Fox Nuts : मखाना के फायदे : Benefits of Makhana in Hindi

हेल्थ
मखाना खाने के फायदे और नुकसान
मखाना खाने के फायदे और नुकसान

मखाना के फायदे : Benefits of Makhana in Hindi

Fox Nuts : मखाना एक ऐसा ड्राई फ्रूट्स है जिसे हम आम दिनों से लेकर व्रत के दिनों में भी खाना पसंद करते हैं. मखाना (phool makhana) को फॉक्ट नट या कमल का बीज भी कहा जाता है। प्राचीन काल से मखाना को धार्मिक पर्वों में उपवास के समय खाया जाता है। मखाना से मिठाई, नमकीन और खीर भी बनाई जाती है। मखाना पौष्टिकता से भरपूर होता है, क्योंकि इसमें मैग्ननेशियम, पोटाशियम, फाइबर, आयरन, जिंक आदि भरपूर मात्रा में होता है।यह सूजन और पुरानी बीमारी से हमें बचाता है। व्रत में आप मखाने की खीर बना कर खा सकते हैं।

Advertisement

यह भी पढ़ें : सर्दियों के मौसम में बच्चों को खिलाएं ड्राई फ्रूट और ये सब्जियां

मखाने में कई तरह के पोषक तत्व हैं जो आपका पेट भरा रखने के साथ ही आपको पौष्टिक तत्व देनें में मदद करेंगे। आप रोजाना एक मुट्ठी मखाना खा सकते हैं। इसे आप कई तरह से बना सकते हैं। स्नैक्स के तौर पर, तो कभी डेजर्ट के तौर पर। यदि आप सही मात्रा में मखाने का सेवन करते हैं तो आपको इसे खाने से किसी भी तरह का नुकसान नहीं होगा। सावन माह में इसकी उपयोगिता बढ़ जाती है। आयुर्वेद में मखाना के बहुत सारे गुणों के बारे में विस्तार से उल्लेख किया गया है। 

जहां एक तरफ मखाना खाने के कई सारे फायदे हैं तो वहीं इसे ज्यादा खाने के नुकसान भी हो सकते है। आज के इस वीडियो में मैं आपको मखाने खाने के फायदे और नुकसान बताऊगी साथ ही हमें मखाने कब और कितनी मात्रा में खाने चाहिए ये भी बताऊगी मखानो के विषय में और अधिक जानकारी के लिए दिए गए लिंक पर विजिट करे

मखाना क्या है ? (What is Makhana?)

मखाना शारीरिक शक्ति को बढ़ाता (makhane ke fayde) है। जिन पुरुषों को वीर्य संबंधी समस्या होती है, उनके लिए मखाना का सेवन फायदेमंद होता है। इसके सेवन से वीर्य दोष में सुधार होता है। यह जल में पाया जाता है। इसके पौधे कांटेदार तथा कमल के समान होते हैं। इसके पत्ते कमल के समान, गोलाकार होते हैं,

जो ऊपर से हरे, लेकिन नीचे से लाल या बैंगनी रंग के होते हैं। इसके फल गोलाकार, कांटेदार तथा मुलायम (स्पंज वाले) होते हैं। इसके बीज मटर के समान, या इससे कुछ बड़े होते हैं। फल संख्या में 8-20 तथा हल्के काले रंग के होते हैं। इसे कच्चा या भूनकर खाते हैं। बालू में भूनने से यह फूल जाते हैं, जिन्हें मखाना कहा जाता है।

मखाना को लोग स्नैक्स के रूप भी में खाते हैं। आयुर्वेद के अनुसार, मखाना मधुर, ठंडा प्रभाव वाला होता है। यह गर्भधारण करने में मदद पहुंचाता है, गर्भवती स्त्रियों के लिए शक्तिवर्द्धक होता है। मखाना के बीज के सेवन से सेक्स करने की इच्छा बढ़ने में मदद मिलती है। यह भी पढ़ें : Beetroot benefits : चुकन्दर के फायदे और नुकसान

मखाना के फायदे (Makhana Benefits and Uses in Hindi)

मखाना (phool makhana) वैसे तो खाने में स्वादिष्ट होता है, लेकिन इसके अनगिनत फायदे भी होते हैं। चलिये विस्तार से इसके बारे में जानते हैंः

आजकल की जीवनशैली इतनी खराब हो गई है कि लोगों को बहुत सारी बीमारियां अनायास ही हो जाती हैं। इनमें मधुमेह भी एक है। समय के अभाव के कारण लोग असंतुलित भोजन को अधिक प्राथमिकता देते हैं, जिसके कारण शरीर में शर्करा का स्तर बढ़ जाता है। यह डायबिटीज का कारण बनता है। मखाना के फायदे शुगर में भी मिलते हैं। मखाने (fox nuts) की शर्करा रहित खीर बनाएं। इसमें सालम मिश्री का चूर्ण डालकर खिलाएं। इससे डायबिटीज में लाभ (makhane ke fayde) मिलता है।आज हम आपके लिए लेकर आए हैं मखाना के फायदे (benefits of Fox Nut)मखाना में कई ऐसे गुण होते हैं, जो पुरुषों को काफी फायदा पहुंचा सकते हैं.

