When is Mother’s Day in 2021: मदर्स डे कब है ? जानें तारीख, इतिहास और महत्व

न्यूज़
happy mothers day
When is Mother’s Day

When is Mother’s Day in 2021 में मदर्स डे कब है ? जानें तारीख, इतिहास और महत्व, मदर्स डे मनाने की शुरुआत कब से हुई थी

Mother’s Day Know Date History And Significance – मदर्स डे (Mother’s Day) दुनिया में अगर कोई आपको समझता है। तो वो आपकी मां

Advertisement
है। जो आपके चहरे और आपकी आवाज़ से ही आपके दुःख,दर्द को महसूस (समझ) कर लेती है। माँ का स्थान भगवान से भी बढ़कर है। माँ ही है जो हमारी पहली गुरु होती है।

प्रतेक स्थान पर माँ (माता) को प्रमुख स्थान प्रदान है। इसीलिए कहा जाता है माता,पिता,गुरु,देवता माँ का किसी से मुकाबला नहीं है. फिर भी बच्चे मां के योगदान को भुला देते हैं। आज मदर्स डे के इस ख़ास मौके पर https://sangeetaspen.com ब्लॉग के माध्यम से मदर्स डे से जुडी कुछ बाते बता रहे है।

मदर्स डे की सुरुवात कब और क्यों हुयी थी ?

Mother’s Day Know Date History And Significance – मदर्स डे (Mother’s Day) 9 मई को मनाया जाएगा। मदर्स डे की शुरुआत मां के महत्वपूर्ण योगदान को मनवाने के लिए ही हुई थी।प्रत्येक वर्ष मई माह के दूसरे रविवार को मदर्स डे ( When is Mother’s Day in 2021) सेलीब्रेट किया जाता है। दुनिया का सबसे खूबसूरत रिश्ता मां और बच्चों का रिश्ता है जो बिना किसी शर्त बिना किसी उम्मीद के बेपनाह प्यार से भरपूर होता है।

मां के लिए कोई भी शब्द, कोई उपहार, कोई भी लेख, कोई भी कविता या कुछ भी लिखना या फिर कहना माँ के अनमोल प्यार के सामने कम ही है। क्योंकि चाहे कितना ही कुछ क्यों न कर लिया जाए मां का प्यार सारी चीजों से ऊपर ही रहेगा। मां के इस प्यार, दुलार और समर्पण के प्रति आभार जताने के लिए हमारी उम्र भी कम पड़ जाए माँ हम बच्चो से सिर्फ प्यार भरे दो शब्द सुन्ना चाहती है। उसके लिए वही सबसे कीमती उपहार है।

मदर्स डे की सुरुवात – Mother’s Day Know Date History And Significance : इस दिन (Mother’s Day) की सुरुवात का पूरा श्रेय

9 मई 1914 को अमेरिकी प्रेसिडेंट वुड्रो विल्सन ने एक लॉ पास किया था।जिसमें लिखा था । कि मई महीने के हर दूसरे रविवार को मदर्स डे (Mother’s Day) मनाया जाएगा । इसके बाद ही मदर्स डे अमेरिका, भारत और कई देशों में मई महीने के दूसरे रविवार को मनाया जाने लगा। बता दें कि, मदर्स डे मनाने की शुरुआत अमेरिका से हुई थी। अमेरिकन एक्टिविस्ट एना जार्विस अपनी मां से बहुत प्यार करती थीं।

उन्होंने न कभी शादी की और न कोई बच्चा पाला। मां की मौत होने के बाद प्यार जताने के लिए उन्होंने इस दिन की शुरुआत की, फिर धीरे-धीरे कई देशों में मदर्स डे (Mother’s Day) मनाया जाने लगा. अब हर साल मई के दूसरे रविवार को दुनिया भर में मदर्स डे मनाया जाता है।

जारविस के प्रयासों के कारण ही संयुक्त राज्य अमेरिका ने 9 मई, 1914 के दिन से मई के दूसरे रविवार को मदर्स डे (Mother’s Day) घोषित किय। इस वर्ष (2020) मदर्स डे 10 मई को मनाया जा रहा है।

ऐना.एम.जारविस ने मदर्स डे की सुरुवात कैसे की ?

