Payal Ghosh Accuses Anurag Kashyap Of Sexual Harassment

न्यूज़

पायल घोष ने कहा, “मैं अनुराग से बात करने के अगले दिन उनसे मिलने गई। वह शराब पी रहा था। मिलने के बाद वह मुझे दूसरे कमरे में ले गया। वहाँ उसने अपनी ज़िप खोली और मेरी सलवार कमीज खोलकर मेरी योनि (vagina) के अंदर अपने c**k (penis) को जबरदस्ती डालने की कोशिश की।

Advertisement

उन्होंने मुझसे इस तरह बात की जैसे फिल्म इंडस्ट्री में शारीरिक संबंध बनाना गलत नहीं था। उन्होंने कहा कि हुमा कुरैशी, ऋचा चड्डा और मही गिल जैसी अभिनेत्रियाँ हमेशा उनसे फोन पर संपर्क में रहती हैं।” आगे अनुराग कश्यप, पायल घोष से कहता है, “जब भी मैं उन्हें बुलाता हूँ, वह दौड़कर आती है ।”

पायल घोष ने कहा कि वह पूरी बात से असहज थीं और यह कहकर भागने में सफल रहीं कि वह वापस आ जाएँगी और फिर उसके साथ अच्छा वक्त बिताएँगी, लेकिन फिलहाल वह उससे दूर जाना चाहती हैं। पायल घोष ने कहा कि जो कुछ भी हुआ, उस पर जब तक उन्होंने काबू नहीं पा लिया, अनुराग कश्यप ने उन्हें स्पष्ट रूप से हमेशा यही बताने की कोशिश की कि शारीरिक संबंध बनाना बहुत ही सामान्य बात है।

आगे पायल घोष ने कहा, “अगले दिन उसने मुझे फिर से बुलाया। उन्होंने कहा कि वह मुझसे कुछ चर्चा करना चाहते हैं। मैं उसके यहाँ गई। वह व्हिस्की या स्कॉच पी रहा था। बहुत बदबू आ रही थी। हो सकता है कि वह चरस, गाँजा या ड्रग्स हो, मुझे इसके बारे में कुछ भी पता नहीं है लेकिन मैं बेवकूफ नही हूँ।” इसके बाद वो लोग दूसरे कमरे में गए, जहाँ पर कथित तौर पर यह घटना हुई।

में एक महिला होने के नाते पायल घोष का समर्थ करती हूँ। बहुत कम लोग पायल की तरह बहादुर होते है जो अपना करियर दाँव पर लगा के दुनिया के सामने आकर अपनी आवाज उठाने की ताकत रखते है।

यहां में तनुश्री दत्ता का उदाहरण देना चाहती हूँ जिन्होंने अपने साथ हुए दुर्व्यवहार के खिलाफ आवाज उठाई तो उनको फिल्म इंडस्ट्री से निकाल दिया गया आज तनुश्री गुमनामी की जिंदगी जी रही और जिन्होंने उनके साथ दुर्व्यवहार वो आज भी फिल्मो में काम कर रहे उनकी शोहरत कम नहीं हुई है।

तनुश्री ही वो महिला थी जिनके कारण बॉलीवुड का घिनोना चेहरा दुनिया के सामने आया उनके बाद कई महिलाओ ने हिम्मत की और उनके साथ हुए दुर्व्यवहार को लेकर खुल कर दुनिया के सामने बात की और देखते ही देखते इसने #metoo movement  का रूप ले लिया।

हम सब यह जानते है की पायल को भी निशाना बनाया जायेगा अपरधियों को बचाने में सभी लग जायेंगे इसकी शुरुवाद भी हो चुकी है। ये वो चेहरे है इनको पहचाने की जरूरत है। और जया बच्चन से भी पूछना चाहती हूँ की क्या ये भी थाली में छेद करना माना जायेगा ? 

payal ghosh #metoo

Leave a Reply