preparation of Gujiya | Method of preparation of Gujiya | गुजिया बनाने की विधि

न्यूज़, हेल्थ
preparation of Gujiya : गुजिया बनाने की विधि
preparation of Gujiya : गुजिया बनाने की विधि

होली का त्‍यौहार रंगों के त्यौहार के रूप में फेमस है साथ ही होली के पर्व को गुजिया का जायका और भी स्वादिष्ट और मजेदार बना देता है। बहुत सी महिलाये होली

Advertisement
के आने से पहले ही गुजिया बनना शुरू कर देती है ।

इसे भी पढ़े : 2021 में कब मनाई जाएगी होली, होलिका दहन का शुभ मुहूर्त तथा होलाष्टक क्या है और कब मनाया जाता है

जिससे उन्हें होली खेलने का पूरा मौका मिल सके मगर लाख कोशिशों के बाद भी बाजार जैसी क्रिस्‍पी और स्‍वादिष्‍ट गुजिया नहीं बना पाती हैं। तो आज के इस पोस्ट में आपको sangeetaspen.com के माध्यम से क्रिस्‍पी और स्‍वादिष्‍ट गुजिया बनाने की विधि साझा कर रही हु।

मावा गुजिया बनाने की विधि – Method of preparation of Mawa Gujiya

होली का त्योहार आये और गुजिया, (Gujihya) ना बने ऐसा कैसे हो सकता है गुजिया (Gujihya) के बिना होली का मतलब है बिना रंग के होली सामान्यतय गुजिया कभी भी बन सकती है परन्तु होली के त्यौहार पर गुजिया का होना होली की खूबसूरती को बड़ा देता है

गुजिया (Gujihya) कई प्रकार की बनायीं जाती है मेवा गुझिया, अंजीर गुजिया, सेब गुजिया, काजू गुजिया, केसर गुजिया, पिस्ता गुजिया, बादाम गुजिया, मावा इलायची गुजिया, मावा भरी गुजिया आदि बनायीं जातीं है. आपको जैसी गुजिया पसंद हो बना सकते है बस इसके अन्दर भरे जाने वाली कसार (भराव) को अपने मन मुताबिक तैयार करके रख लें. हम मावा गुजिया बनाने की विधि बता रहे है

गुजिया के लिए आवश्य्क सामग्री – Method of preparation of Gujiya

आटा लगाने के लिए/मेदा जो आपको उचित लगे
घी – आटा गूंथने के लिए और गुजिया तलने के लिए
मैदा – 2 कप (250 ग्राम)
3 कप घी – गुजिया तलने के लिए 1/4 कप नमक- चुटकीभर

स्टफिंग (गुजिया के अंदर भरने के लिए सामग्री) के लिए
स‌ूखा गोला – 2 टेबल स्पून ( कद्दूकस किया हुआ)
मावा – 100 ग्राम
चिरौंजी – 1 टेबल स्पून
काजू – 1 टेबल स्पून
किशमिश – 1 टेबल स्पून
चीनी पाउडर – 1/2 कप (80 ग्राम)
इलायची – 4 से 5 1/4 कप खजूर दालचीनी पाउडर- 1/4 चम्‍मच

गुजिया बनाने की विधि

सबसे पहले आटा/मैदा गूंथिए (आता थोड़ा सख्त ही रखे) मैदा में ¼ कप मोयन यानि कि घी डालकर अच्छे से मिक्स कर लीजिए. मैदे में थोड़ा-थोड़ा पानी डालते हुए आटे को गूंथ लीजिए. आता तैयार होने के बाद इसे 20 मिनिट के लिए ढककर रख दीजिए. इतनी मात्रा के मैदा को गुदने के लिए आधे कप से भी कम पानी लगता है.

preparation of Gujiya : गुजिया बनाने की विधि
preparation of Gujiya : गुजिया बनाने की विधि

कसार/ स्टफिंग तैयार कीजिए

पैन गरम कीजिए और इसमें मावा डालकर लगातार चलाते हुए हल्का ब्राउन होने तक भून लीजिए. इस दौरान आंच मध्यम रखिए. मावा भुन जाने के बाद, इसे किसी साफ़ बर्तन में निकल लीजिए और ठंडा होने दीजिए.

