Rinku Sharma Murder Case:जिसकी गर्भवती पत्नी को 2 बार दिया खून, उसने रिंकू शर्मा को मारा चाकू

Top News
Rinku Sharma Murder Case
Rinku Sharma Murder Case

दिल्ली के मंगोलपुरी इलाके में हुई 25 वर्षीय युवक रिंकू शर्मा की हत्या के मामले ने तूल पकड़ लिया है। रिंकू के लिए इंसाफ की मांग करते हुए लोगों ने इसे #JusticeForRinkuSharma हैशटैग के साथ ट्विटर पर ट्रेंड करना शुरू कर दिय

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार रिंकू शर्मा ने जिन लोगों के लिए उम्मीद की किरण बन कर अपना खून दिया था, उन्हीं लोगों ने ही रिंकू शर्मा की बेरहमी से हत्या कर दी।

Advertisement

पुलिस ने इस मामले में अभी तक 4 लोगों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार किए गए आरोपितों की पहचान मोहम्मद दानिश (36), मोहम्मद इस्लाम (45), जाहिद (26) और मोहम्मद मेहताब (20) के रूप में हुई है। दानिश और इस्लाम टेलर का काम करते हैं, जाहिद एक कॉलेज छात्र है और मेहताब कक्षा 12वीं में पढ़ता है

इस हत्याकांड में शामिल मोहम्मद इस्लाम की पत्नी लगभग 1.5 साल पहले गर्भवती थी। दिल्ली के रोहिणी स्थित अस्पताल में उसका उपचार हो रहा था। उसकी पत्नी की हालत गंभीर थी और उसे खून की सख्त ज़रूरत थी इसके बाद रिंकू ने इस्लाम की पत्नी को एक नहीं बल्कि दो बार खून दिया था।

आरोपितों को रिंकू शर्मा की ओर से मदद का सिलसिला यहीं ख़त्म नहीं होता है। रिंकू शर्मा ने आरोपित मोहम्मद इस्लाम के भाई शुकरु को कोरोना होने पर अस्पताल में भर्ती कराने पर भी मदद की थी।

रिंकू ने इस बात की शायद ही कल्पना की होगी कि खून का एहसान कुछ इस तरह चुकाया जाएगा। मीडिया रिपोर्ट्स में बताया गया है कि रिंकू शर्मा नेक दिल इंसान थे। उनका किसी से कोई विवाद नहीं था।

दिल्ली के मंगोलपुरी इलाके में बजरंग दल कार्यकर्ता की हत्या (bajrang dal member rinku sharma murder delhi mangolpur) होने के बाद से तनाव है। कथित तौर पर 25-30 लोगों के समूह ने बुधवार (10 फरवरी 2021) को घर में घुसकर 26 वर्षीय रिंकू शर्मा पर हमला किया। पुलिस ने मामला दर्ज कर चार आरोपितों को गिरफ्तार कर लिया है।

Knife stabbed in the back of Bajrang Dal activist Rinku Sharma, 4 accused arrested
बताया जा रहा है कि रिंकू शर्मा भाजपा और वीएचपी से जुड़ा हुआ था और इन दिनों रिंकू शर्मा अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए चलाए जा रहे धन संग्रह अभियान में सक्रिय थे। बताया जाता है कि हमलावरों व मृतक के बीच पहले से विवाद था।

एक पुलिस अधिकारी ने कहा कि दानिश और रिंकू की अपने पड़ोस में बुधवार रात एक जन्मदिन की पार्टी में बहस हो गई थी, जिसके बाद लगभग 11 बजे रिंकू की हत्या कर दी गई। पार्टी में दानिश और रिंकू दोनों को आमंत्रित किया गया था। Read this : बजरंग दल कार्यकर्ता रिंकू शर्मा के पीठ में चाकू घोंप हत्या, 4 आरोपित गिरफ्तार

पार्टी के बाद जब रिंकू अपने दोस्त के साथ अपने घर के लिए निकल गया, तभी दानिश ने उन्हें रोक लिया। इसके बाद फिर से उनमें बहस हो गई और रिंकू ने दानिश को थप्पड़ मार दिया। दानिश, जो अपने तीन दोस्तों के साथ था, उसने रिंकू को पकड़ लिया और उसे चाकू मार दिया। रिंकू को बचाने की कोशिश के दौरान दोस्त को भी चोटें आईं। रिंकू के गिरने के बाद, चारों आरोपी वहां से भाग गए।

पुलिस ने हत्या के सांप्रदायिक ऐंगल पर बोलने से इनकार किया है, लेकिन मृतक के भाई का कहना है कि उसकी हत्या धार्मिक वजह से ही की गई है।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार शर्मा पश्चिम विहार स्थित एक अस्पताल में बतौर लैब टेक्नीशियन काम करते थे और उनका पूरा परिवार बजरंग दल से जुड़ा था। रिंकू के परिवार में मॉं राधा देवी, पिता अजय शर्मा और भाई अंकित एवं मनु हैं।

bajrang dal member rinku sharma murder delhi mangolpur

सोशल मीडिया पर घटना का एक वीडियो वायरल है। वीडियो में देख सकते हैं कि कैसे कुछ लोग रिंकू के घर में घुस कर जोर-जबरदस्ती कर रहे हैं। वीडियो में देख सकते हैं कि कैसे कुछ युवक गाली-गलौच करते हुए रिंकू के घर में लाठी लेकर घुसे और मारपीट की। महिला से सिलेंडर छीनने का प्रयास किया और फिर एकदम से लाठियाँ चलाने लगे।

Rinku Sharma Murder Case

सोशल मीडिया में रिंकू के पिता का रोते-बिलखते वीडियो भी आया है। वीडियो में वे बता रहे हैं कि किस बर्बरता से उनके बड़े बेटे को मारा गया। साथ ही उनके छोटे बेटे पर भी हमला हुआ। रिंकू के पिता कहते हैं कि अचानक गेट खोलने के लिए आवाज आई

और जैसे ही उनका छोटा बेटा गेट खोलने गया, सामने से 25-30 लोग आए। उन सबके हाथ में लाठियाँ थी। मेरे छोटे बच्चे को भी मारा। फिर वो घर में घुस गए। रिंकू किसी तरह बाहर भागा थोड़ी देर बाद वे गेट पर लाठी बजाकर गए कि मार दिया, जा बचा ले अपने बच्चे को। पीछे से एक महिला ने बताया कि रिंकू को चाकू मार दिया है।

रिंकू के पिता के अनुसार कि इससे पहले भी भगवान राम को लेकर विवाद हुआ था। वे लोग मोदी को गाली देते थे। हमने तब समझौता कर लिया था। लेकिन इस बार उनके हाथ में लाठियाँ थीं, चाकू थे, वे सिलेंडर खोल रहे थे।

बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने इस मामले में ट्वीट करते हुए लिखा है, ‘रिंकू शर्मा, जय श्री राम।’ उनके इस ट्वीट के बाद सियासी उबाल बढ़ गया है। यही नहीं फिल्म मेकर अशोक पंडित ने भी इस मुद्दे को उठाते हुए न्याय की मांग की है।

Leave a Reply