Deep Sidhu arrested by special cell Delhi police

Top News

लाल किला हिंसा के मुख्य आरोपी दीप सिद्धू को स्पेशल सेल ने गिरफ्तार कर लिया है। बताया जा रहा है कि सोमवार देर रात से सिद्धू को चंडीगढ़ और अंबाला के बीज जीरकपुर इलाके से गिरफ्तार किया गया है। 

दीप सिद्धू लाल किला हिंसा के बाद से फरार चल रहा था. इसी के चलते दिल्ली पुलिस ने उस पर एक लाख रुपए का इनाम भी रखा गया था। 

स्पेशल सेल के सूत्रों के मुताबिक आज दीप सिद्धू करनाल के पास गोल्डन हट ढाबे के पास एक ट्रैक्टर से उतरा था और यहीं पर वो एक SUV गाड़ी के इंतजार में खड़ा था जब स्पेशल सेल ने इसे पकड़ा। इसी SUV से पूर्णिया भागने की फिराक में था।

Advertisement

वह लगातार पुलिस से बचने के लिए अपनी लोकेशन बदल रहा था। आखिरकार उसको दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया और दीप सिद्धू को तीस हजारी कोर्ट में पेश किया गया, जहां पुलिस की ओर से 10 दिन की रिमांड मांगी गई. हालांकि कोर्ट ने पुलिस को केवल 7 दिन की ही रिमांड दी है।

दीप सिद्धू का एक वीडियो किसान आंदोलन के दौरान वायरल हुआ था जिसमे वह पुलिस से इंग्लिश में बात करते हुए नजर आये थे। किसान आंदोलन को समर्थन कर रहे लोगो ने इस वीडियो को खूब शेयर किया था इसके बाद दीप सिद्धू प्रमुखता से किसान आन्दोलन के बीच चेहरा बनकर सामने आए और कुछ टीवी चैनलों ने उनके इंटरव्यू किये थे।

दीप सिद्धू ने बरखा दत्त के साथ एक साक्षात्कार में खालिस्तानी आतंकवादी जरनैल सिंह भिंडरावाले की निंदा करने से इनकार कर दिया था और जरनैल सिंह भिंडरावाले को एक मजबूत फेडरल स्ट्रक्चर के लिए संघर्ष करने वाला बताया था। 

दीप सिद्धू किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान गणतंत्र दिवस पर हिंसा भड़काने और लाल किले पर उत्त्पात मचाते नजर आये थे। 

26 जनवरी 2021 जो लाल किले पर जो भी हुआ उसका आंदोलनकारी किसानो के साथ-साथ सभी देश वासिये ने एक स्वर में विरोध किया, इस दुखद घटना के बाद किसानो ने भी दीप सिद्धू को  किसान आंदोलन से निकाल दिया। 

कई किसान नेताओ ने इस घटना से दुखी होकर इस आंदोलन से दुरी बना ली थी। उसी दिन के बाद से दीप सिद्धू पुलिस से बच रहा था। 

एक वीडियो जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है उसमे किसान दीप सिद्धू का विरोध कर रहे है और वह बचने के लिए भागते हुए देखा जा सकता है।

26 जनवरी 2021 के बाद किसान आंदोलन को समर्थ दे रही विपक्षी पार्टियों ने दीप सिद्धू को बीजेपी का समर्थक बताया था और बीजेपी नेताओ के साथ उसकी कुछ फोटो को शेयर किया गया था।

सनी देओल के साथ जुड़ा नाम 

दीप सिद्धू 2019 लोक सभा चुनाव में गुरदासपुर चुनाव प्रचार के दौरान भाजपा सांसद सनी देओल की ओर से नियुक्त टीम का हिस्सा थे।

दीप सिद्धू की भूमिका किसानों की ट्रैक्टर रैली के दौरान गणतंत्र दिवस पर हिंसा भड़काने और लाल किले पर तिरंगे का अपमान करने पर सनी देओल ने अपने सोशल मीडिया पर लिखा- “आज लाल किले पर जो हुआ, उसे देखकर मन बहुत दुखी हुआ है। 

सनी देओल को पहले ही दीप सिद्धू के खालिस्तान समर्थक होने का आभास हो चूका था। इसी लिए उन्होंने 6 दिसंबर, 2020 खुद को दीप सिद्धू से अलग कर लिया

सनी देओल ने अपने फेसबुक अकाउंट पर अपना 6 दिसंबर, 2020 का एक पोस्ट शेयर किया है, जिसमें उन्होंने स्पष्ट रूप से लिखा है कि उनका दीप सिद्धू से कोई संबंध नहीं है.

दीप सिद्धू ने अपने कुछ लाइव वीडियो में तथा कथित नेताओ को धमकी दी थी अगर वह मुँह खोलेगा को कई नेता बेनकाब हो जायँगे ।  जो अब होने वाले भी है कुछ तथा कथित किसान नेताओ पर गिरफ्तारी की तलवार लटक रही है जिसमे किसान नेता राकेश टिकैत का भी नाम शामिल है। 

कैपिटल टीवी के अनुसार दीप सिंधु अभी तक जो वीडियो शेयर कर रहा था उन वीडियो को वह रिकॉर्ड कर अपनी एक महिला मित्र को कैलिफ़ोर्निया अमेरिका भेज देता था वह वहां से इन वीडियो को फेसबुक पर लाइव करती थी वह कैलिफ़ोर्निया और कनाडा के अलग अलग स्थनो से इन वीडियो लाइव कर रही थी। जिसके कारण पुलिस दीप सिद्धू को पकड़ नहीं पा रही।

 

Leave a Reply