कोलेस्ट्रॉल लेवल —मखाना में कैल्शियम, मैग्नीशियम, प्रोटीन, कार्बोहाईड्रेट, हेल्दी फैट, सोडियम, फॉस्फोरस, आयरन, विटामिन-बी जैसे पोषक तत्व अच्छी मात्रा में पाए जाते हैं. ये आपकी बोन हेल्थ के साथ ही ब्लड प्रेशर ठीक रहता है.

ब्लड शुगर लेवलमखाना खाने से ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल करने में मदद मिलती है. स्टडीज के मुताबिक, मखाना खाने से बॉडी में कई तरह के एंटीऑक्सीडेंट एंजाइम बनते हैं, जो ब्लड शुगर लेवल को कंट्रोल में रखते हैं. इससे इंसुलिन के लेवल में भी सुधार आता है.

एंटी-एजिंग — मखाना यानी फॉक्स नट्स में एंटी-एजिंग गुण होते हैं. स्टडी के मुताबिक, इसमें कई ऐसे कंपाउंड पाए जाते हैं, जो बॉडी में एजिंग के असर को कम करते हैं. मखाना में Glutamine, Cystine, Arginine जैसे एमिनो एसिड्स की मात्रा होती है जिसकी वजह से इसके एंटी एजिंग गुणों का आपको फायदा मिलता है.फॉक्स नट्स में मौजूद पोषक तत्व कोलेस्ट्रॉल लेवल को नियंत्रित रखते हैं. वहीं इसमें मौजूद मैग्नीशियम शरीर में मेटाबोलिक प्रोसेस में मदद करता है.

वेट लॉस (Weight Loss) — Fox Nut में प्रोटीन और फाइबर की भरपूर मात्रा होती है, इसलिए वेट लॉस (Weight Loss) में इसका सेवन बहुत फायदेमंद माना जाता है. प्रोटीन की मात्रा होने की वजह से इसे खाने के बाद आपको बार-बार भूख नहीं लगती. वहीं इसमें मौजूद फाइबर से डाइजेस्टिव सिस्टम भी मजबूत रहता है.

ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस — मखाना (Fox Nut) में मौजूद एंटीऑक्सीडेंट्स हानिकारक फ्री रेडिकल्स को बनने नहीं देते. ये शरीर को ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस से बचाव है. एक स्टडी के मुताबिक, इसमें मौजूद Gallic Acid और Chlorogenic Acid जैसे एंटीऑक्सीडेंट से हार्ट डिजीज, कैंसर और टाइप 2 डायबिटीज का खतरा कम होता है.

सर्दियों के दिनों में मखाना के कई फायदे — सर्दियों के दिनों में मखाना को हर दिन अलग-अलग तरह से खाया जा सकता है। इसे खाने के साइड इफेक्ट्स के साबित करने के लिए कोई वैज्ञानिक डाटा नहीं हैं। मखाना शरीर में ब्लड शुगर लेवल के स्तर को कम करने में मदद करता है। कुछ जानवरों के अध्ययन में पाया गया है कि मखाने का अर्क दिल संबंधित स्वास्थ्य में सुधार के लिए कोलेस्ट्रॉल और ट्राइग्लिसराइड के स्तर को कम कर सकता है।

इसे भी पढ़े : increase immunity of children : बच्चों की इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए आयुर्वेदिक उपाय

पुरुषों के लिए क्यों खास है मखाना (Why is Makhana special for men)

जाने माने आयुर्वेद डॉक्टर अबरार मुल्तानी के अनुसार, मखाना पुरुषों के लिए बेहद लाभकारी माना गया है. यह एक आयुर्वेदिक हर्ब है, इसके सेवन से सेक्सुअल समस्याओं को ठीक किया जा सकता है. इसमें कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, मिनरल, फैट, फॉस्फोरस आदि पौष्टिक तत्व होते हैं. ये सभी तत्व कामोत्तेजना, लिबिडो, सेक्स पावर को बढ़ाते हैं. मखाना शुक्राणुओं की क्वालिटी (Sperm quality) को भी बेहतर बनाकर, उसकी संख्या को बढ़ाता है. मखाने का नियमित सेवन शरीर की कमजोरी दूर करता है.

मसल्स और बॉडी बनाने में मददगार
बिना वजन बढ़ाए अगर आप अपनी बॉडी बनाना चाहते हैं, तो मखाना (Makhana) आपके लिए बहुत ही फायदेमंद हो सकता है. रोजाना स्नैक्स के रूप में आप एक कटोरी मनाखा खाइए, इससे आपके शरीर को प्रोटीन और हेल्दी कार्बोहाइड्रेट्स मिलेंगे, जो मसल्स को बनाने में का काफी मददगार साबित हो सकते हैं.

