Ghaziabad : गाजियाबाद में बुजुर्ग की पिटाई का मामला तूल पकड़ रहा है

न्यूज़
Ghaziabad : गाजियाबाद में बुजुर्ग  की पिटाई का मामला तूल पकड़ रहा है
Ghaziabad : गाजियाबाद में बुजुर्ग की पिटाई का मामला तूल पकड़ रहा है
Advertisement

Ghaziabad : गाजियाबाद ( Ghaziabad) में एक बुजुर्ग की पिटाई का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है। BJP विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने राहुल गांधी, ओवैसी और स्वरा भास्कर के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते हुए रासुका लगाने की मांग की है

बीजेपी विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने राहुल गांधी (Rahul Gandhi), असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) और स्वरा भास्कर (Swara Bhaskar) पर लोनी इलाके में बुजुर्ग की पिटाई मामले में सामाजिक सौहार्द खराब करने के उद्देश्य से ट्वीट करने का आरोप लगाया है.

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद (Ghaziabad) ज‍िले के लोनी इलाके में बुजुर्ग की पिटाई का वीडियो वायरल होने के मामले में बीजेपी विधायक नंदकिशोर गुर्जर (BJP MLA Nand Kishor Gurjar) ने लोनी बॉर्डर थाने में तहरीर दी है. उन्होंने कांग्रेस नेता राहुल गांधी, एआईएमआईएम प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी और बॉलीवुड अभिनेत्री स्वरा भास्कर के खिलाफ शिकायत की है.जिसमें सामाजिक सौहार्द खराब करने के उद्देश्य से ट्वीट करने का आरोप लगाया है।

रासुका के तहत कार्रवाई की मांग
बीजेपी विधायक नंदकिशोर गुर्जर ने राहुल गांधी (Rahul Gandhi), असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) और स्वरा भास्कर (Swara Bhaskar) पर लोनी में बुजुर्ग की पिटाई मामले में सामाजिक सौहार्द खराब करने के उद्देश्य से ट्वीट करने का आरोप लगाते हुए तीनों के खिलाफ रासुका (NSA)राष्ट्रीय सुरक्षा कानून के तहत कार्रवाई किए जाने की मांग की है.

क्या है पूरा मामला ?

दरअसल, सोशल मीडिया (Social Media) पर एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें एक मुस्लिम बुजुर्ग को कुछ युवक पीटते नजर आ रहे हैं. यह घटना 5 जून 2021 की है. इस वीडियो को लेकर यह दावा किया जा रहा है कि मुस्लिम होने के कारण बुजुर्ग को पीटा जा रहा है, लेकिन पुलिस ने जांच के बाद यह पाया कि यह दो परिवारों की आपसी रंजिश का मामला है. इस वीडियो को सोशल मीडिया पर वायरल कर इसे सांप्रदायिक रंग देने का प्रयास किया गया.

पुलिस जांच के बाद हो सकती है कार्रवाई
बीजेपी विधायक नंदकिशोर गुर्जर की शिकायत पर एसपी देहात डॉ. ईराज राजा ने बताया कि बुजुर्ग की पिटाई के वीडियो वायरल होने के मामले में बीजेपी विधायक ने तहरीर दी है और राहुल गांधी, असदुद्दीन ओवैसी और स्वरा भास्कर के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर रासुका लगाने की मांग की है. फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है और इसके बाद कार्रवाई की जा सकती है.

सपा नेता के खिलाफ एफआईआर दर्ज
गाजियाबाद (Ghaziabad) में बुजुर्ग की दाढ़ी काटने और पिटाई के मामले में लोनी क्षेत्र के सपा नेता उम्मेद पहलवान (SP Leader Ummed Pahalwan) के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई है. बताया जा रहा है कि उम्मेद पहलवान ने ही माहौल बिगाड़ने की साजिश रची थी. एसपी देहात डॉ. ईराज राजा ने बताया कि वीडियो के वायरल होने के मामले में उम्मेद पहलवान नाम के स्थानीय नेता पर भी मुकदमा दर्ज क‍िया गया है.

मामले को हिंदू-मुस्लिम रंग देने की कोशिश
भाजपा व‍िधायक ने कहा क‍ि इससे पता चलता है कि इस मामले को हिंदू-मुस्लिम रंग देने की कोशिश की गई, जो कि पूर्व सुनियोजित षड्यंत्र और किसी अंतरराष्ट्रीय साजिश का हिस्सा है. यह लोनी समेत प्रदेश और देश में सांप्रदायिक दंगे करवा कर राज्य और केंद्र सरकार को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बदनाम करने की कोशिश है.
सीएम योगी ने राहुल गांधी को दी थी नसीहत

सीएम योगी आदित्यनाथ ने राहुल गांधी को नसीहत दी
इससे पहले यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने राहुल गांधी को नसीहत देते हुए ट्वीट किया था, ‘प्रभु श्री राम की पहली सीख है- “सत्य बोलना” जो आपने कभी जीवन में किया नहीं.

शर्म आनी चाहिए कि पुलिस द्वारा सच्चाई बताने के बाद भी आप समाज में जहर फैलाने में लगे हैं. सत्ता के लालच में मानवता को शर्मसार कर रहे हैं. उत्तर प्रदेश की जनता को अपमानित करना, उन्हें बदनाम करना छोड़ दें.’


ट्विटर समेत 9 पर यूपी पुलिस ने दर्ज किया केस
इससे पहले गाजियाबाद (Ghaziabad) स्थित लोनी में मुस्लिम बुजुर्ग की पिटाई मामले को सांप्रदायिक रंग देने के आरोप में पुलिस ने बुधवार को ट्विटर (Twitter) और अन्य 8 लोगों के खिलाफ एफआईआर (FIR against Twitter) दर्ज किया था.

इन सभी पर धार्मिक भावना को भड़काने का आरोप लगाया गया है . पुलिस ने खुलासा किया है कि यह विवाद बुजुर्ग द्वारा दिए गए ताबीज के काम न करने के कारण हुआ.

जबकि बुजुर्ग के साथ मारपीट करने वालों में हिंदू और मुस्लिम युवक शामिल थे. हालांकि बुजुर्ग अब्दुल समद सैफी ने कहा कि मारपीट करने वालों ने ‘जय श्रीराम’ के नारे लगवाए और जब पानी मांगा तो मुझसे पेशाब पीने को कहा था.मुझे मारने के लिए दो बार फायर किया गया था, लेकिन वो मिस हो गया. जबकि ताबीज की बात झूठी है. यही नहीं, पीड़ित ने बदमाशों द्वारा दाढ़ी काटे जाने का आरोप भी लगाया था.

news by : zeenews

Leave a Reply