इसे भी पढ़े: कांजी वड़ा बनाने की विधि

इसके बाद, मावा में पिसी हुई चीनी, नारियल, किशमिश और काजू डालकर मिला दीजिए. साथ ही चिरौंजी और इलाइची भी डालकर अच्छेे से मिक्स कर दीजिए. सारी चीजों के मिक्स होने के साथ ही गुजिया में भरने के लिए कसार तैयार है.

गुजिया बनाइए

आटे को मसलकर ठीक कर लीजिए. फिर, इससे 20 से 25 छोटी-छोटी लोइयां तोड़ लीजिए. प्रत्येक लोई गोल करके पेड़े जैसा बनाकर रख लीजिए.

एक लोई उठाकर चकले पर रखिए और इसे 4 से 4.5 इंच व्यास की पतली पूरी बेल लीजिए. सांचे के ऊपर पूरी रखिए और 1 से 1.5 छोटी चम्मच फिलिंग डाल दीजिए.

पूरी के किनारे पर थोड़ा सा पानी लगाकर सांचे को बंद कीजिए और हल्का सा दबा दीजिए तथा कटिंग निकालकर रख दीजिए. ये कटिंग भी बाद में गुजिया बनाने के काम आ जाती है. सांचे को खोलिए और गुजिया को निकालकर थाली में रखिए और उसे कपड़े से ढक दीजिए ताकि ये सूखे ना. इसी तरह सारी गुजिया तैयार करके थाली में रखते जाइए.

गुजिया तलिए

कढ़ाही में गुजिया तलने के लिए पर्याप्त मात्रा में घी डालकर गरम कर लीजिए. गरम घी में एक-एक करके जितनी गुजिया कढ़ाही में आ जाएं, उतनी गुजिया डाल दीजिए. गुजिया को मध्यम और धीमी आंच पर ब्राउन होने तक तल लीजिए. एक ओर तल जाने के बाद, गुजिया को दूसरी तरफ पलटकर भी तल लीजिए. अच्छे से तली हुई गुजिया को निकालकर प्लेट में रख लीजिए.

स्वादिष्ट मावा की गुजिया तैयार हैं. इन्हें आप किसी भी त्यौहार पर या जब भी आपका मन हो, तब बनाइए और गरमागरम गुजिया खाइए. इन्हें ठंडा होने के बाद एअर टाइट कन्टेनर में भरकर रख लीजिए और 15 दिनों तक चाव से खाते रहिए.

गुजिया बनाते समय ध्यान देने योग्य 4 बाते

  • गुजिया भरते समय सारे किनारों पर हल्का सा पानी लगाकर अच्छे से चिपका दें.
  • मैदा गूंथते समय मोयन ज्यादा न डालें. इससे गुझिया नरम होकर तलते समय फट जाती है
  • गुझिया को बहुत ही सावधानी से हल्के हाथों से हैन्डल कीजिए. उंगली लगने से भी गुजिया फट जाती हैं
  • गुजिया को फ्रिज में भूल से भी स्‍टोर न करें। ऐसा करने पर वह सील जाएंगी। इसके साथ ही इस बात का भी ध्‍यान रखें कि गुजिया को तलने के बाद थोड़ा ठंडा हो जाने दें और फिर किसी एयर टाइट बर्तन में स्‍टोर करें। गरम-गरम गुजिया को स्‍टोर करेंगी तो वह मुलायम पड़ जाएगी।

One thought on “preparation of Gujiya | Method of preparation of Gujiya | गुजिया बनाने की विधि

Leave a Reply