Sonu sood launched Pravasi Rojgar App for migrant workers

न्यूज़
Sonu sood launched Pravasi Rojgar App for migrant workers
Sonu sood launched Pravasi Rojgar App for migrant workers

अभिनेता सोनू सूद जिन्हे फिल्मों में एक खतरनाक विलेन का किरदार निभाते देखा वही सोनू सूद

Advertisement
ने असल जिंदगी में covid -19 के कारण हुए लॉकडाउन, के समय पलायन कर रहे हजारों प्रवासिय मजदूरों और छात्रों को मसीहा (भगवान्) बनकर सुरक्षित उनके घर पहुंचाया था।अभिनेता सोनू सूद को उनके इस नेक काम के लिए कई लोगों ने दुआएं दी

अभिनेता सोनू सूद ने अब प्रवासियों की बेरोजगारी दूर करने की जिम्मेदारी भी खुद के कंधो पर लेर ली है। सोनू सूद ने प्रवासी रोज़गार’ (Pravasi Rojgar)’.नामक एक मुफ्त ऑनलाइन प्‍लेटफार्म की शुरुआत की है जो प्रवासियों को नौकरी संबंधी आवश्‍यक जानकारी देगा और उन्‍हें रोजगार दिलवाने में मदद करेगा

अब सोनू सूद ने प्रवासियों की बेरोजगारी दूर करने के लिए लॉन्च किया ‘प्रवासी रोजगार (Pravasi Rojgar) ऐप

सोनू सूद ने ट्वीट कर लिखा, ‘अब है रोजगार की बारी’. लोगों को जॉब दिलाने कोशिश में उनसे एक रुपया भी चार्ज नहीं किया जाएगा.ये ऐप प्रवासियों को रोजगार संबंधी आवश्यक जानकारी और जॉब से संबंधित सही लिंक प्रदान करेगा.।

एप्लीकेशन अभी अंग्रेजी में है जल्द ही पांच अन्य भाषाओं में बनाई जायेगी ‘प्रवासी रोजगार (Pravasi Rojgar) ऐप

ये ऐप अभी अंग्रेजी में है और जल्द ही यह एप्लीकेशन पांच भाषाओं में बनाई जायेगी. यह उन मजदूरों के लिए कारगर साबित होगी, जो रोजगार के लिए अपने घर को छोड़कर दूसरे शहर में जाते हैं.

मुंबई मिरर की एक रिपोर्ट के अनुसार पिछले कुछ महीनों में उन्होंने इस पोर्टल के डिजाइन को लेकर काफी सोचा है और आखिरकार अब उनकी यह योजना बनकर तैयार है। इसके लिए उन्होंने कई शीर्ष संगठनों के साथ विचार-विमर्श किया है।

क्या काम करेगा प्रवासी रोजगार (Pravasi Rojgar) ऐप

यह पोर्टल प्रवासियों को नौकरी के लिंक और नौकरी दिलवाने में मदद करेगा। इस पोर्टल के जरिए कंस्ट्रक्शन, अपेरल, स्वास्थ्य सेवा, इंजीनियरिंग, BPO, सुरक्षा, ऑटोमोबाइल, ई-कॉमर्स और लॉजिस्टिक्स से जुड़ी 500 से ज्यादा प्रतिष्ठित कंपनियों में नौकरी के अवसर दिए जाएंगे।

इसके लिए सोनू सूद ने नई दिल्ली, मुंबई, बेंगलुरु, हैदराबाद, कोयम्बटूर, अहमदाबाद और तिरुवनंतपुरम में 24 घंटे काम करने वाली हेल्पलाइन व्यवस्था का भी प्रबंध किया है। इस पोर्टल से प्रवासिय रोजगार के साथ साथअंग्रेजी भाषा बोलना भी सीख पाएंगे।

सोनू सूद को प्रवासी रोजगार (Pravasi Rojgar) ऐप का विचार कब और कैसे आया ?
सोनू का कहना है कि उन्हें इस पोर्टल का निर्माण करने का विचार उस समय आया जब उन्होंने कई प्रवासियों को यह कहते हुए कि वह फिर से सही काम पर लौटने का इंतजार कर रहे हैं

One thought on “Sonu sood launched Pravasi Rojgar App for migrant workers

Leave a Reply