Solar Eclipse : Surya Grahan 2021:सूर्य ग्रहण में क्या करे और क्या ना करे

न्यूज़
Solar Eclipse : Surya Grahan 2021:
Solar Eclipse : Surya Grahan 2021:

Solar Eclipse : Surya Grahan 2021: सूर्य ग्रहण, नोट कर लें समय; बरतें सूर्य ग्रहण पर ये सावधानियां

Advertisement

Solar Eclipse 2021: ज्योतिष शास्त्र के मुताबिक सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse) का प्रभाव पूरे संसार पर होता है. हर किसी को इसके अच्छे-बुरे प्रभाव झेलने पड़ते हैं. इस साल का पहला सूर्य ग्रहण 10 जून यानी गुरुवार को है. इसी दिन शनि जयंती और ज्येष्ठ अमावस्या भी है.

साल 2021 का ये ये सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse) इसलिए भी खास है क्योंकि शनि जयंती पर ग्रहण का योग करीब 148 साल बाद बन रहा है. इससे पहले शनि जयंती पर सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse) 26 मई 1873 को हुआ था.

जानकारी के मुताबिक भारत में पूर्ण नहीं बल्कि आंशिक ग्रहण नजर आएगा. लेकिन ज्योतिषाचार्यों का मानना है कि भले ही ग्रहण आंशिक हो लेकिन इस दौरान सभी नियमों का पालन करना चाहिए.

सूर्य ग्रहण गुरुवार, 10 जून 2021 को दोपहर 1:42 बजे से शुरू होकर शाम 06:41 बजे समाप्त होगा. सूर्य ग्रहण कि कुल अवधी: 4 घंटे 59 मिनट

भारतीय समयानुसार कब कहां लगेगा सूर्यग्रहण

अरुणाचल प्रदेश के वन्यजीव अभयारण्य के पास से शाम 5 बजकर 52 तक देखा जाएगा वहीं, लद्दाख के उत्तरी हिस्से में शाम 6 बजकर 15 मिनट पर सूर्यास्त होगा. वहीं, 6 बजे यहां सूर्य ग्रहण देखा जा सकेगा. आपको बता दें कि भारतीय समयानुसार सुबह 11 बजकर 42 मिनट पर आंशिक सूर्य ग्रहण शुरू होगा.

जो दोपहर 3 बजकर 30 मिनट पर वलयाकार रूप से दिखेगा. वहीं, शाम 4 बजकर 52 मिनट पर सूर्य अग्नि वलय अर्थात आग की अंगूठी की तरह दिखाई देगा. इसके समाप्त होने का समय शाम 6 बजकर 41 मिनट है.आपको बता दें कि सूर्य ग्रहण की घटना का सीधा प्रसारण विश्व की कई संस्था व संगठन द्वारा लाइव दिखाया जाएगा.

कब लगता है सूर्य ग्रहण

यह खगोलीय घटना तब घटती है जब सूर्य, चंद्रमा व पृथ्वी एक सीधी रेखा में आ जाते हैं. हालांकि, लगने वाला पहला सूर्य ग्रहण वलयाकार ग्रहण होगा. जिस दौरान यह रिंग ऑफ फायर जैसा नजर आयेगा.

Solar Eclipse : Surya Grahan 2021:
Solar Eclipse : Surya Grahan 2021:

सूर्य ग्रहण में क्या न करें?

सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse) के दौरान भोजन करना वर्जित होता है. ग्रहण के दौरान नए काम की शुरुआत न करें. मांगलिक कार्य नहीं करने चाहिए. नाखून कांटना, कंघी करना वर्जित है. ग्रहण के समय सोना नहीं चाहिए. चाकू या धारदार चीजों का इस्तेमाल न करें.

सूर्य ग्रहण में क्या करें?

सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse) से पहले पके हुए भोजन में तुलसी पत्ता डालकर रख दें. ग्रहण के समय में इष्ट देव का पूजन करें. उनके मंत्रों का जप करें. ग्रहण के समय में घर के मंदिर के कपाट बंद कर दें. सूर्य ग्रहण (Solar Eclipse) में दान करना बेहद शुभ माना गया है. ग्रहण समाप्त होने के बाद घर की सफाई करें. घर में गंगाजल का छिड़काव करें. ग्रहण खत्म होने के बाद स्नान करें.

Leave a Reply