ऐना की मां अन्ना रीस जारविस 2 दशकों तक एक चर्च में संडे स्कूल टीचर रहीं। एक दिन वह संडे स्कूल सेशन के दौरान बाइबिल में मां पर एक पाठ के बारे में बता रही थीं। उस समय जारविस लगभग 12 साल की थीं।तब उन्होंने अपनी मां को कहते सुना की एक दिन ऐसा आएगा जब मां और मातृत्व को मनाने के लिए एक ख़ास दिन समर्पित किया जाएगा .क्युकी उस समय तक सिर्फ पुरुषों को समर्पित दिन होते थे जिनको मनाया जाता था। महिलाओं के लिए कोई दिन नहीं होता था।

Mother's Day 2021 Date: When is Mother's Day Learn date, history and
Mother’s Day 2021 Date: When is Mother’s Day Learn date, history and

ऐना ने अपनी मां की मिर्त्यु के दो साल बाद मदर्स डे मानाने का अभियान चलाया

जब ऐना की मां का निधन हो गया तो उसके दो सालों बाद, ऐना और उनकी दोस्तों ने एक अभियान चलाया। और उन्होंने मदर्स डे के दिन राष्ट्रीय छुट्टी की बात अमेरिकी सरकार के सामने रखी,जिसमे ऐना को लोगों का अच्छा समर्थन मिला।और संयुक्त राज्य अमेरिका ने 8 मई,1914 के दिन से मई के दूसरे रविवार को मदर्स डे घोषित किया

ऐना मदर्स डे को सामान्य तरिके से मनाना पसंद करती थी ?

ऐना का मानना था की मदर्स डे (Mother’s Day) के दिन माँ को एक फूल दे कर उनका धन्यवाद किया जाये ऐना महंगे उपहारों और बाजारीकरण का घोर विरोध करती थी.क्युकी लोगो ने इसे मुनाफाखोरी और कमाई का जरिया बना दिया था.जिसके कारण उन्होंने अपने अंतिम दिनों में मदर्स डे को कैलेंडर से हटवाने की मुहिम चलाई।

मदर्स डे की जड़ें प्राचीन ग्रीस और रोम से भी जुडी हुयी है ?

कुछ इतिहासकारो के अनुसार स्यबेसे ग्रीक देवताओं की माता थीं और मदर्स डे पर ग्रीक के लोग उनकी पूजा करते थे तथा सभी देवियों को मां मानते थे और उनके सम्मान में उत्सवों का आयोजन करते थे। लेकिन आधुनिक मदर्स डे (Mother’s Day) की जड़ें ‘मदरिंग संडे’ में मिलती है। ईसाई धर्म के लोगों द्वारा इंग्लैंड और यूरोप के कई देशों में इसे मनाया जाता था।

श्रद्धालु लेंट सीजन के चौथे रविवार को मुख्य चर्च में प्रार्थना के लिए जमा होते थे। मुख्य चर्च को मदर चर्च के नाम से जाना जाता था। समय के साथ मदर्स डे (Mother’s Day) का रूप बदलता गया और इसे मां को सम्मानित करने के लिए मनाया जाने लगा। बच्चे अपनी मां को मदर्स डे पर प्यार और सम्मान के प्रतीक के रूप में फूल और अन्य उपहार भेंट करते है

माँ के लिए हर दिन मदर्स डे है ? When is Mother’s Day in 2021

माँ के लिए हर दिन मदर्स डे (Mother’s Day) है आज मैं एक बेटी भी हु और माँ भी इस मदर्स डे पर मै अपने जीवन के उन ख़ास दो लोगो को धन्यवाद देना चाहती हु जिन्होंने मेरे आज के दिन को (मदर्स डे )को बहुत खास बनाया है पहला धन्यवाद मेरी माँ का जो मुझे इस खूबसूरत दुनिया मै लायी और जीवन की हर मुश्किल राह पर मेरे साथ खड़ी रहती है.दूसरा धन्यवाद मेरी बेटी का जिसने मुझे माँ होना क्या होता है यह महसूस कराया

आप सभी पाठको को मदर्स डे (Mother’s Day) की बहुत बहुत शुभकामनाये अगर आपको हमारा यह पोस्ट पसंद आये तो कृपया कमेंट करके अवश्य बताये और आपका मदर्स डे कैसा रहा यह भी बताये आप सभी पाठको को हमारी और से हैप्पी मदर्स डे

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारी पर आधारित हैं. sangeetaspen.com इनकी पुष्टि नहीं करता है।इन पर अमल करने से पहले संबधित विशेषज्ञ से संपर्क करें

Leave a Reply