कलौंजी किसे कहते है,तथा इसके फायदे एवं नुकसान क्या क्या है

हेल्थ
कलौंजी किसे कहते है,तथा इसके फायदे एवं नुकसान क्या क्या है
कलौंजी किसे कहते है,तथा इसके फायदे एवं नुकसान क्या क्या है

कलौंजी (Black seeds or Nigella Seeds) एक छोटा सा बीज है। इसमें अनेको लवण, आयरन, सोडियम, कैल्शियम, पोटैशियम, फाइबर और खनिज लवण पाए जाते है।जिसके कारण यह स्वास्थ्य के लिए कई तरह से फायदेमंद साबित होता है। आयुर्वेद में कलौंजी (Black seeds) को संजीवनी बूटी भी कहा जाता है।

Advertisement

कलौंजी किसे कहते है ?(What is nigella seeds or Black seeds)

कलौंजी भारतीय घरों कि रसोई में प्रयोग होने वाला एक प्रकार का मसाला है। कलौंजी का प्रयोग पौराणिक समय से दवाओं दवाओं के रूप में किया जा रहा है। इंग्लिश में कलौंजी को ब्लैक सीड्स (Black seeds or Nigella Seeds) कहते हैं। 

इसका बोटैनिकल नाम ‘निजेला सेटाइवा’ (Nigella sativa) है, यह नाम इसे लैटिन शब्द नीजर (यानी काला) से प्राप्त हुआ है। इसका ताल्लुक Ranunculaceae परिवार से है। 

कलौंजी (Nigella seeds or Black seeds) मसालों का हिस्सा होने के साथ -साथ स्वास्थ्य के लिए बहुत ही गुणकारी होता है

इसका उपयोग हृदय रोग कोलेस्ट्रोल नियंत्रण, आंखों से सम्बन्धित परेशानी, पेट दर्द, अपच, गैस, वजन कम करने, जोड़ों में दर्द, तनाव मुक्ति आदि अनेको बीमारियों में दवा के रूप में होता है। साथ ही कलौंजी चेहरे कि झुर्रियों को भी कम करता है

कलौंजी (Nigella seeds) का उपयोग कैंसर से बचाव करता है

अनेक शोध में पाया गया है कि कलौंजी (Nigella seeds) में कुछ ऐसे कंपाउंड होते हैं जो कैंसर की रोकथाम में मदद करते हैं। हालांकि, अभी इस पर और शोध की जरूरत है।

कलौंजी लिवर (Nigella seeds) फिट रखने में सहायक

लिवर हमारे शरीर का एक बहुत महत्वपूर्ण अंग है।कलौंजी लिवर को इंजरी और डैमेज होने से सुरक्षा प्रदान करता है। ये शरीर से टॉक्सिंस को बाहर निकाल इंफेक्शन से सुरक्षित रखता है

कलौंजी (Nigella seeds) से वजन कम होता है

अनेक शोधो में यह साबित हो चुका है कि ब्लैक सीड बॉडी मास इंडेक्स को कम करता है। जर्नल ऑफ डायबिटीज एंड मेटाबोलिक डिसऑर्डर में छपे एक शोध के अनुसार कलौंजी का तेल मोटापे को कम करने में लाभदायक है

कलौंजी (Nigella seeds) कोन सी समस्या में कैसे ले

पेट दर्द, या गैस कि शिकायत होने पर कलौंजी को गर्म पानी में काला नमक डालकर काढ़ा बना लें। इसका सेवन करें इससे आपको पेट दर्द, और गैस से बहुत राहत मिलेगी ।

कलौंजी (Nigella seeds) वजन कम में सहायक

 वजन कम करने के लिए कलौंज (Nigella seeds) बहुत ही लाभकारी मानी जाती है। इसके लिए आपको ½ चम्‍मच कलौंजी के तेल में 1 चम्‍मच शहद मिला कर इसे हल्‍के गर्म पानी के साथ नियमित लेना है।

इस मिश्रण को दिन में तीन बार लें जब तक आपका वजन कम ना हो जाए। लगभग 1 से 3 महीने में आपका वजन कम होने लगता है।

