Tokyo Olympics: गोल्ड में बदल सकता है मीराबाई चानू का सिल्वर मेडल

Sports News
Tokyo Olympics: वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने रचा इतिहास
Tokyo Olympics: गोल्ड में बदल सकता है मीराबाई चानू का सिल्वर मेडल
Advertisement

Tokyo Olympics: गोल्ड में बदल सकता है मीराबाई चानू (Mirabai Chanu) का सिल्वर मेडल

Tokyo Olympics : टोक्यो ओलंपिक्स (Tokyo Olympics) में भारत को सिल्वर मेडल दिलाने वाली मीराबाई चानू (Mirabai Chanu) के लिए बहुत बड़ी खबर है। दरअसल, 49 किलो वेटलिफ्टिंग में मीराबाई चानू दूसरे नंबर पर रही थीं और चीन की वेटलिफ्टर होउ झिहुई पहले नंबर पर । लेकिन अब होउ झिहुई का किसी भी समय डोपिंग टेस्ट किया जा सकता है।

इसे भी पढ़ें : Raksha Bandhan 2021: रक्षा बंधन कब है जानें शुभ मुहूर्त,महत्व , पूजा विधि

Tokyo Olympics : ओलिंपिक में करीब 5000 एथलीटों का रैंडम डोपिंग टेस्ट किया जा रहा है। यह एक रुटीन प्रोसेस है। कुछ एथलीट्स के A-सैंपल में संदेह पाया गया है, इसमें होउ झिहुई भी शामिल हैं। अगर वे डोपिंग टेस्ट में फेल होती हैं, तो मीराबाई भारत के लिए गोल्ड जीतने वाली पहली महिला एथलीट बन जाएंगी।


क्युकी नियमानुसार मीराबाई चानू (Mirabai Chanu) का रजत पदक अब स्‍वर्ण पदक में बदल सकता है।किसी भी प्रतियोगिता में पदक विजेता को डोपिंग टेस्ट में पॉजिटिव पाया जाता है तो उसका पदक छीन कर उससे पिछले पायदान पर रहने वाले प्रतियोगी को दे दिया जाता है. इस आधार पर होउ जीहुई को गोल्ड मेडल मीराबाई चानू को मिल जाएगा.

इसे भी पढ़ें : संस्कृत भाषा या संस्कृत दिवस 2021 का महत्व निबंध

Tokyo Olympics :ओलिंपिक्स के इतिहास में ऐसा पहले  हो चुका है जब डोपिंग में फेल होने पर खिलाड़ी का पदक छीन लिया गया और दूसरे नंबर पर मौजूद खिलाड़ी को दे दिया गया। मीराबाई चानू (Mirabai Chanu) आज ही अपने देश लौटने वाली हैं। चीनी एथलिट झिहुई होउ भी आज अपने देश लौटने वाली थीं,

लेकिन उन्हें रुकने को कहा गया है। अभी जीहुई को 3 डोप टेस्ट से गुजरना होगा और उन्हें साबित करना होगा कि वे डोप टेस्ट में पास हो जाएं.

इसे भी पढ़ें :Tokyo Olympics: वेटलिफ्टर मीराबाई चानू ने रचा इतिहास

Tokyo Olympics : हालाँकि सिल्वर मेडल मिलने के बाद ही मीराबाई चानू (Mirabai Chanu) ने कहा था कि उन्हें इस बात का गर्व है कि उन्होंने अपने देश के लिए मेडल जीता है। इसके लिए उन्होंने भारतीय खेल प्राधिकरण और केंद्र सरकार की टारगेट ओलंपिक पोडियम स्कीम का धन्यवाद दिया था।

मीराबाई चानू, कर्णम मल्लेश्वरी के बाद भारत की ओर से ओलंपिक में वेटलिफ्टिंग इवेंट में मेडल जीतने वाली दूसरी महिला हैं।

इसे भी पढ़ें :Tokyo Olympics : मैरी कॉम ने पहले राउंड में धमाकेदार जीत के साथ प्री-क्वार्टर फाइनल में बनाई जगह

Leave a Reply