Boycott Tanishq :आखिर सोशल मीडिया पर क्यों ट्रेंड कर रहा है

न्यूज़
Boycott Tanishq
Boycott Tanishq

आज सोशल मिडिया पर BoycottTanishq छाया हुआ है जिसकी वजह है, शुक्रवार (अक्टूबर 9, 2020) को ‘तनिष्क ज्वेलरी’ (Tanishq

) का प्रचार के लिए बनाया गया एक नया वीडियो

जिसमें एक हिन्दू गर्भवती महिला की मुस्लिम परिवार में गोदभराई की रस्म दिखाई गई है। इस वीडियो में दिखाया गया है कि गहनों से लदी हुई एक महिला गोदभराई की रस्म के लिए तैयार हो रही है।सबसे ज्यादा जानने लायक बात ये है कि ‘तनिष्क ज्वेलरी’ (Tanishq Jewelery) की इस वीडियो में जिस जोड़े को दिखाया गया है, वो अलग-अलग धर्म के पति-पत्नी (Interfaith couple) होते हैं।

अनेको लव जिहाद’ की खबरों के बीच आए इस वीडियो में महिला को पारम्परिक साड़ी, बिंदी और गहने पहने हुए दिखाया गया है। हालाँकि, उसके साथ परिवार में जो अन्य लोग हैं, वो मुस्लिम हैं।

उसके साथ जो बुजुर्ग महिला दिख रही है, उसने बिंदी भी नहीं लगाई है। परिवार के लोग गहनों से लदी हिन्दू महिला को सरप्राइज (Surprise) के लिए बगीचे में लेकर जा रहे होते हैं। बैकग्राउंड में दीपमालाएँ हैं और नटराज (Natraj) की प्रतिमा भी है। मुस्लिम परिवार को एकदम ‘सहिष्णु’ दिखाने का प्रयास किया गया है।

साथ ही मुस्लिम परिवार का बुजुर्ग भी साज-सजावट में व्यस्त रहता है। बैकग्राउंड में एक महिला कहती है, “रिश्ते हैं कुछ नए-नए, धागे हैं कुछ कच्चे-पक्के। अपने बल से इन्हें सहलाएँगे, प्यार पिरोते जाएँगे। एक से दूजा सिरा जोड़ देंगे, एक बँधन बनते जाएँगे।”

इस वीडियो में भरा-पूरा मुस्लिम परिवार दिखता है, जहाँ बुजुर्गों से लेकर बच्चों तक गर्भवती महिला को सरप्राइज देने के लिए बगीचे में इन्तजार कर रहे हैं।


अंत में वो महिला अपनी सास से पूछती है, “ये रस्म तो आपके घर में होती भी नहीं है न?” इस पर उसकी सास उसे जवाब देती है, “पर बिटिया को खुश रखने की रस्म तो हर घर में होती है न?“इसके बाद ‘एक जो हुए हम, तो क्या ना कर जाएँगे।‘ के साथ इस वीडियो में ‘एकता’ (Unity) की बात की गई है।

हालाँकि, ध्यान देने वाली बात है कि इसमें दिखाया गया है कि एक हिन्दू महिला की मुस्लिम परिवार में शादी हुई है, जहाँ लोग उसे खासा प्यार कर रहे हैं।


सबसे बड़ी विडम्बना देखिए कि ये वीडियो तब आया है, जब 19 साल के राहुल राजपूत को दिल्ली के आदर्श नगर में उसकी लड़की दोस्त के भाइयो (मुहम्मद और अफरोज) ने धोके से बुला कर मार दिया। राहुल राजपूत को मारने की वजह राहुल और लड़की आपस में प्यार करते थे।

लड़की ने बताया की वह अपने भाइयो (मुहम्मद और अफरोज) से कहती रही कि राहुल की तबियत खराब है, उसे मत मारो  लेकिन वो उसे पीटते रहे।

हालाँकि, इससे पहले भी प्रचार वीडियो में इस प्रकार की चीजें को दिखाया गया है फिर चाहे वह शबाना आजमी की आवाज़ में बना ‘सर्फ एक्सेल’ के

‘रंग लाए संग’ इस टैग लाइन वाला हिन्दू-मुस्लिम ( इस वीडियो में हिन्दू बच्ची अपने साइकिल के पीछे एक मुस्लिम बच्चे को बैठाकर मस्जिद छोड़ने जाती है।)सेंटीमेंट का विज्ञापन ही क्यों ना हो

ठीक इसी प्रकार रेड लेबल चाय (Red label tea) के द्वारा बनाये गए अधिकतर ऐड हिन्दू-मुस्लिम सेंटीमेंट उछालने की कोशिश करते रहे है। और वही काम आज तनिष्क ज्वेलरी (Tanishq Jewelery) के ऐड में किया गया है

Leave a Reply