जोड़ों के दर्द में कलौंजी तेल (Nigella seeds oil)से राहत

शरीर में कही भी जोड़ों में दर्द (Joint pens) रहता हो तो कलौंजी तेल को हल्का गर्म कर दर्द वाली जगह पर हल्के हाथ से धीरे-धीरे मालिश करे इससे दर्द में राहत होगी ।

नींद ना आने की समस्या से राहत

अगर आप तनाव या नीद ना आने से परेशान है तो कलौंजी के दानों को पानी में उबालकर पीने से तनाव से मुक्ति मिलती है साथ ही मन शांत रहेगा और नीद भी अछि आएगी।

कलौंजी तेल (Nigella seeds oil) से बालों को पोषण

काले, लम्बे, घने और चमकदार बाल हर महिला कि शान होते है। इसके लिए आप कलौंजी के तेल में ऑलिव ऑयल और मेंहदी पाउडर को मिलाकर हल्का गर्म करें और ठंडा होने पर इसे छान कर किसी कांच कि शीशी में रख लें।

और इस तेल से सप्ताह में दो बार बालो कि मालिश करे जिससे बालों का झड़ना और गंजेपन की समस्या भी खत्म हो जाती है।

कलौंजी (Nigella seeds) से लकवा रोग ठीक किया जा सकता है

लकवा रोग (Paralysis) में कलौंजी का तेल एक चौथाई चम्मच, एक कप दूध के साथ कुछ महीने तक प्रतिदिन पीने से तथा रोगग्रस्त अंगों पर कलौंजी के तेल कि मालिश करने से लकवा रोग ठीक होता है।

कलौंजी के अन्य फायदे (Nigella seeds or Black seeds)

  • कलौंजी (Nigella seeds) में ऐसे तत्व पाए जाते हैं जिससे चेहरे पर झुर्रियों की समस्या खत्म होती है।और आप जवा दिखते है 
  • कलौंजी में कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन और पोषक तत्व होते हैं जिससे खांसी, दमा की समस्या में आराम मिलता है।
  • कलौंजी को मिक्सी में ग्राइंड करके आधा चम्मच दूध या पानी में उबालें और ठंडा होने पर छानकर नियमित सेवन करें ।
  • आप कलौंजी को ब्रैड, पनीर, पेस्ट्री या पापड़ पर छिड़क कर भी खा किया जा सकता है।
  • कलौंजी (Nigella seeds) सूजन को करे दूर

किन परीस्थितियों में कलौंजी का उपयोग ना करे

  • कलौंजी (Nigella seeds) का उपयोग सीमित मात्रा में करना ठीक है। इसका अत्यधिक मात्रा में सेवन करना नुकसानदायक हो सकता है। कलौंजी पाउडर और कलौंजी के तेल को दवाई के रूप में कुछ समय तक लेना सुरक्षित है,
  • अगर आप प्रेग्नेंट हैं या ब्रेस्टफीडिंग कराती हैं तो डॉक्टर से कंसल्ट करे बिना डॉक्टर कि सलाह के इसका सेवन न करें
  • अगर आप किसी दवाई का सेवन कर रहे हैं। या आपको कोई दूसरी तरह की बीमारी, डिसऑर्डर या मेडिकल कंडीशन है।
  • अगर आपको दूसरी दवाओं या फिर हर्ब्स से एलर्जी है। जैसे किसी खास तरह के खाने से, प्रिजर्वेटिव या फिर जानवर से

  • जिन लोगों का ब्लड प्रेशर लो होता है वो इसका सेवन न करें। इससे उनका ब्लड प्रेशर अत्यधिक लो होने की संभावना है।

कलौंजी (Nigella seeds) कितना सुरक्षित है इस इस पर अभी भी रिसर्च की जरूरत है। कलौंजी  को इस्तेमाल करने से पहले इसके खतरे और फायदे को अच्छी तरह से समझ लें।

हो सके तो हमारे द्वारा बतायी गयी जानकारी का उपयोग करने से पहले आप अपने डॉक्टर या हर्बलिस्ट से अवश्य परामर्श कर ले

आपको कलौंजी (Nigella seeds) के फायदे एवं नुकसान कि यह पोस्ट कैसी लगी कमेंट करके अवश्य बताये

Leave a Reply