मखाना खाने के नुकसान ( side effects of Makhana in Hind Hindi)

  • मखाने का अधिक मात्रा में सेवन करने से कब्ज, पेट फूलना और सूजन हो सकती है। जिन्हें कब्ज की परेशानी है,
  • गर्भावस्था के दौरान महिलाओं को बहुत अधिक मखाना नहीं खाना चाहिए क्योंकि ये गर्भ में पल रहे बच्चे को नुकसान पहुंचा सकता है।
  • कुछ लोगों को मखाने के सेवन से एलर्जी की समस्या हो सकती है. मखाने में स्टार्च मौजूद होता है, जिसके कारण आपके शरीर में भी स्टार्च की मात्रा बढ़ सकती है.
  • अगर आप कॉमन फ्लू, कोल्ड या डायरिया से जूझ रहे हैं, तो आपको मखानों का सेवन नहीं करना चाहिए. फ्लू में मखानों का सेवन आपकी तबीयत को खराब कर सकता है.
  • अगर आप किसी भी प्रकार की दवाओं का सेवन कर रहे हैं तो आप मखाने का सेवन न करें, ये आपकी दवाओं के असर को कम कर सकता है.

मखाना के उपयोगी भाग (Useful Part of Fox Nuts)

आयुर्वेद में मखाना के पत्ते और बीज का प्रयोग औषधि के लिए किया जाता है।

अक्सर पूछे जाने वाले सवाल

Q. मखाना का इस्तेमाल कैसे करें? (How to Use Makhana in Hindi?)
बीमारी के लिए मखाना का सेवन और इस्तेमाल कैसे करना चाहिए, इसके बारे में पहले ही बताया गया है। अगर आप मखाना के गुण से किसी ख़ास बीमारी का उपचार करना चाह रहे हैं तो आयुर्वेदिक चिकित्सक की सलाह ज़रूर लें।

Q. मखाना कहां पाया या उगाया जाता है? (Where is Fox Nut Found or Grown?)
भारत में मखाना की खेती मुख्यतः जम्मू-कश्मीर तथा बिहार में की जाती है।

मखाना में कई ऐसे गुण होते हैं, जो पुरुषों को काफी फायदा पहुंचा सकते हैं. मखाना न सिर्फ पुरुषों के यौन स्वास्थ्य को बढ़ावा देता है, बल्कि यह कई कमाल के स्वास्थ्य लाभों से भी भरा हुआ है.

पुरुष अगर नियमित रूप से मखाना का सेवन करते हैं, तो उनमें टेस्टेस्टोरॉन हार्मोन (testosterone hormone)का उत्पादन बढ़ जाता है. इस हार्मोन को पुरुषत्व कहा जाता है, क्योंकि पुरुषों के शरीर में होने वाली सभी शारीरिक बदलावों में इसकी अहम भूमिका होती है.

Q. मखाना खाने का सही तरीका क्या होता है?
मखाने का सेवन सलाद में नियंत्रित मात्रा में किया जा सकता है। इन्हे भून कर या फिर चूर्ण बनाकर भी प्रयोग में लाया जा सकता है।

Q. मखाना किस तासीर का होता है?
मखानों की तासीर ठंडी होती है। फिर भी इसका सेवन किसी भी मौसम में किया जा सकता है।

Q. मखाना में कौन-कौन-से पौष्टिक तत्व होते हैं?
मखाने लघु होने के कारण अच्छे पाचक होते हैं। साथ ही ये कार्बोहाइड्रेट्स, फाइबर्स और प्रोटीन्स से भरपूर होते हैं

Q. 100 ग्राम मखाने में क्या पाया जाता है? (What is found in 100 grams of Makhana)
100 ग्राम मखाने में 350 कैलोरी होती है. इसके अलावा इसमें 9.7 प्रतिशत प्रोटीन, 76 प्रतिशत कार्बोहाईड्रेट, 12.8प्रतिशत नमी, 0.1 प्रतिशत हेल्दी फैट, 0.5 प्रतिशत सोडियम, 0.9 प्रतिशत फॉस्फोरस एंव 1.4 मिलीग्राम आयरन, कैल्शियम, अम्ल और विटामिन-वी भरपूर मात्रा में पाए जाते हैं.

Q. किस समय खाएं मखाना (what time to eat makhana)
मखाना न केवल सेक्‍स से संबंधित समस्‍याओं से राहत दिलाता है बल्कि यह तनाव भी कम करता है. लिहाजा नींद अच्छी आती है. सलाह दी जाती है कि रात में जब सोएं तो पहले गर्म दूध के साथ 6-7 मखाना खाएं. ऐसा करने से गहरी नींद आएगी.

Skin care: सर्दियों में रखे अपना खास ख्याल

Spinach benefits and side effects : पालक के फायदे व नुकसान

Leave a Reply