाले तत्वों से युक्त है । रागी खाने को इतना पौष्टिक बना देता है ।

Read this : PUBG : लवर्स के लिए गुड न्यूज, एयरटेल के साथ नए अवतार में वापस आने की तैयारी में PUBG

ये आप इस बात से समझ सकते हैं । कि 100 ग्राम रागी में 344 मिलीग्राम कैल्शियम होता है।

Make ragi a part of your diet
Make ragi a part of your diet

Make ragi a part of your diet

ये ग्लूटन फ्री भी है, इसलिए इसका सेवन ग्लूटन एलर्जी वाले भी कर सकते हैं।इसे अक्सर तिलहन (जैसे मूंगफली) और नाइजर सीड या फ़िर दालों के साथ उगाया जाता है। यह फसल विश्व भर में 38,000 वर्ग किलोमीटर में बोई जाती है।

Read this : 24 नवंबर को शानदार डिजाइन के साथ लॉन्च POCO M3 जाने इसके खास फीचर्स

रागी का भण्डारण आसान है (Storing ragi is easy)

रागी का भण्डारण करना बेहद सुरक्षित होता है। क्युकी इस पर किसी प्रकार के कीट या फफूंद हमला नहीं करते है । जिसके कारण यह कृषक (किसान) के लिए अच्छा विकल्प रहता है।

Ragi’s is easy storing 

रागी में एमिनो एसिड, एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं । जो आपको तनाव मुक्त रखतें हैं। तथा माइग्रेन की बीमारी में भी रागी बेहद फायदेमंद है।

know the benefits of ragi

इसे भोजन में नियमित रूप से लेने से आपका चेहरा सुन्दर दिखता है । रागी खाने के बाद पेट अधिक समय तक भरा-भरा रहता है । और भूख कम लगती है ।

Read this : Micromax IN Note 1: 24 नवंबर से बिक्री के लिए होगा उपलब्ध, जानें कीमत और स्पेसिफिकेशन ऑफर

साथ ही वजन कम होने में मदद भी मिलती है। इसके अलावा रागी ब्लड शुगर लेवल को भी कम करती है।रागी की तासीर गर्म ( रागी गर्म अनाज है ) होती है ।

Benefits of ragi
Benefits of ragi

Benefits of ragi

शर्दियो में इसका नियमित उपयोग आपको और आपके परिवार को अनेक बीमारियों से बचाता है । रागी अपने गुणों के कारण शिशुओं के लिए बहुत ही लाभदायक है।

Read this : HMD Global ने Nokia 2.4 और Nokia 3.4 दो नए स्मार्टफोन्स ग्लोबली लॉन्च किये

रागी (Ragi) हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही लाभदायक है ।यह दिखने में ​हुबहु सरसों की तरह लगती है। इसे अंग्रेजी में Finger Millets और हिन्दीं में या हमारे देश भारत में नाचनी या रागी या फिर मड़ुआ भी बोला जाता है।

रागी को प्रतेक वर्ग का व्यक्ति आसानी से खा सकता है । इससे किसी को कोई नुकसान नहीं होता है ।आजकल रागी (Ragi) का प्रयोग बहुराष्ट्रीय कम्पनी बच्चों के आहार बनाने के लिए करती हैं। 

रागी से बनने वाले खाद्य पदार्थ (Ragi Foods)

Read this : कलौंजी किसे कहते है,तथा इसके फायदे एवं नुकसान क्या क्या है

भारत में कर्नाटक और आन्ध्र प्रदेश में रागी का सबसे अधिक उपभोग होता है। तथा नेपाल (अन्नपूर्णा क्षेत्र) में भी रागी की खेती की जाती है।

Ragi Foods

रागी (Ragi) से मोटी डबल रोटी, डोसा और रोटी बनती है। इस से रागी मुद्दी बनती है जिसके लिये

रागी आटे को पानी में उबाला जाता है, जब पानी गाढा हो जाता है तो इसे गोल आकृति कर घी लगा कर साम्भर के साथ खाया जाता है।

Ragi medicine

वियतनाम मे रागी (Ragi) बच्चे के जन्म के समय औरतो को दवा के रूप मे दिया जाता है। तथा रागी को सुखाकर इसे पीस कर इसका आटा तैयार किया जाता है।

Read this : PREGNANCY में क्या खाये और क्या नहीं खाये

जिसका उपयोग सर्दियों में किया जाता है। इसमें उच्च मात्रा में कार्बोहाइड्रेट पाया जाता है। कहा जाता है की रागी से मदिरा भी बनती है।

Ragi is pure grain

रागी (Ragi) में किसी भी प्रकार की पॉलिश या केमिकल नहीं होता है, क्युकी यह बहुत छोटा अनाज होता है । इसलिए इसको शुद्ध रूप में ही खाया जाता है।

रागी (Ragi) को आप खाने में अनेक तरीको से उपयोग कर सकते है । जैसे रागी का आटा, साबुत रागी, अन्य अनाजों के आटे के साथ मिश्रण कर भी इसका सेवन किया जाता है।

finger millet
finger millet

रागी में पाए जाने वाले पोषक तत्व – (Ragi Nutritional value’s) 
रागी या नाचनी प्रोटीन और फाइबर के अलावा कई प्रकार के लाभदायक पोषक तत्वों से युक्त है। इसमें प्रोटीन, फाइबर, फॉस्टोरस, मैग्नीशियम और लौह तत्व

Read this : Benefits Of Jaggery : सर्दियों के मौसम में खाने में शामिल करें गुड़, होंगे अनेक फायदे

अर्थात आयरन भी उच्च मात्रा में पाया जाता है। इसके अलावा अन्य कई प्रकार के महत्वपूर्ण पोषक तत्व भी इसमें उपलब्ध हैं।

Important Nutrients of Ragi

100 ग्राम रागी में लगभग 335 कैलोरी ऊर्जा होती है।
रागी में लगभग 5 प्रतिशत से 8 प्रतिशत तक प्रोटीन,
1 प्रतिशत से – 2 प्रतिशत ईथर के अर्क,
64 प्रतिशत से 75 प्रतिशत तक कार्बोहाइड्रेट,
14 प्रतिशत से 20 प्रतिशत तक आहार फाइबर और
2.4 प्रतिशत से 3.5 प्रतिशत तक खनिज पाये जाते हैं।

Important Nutrients of Ragi

रागी में कैल्शियम की मात्रा (344mg%) और पोटेशियम की मात्रा (408mg%) की सबसे अधिक मात्रा होती है। एवं रागी में वसा की कम मात्रा पाई जाती है जो (1.3%) तक ही होती है।

Benefits of ragi
अब मैं आपको रागी से होने वाले फायदों के विषय में बताती हु जिन्हे जान कर व समझ कर आप इसका सेवन किए बगैर खुद को नहीं रोक पाएंगे।

Read this : गिलोय क्या है इसके फायदे एवं नुकशान

वैसे तो रागी से होने वाले फायदों की लिस्ट बहुत लम्बी चौड़ी है। लेकिन में यहाँ पर रागी के कुछ मुख्य फायदे (Ragi Benefits Hindi) बता रही हु, जो इस प्रकार है।

रागी के मुख्य फायदे (Main Benefits of ragi)

रागी हड्डियों के विकास में सहायक (Ragi good for bones)

रागी में प्रचुर मात्रा में कैल्शियम पाया जाता है। 100 ग्राम में 344 मिलिग्राम कैल्शियम मिलता है। हड्डियों को कमजोर होने से हुई बीमारियों में इसे खाने की सलाह दी जाती है।

Read this : Health Benefits and Side Effects of Parijat (Harsingar)

बढ़ती उम्र में तो हड्डियों के कमजोर होने की समस्या उत्पन्न होती ही है। लेकिन वर्तमान युग में तो बच्चों में भी हड्डियों के कमजोर होने की समस्या होने लगी है। इसलिए रागी बढ़ते बच्चों के लिए यह फायदेमंद है।

Main Benefits of ragi
Main Benefits of ragi

Main Benefits of ragi

हमारे आयुर्वेद व किचन में ही कई ऐसे तत्व होते हैं ।जो हमारे शरीर में होने वाली कैल्शियम की कमी को पूरा कर सकते हैं।

Read this : amazing benefits of holy basil

और हमे अंग्रेजी दवाओं का प्रयोग नहीं करना पड़े। आप बढ़ते बच्चों और बुजुर्गों के साथ ही हर एक की थाली में रागी से बने दलिया या अन्य प्रकार के भोजन के रूप में भी इसे ले सकते है


रागी एनिमिया में है फायदेमंद (Ragi Anemia is beneficial)

रागी में आयरन का बहुत बढ़िया सोर्स है। इसलिए जिनको खून की कमी है, या हिमोग्लोबिन कम रहने की समस्या है । उनके लिए रागी लाभदायक है।

Sprouts increase vitamin C in ragi

अगर आप रागी को अंकुरित करके खाये तो विटामिन सी का लेवल और बढ़ जाता है ।

Read this : घर पर बादाम पाउडर कैसे बनाये

रागी ब्लड शुगर लेवल को भी कम करती है (Ragi also lowers blood sugar level)

रागी में पॉलिफेनॉल्स, कैल्शियम और एसेंशियल एमीनो एसिड होते हैं। डायबिटीज रोगियों को रागी खाने की सलाह दी जाती है।

यह उनके लिए सफेद चावलों का अच्छा विकल्प हो सकता है। यह ब्लड शुगर लेवल को नियंत्रित करने में भी मददगार हो सकता है।

Read this : ठेकुआ बनाने की विधि


रागी स्तनपान कराने वाली महिलाओ के लिए फायदे (Benefits for ragi breastfeeding women)

जो महिला अपने बच्चे को अपना दूध पिलाती है। उन्हे अपने आहार में रागी को शामिल करना चाहिए । विशेष कर जब यह हरा होता है

Ragi is the best for breastfeeding women

क्यूकी यह माँ के दुध को बढ़ाता है और दूध को आवश्यक एमिनो एसिड,लोहा और केल्सिउम प्रदान करता है । जो माँ और बच्चे के पोषण के लिये आवस्यक है।

रागी से इन्सोम्निया से राहत (Ragi relieves insomnia)

रागी में मौजूद ऐंटीऑक्सिडेंट्स इन्सोम्निया (नींद न आना / Relief in sleep sickness due to ragi) जैसी बीमारी, में भी फायदेमंद है।

रागी में मौजूद ट्रिप्टोफ़ैन और अमीनो एसिड नाम के ऐंटीऑक्सिडेंट्स रागी को सेहत के लिहाज से एक खास अनाज बना देते हैं।

Read this : Figs health benefits

रागी को बनाएं अपने आहार का हिस्सा
रागी को बनाएं अपने आहार का हिस्सा

रागी से होने वाले नुकशान (harms of ragi)

जैसी किसी भी चींज का जरूरत से अधिक सेवन नुकसानदायक हो सकता है, वैसे ही रागी को भी संतुलित मात्रा में ही लेना चाहिए।

Loss of Ragi

अगर आपको गुर्दे में पथरी या यूरिनरी कैलकुली जैसी समस्या हो तो इसका सेवन न करें, साथ ही किसी अन्य बीमारी के होने पर डॉक्टर के परामर्श के बाद ही इसका सेवन करें।

Read this : amazing benefits of cinnamon

इस ब्लॉग पोस्ट में दी गयी जानकारियों पर https://sangeetaspen.com/ यह दावा बिलकुल भी नहीं करती कि ये पूर्णतया सत्य या सटीक हैं

तथा इन्हें अपनाने से अपेक्षित परिणाम मिलेगा।आप सभी इन्हें अपनाने से पहले संबंधित विशेषज्ञ की सलाह अवश्य लें।

Read this : Curry leaves : Use of curry leaves, health benefits and loss

अगर आपको मेरा यह पोस्ट पसंद आया हो तो इसे लाइक, शेयर और ऐसी ही खबरों के लिए मेरे ब्लॉग को सब्सक्राइब करे

All images by : google

2 comments

Leave a Reply