sakhsi malik what happend | Sakshi Malik Latest News | Wrestler Sakshi Malik biography in hindi

Top News
sakhsi malik what happend
sakhsi malik what happend

sakhsi malik what happend | Sakshi Malik Latest News | Wrestler Sakshi Malik biography in hindi | Sakshi Malik Retirement , कौन है साक्षी मलिक? sakshi malik latest news, quits, age, medal, olympic, sakhsi malik what happend, vivad साक्षी मलिक कौन है, न्यूज, ताजा ख़बर, Wrestler Sakshi Malik, biography in hindi

sakhsi malik : साक्षी मलिक, जो भारत की पहली महिला पहलवान थी जिन्होंने 2016 रियो ओलंपिक में पदक जीता, sakhsi malik ने दिल्ली में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में रोते-रोते अपना कुश्ती से अलग होने का निर्णय किया। उनका निर्णय संजय सिंह ‘बबलू’ के चुनाव जीतने के बाद आया। इसी समय, भारतीय कुश्ती संघ (WFI) को नया अध्यक्ष भी मिला, जिन्होंने संजय सिंह ‘बबलू’ को चुना है, जो कॉमनवेल्थ गेम्स-2010 की गोल्ड मेडलिस्ट रेसलर अनीता श्योरण को हराया था।

साक्षी मलिक (sakhsi malik) ने बताया कि वह अगर WFI के नए अध्यक्ष के साथ नहीं रह सकतीं, तो वह कुश्ती छोड़ेंगी। इसके साथ ही, साक्षी ने यह भी कहा कि वे और उनकी साथी रेसलर्स ने अपनी समस्याओं को गृह मंत्री और खेल मंत्री से मिलकर रखी और न्याय की तलाश में हैं। इसमें उनकी साथी रेसलर विनेश फोगाट भी थीं, जो ने कहा कि उन्होंने सरकार से अपनी समस्याओं को उठाने के लिए प्रयास किया है,

लेकिन न्याय मिलने में समय लगता है। इस निर्णय के साथ, साक्षी मलिक और उनकी साथी रेसलर्स ने अपने कुश्ती करियर के लिए एक महत्वपूर्ण मोड़ पर कदम रखा है और वे आगे के जीवन में नए रास्तों की तलाश में हैं। उन्होंने दिखाया कि उन्हें न्याय चाहिए और उन्होंने अपनी बात सुनाने के लिए सरकार के प्रति अपनी प्रतिबद्धता को प्रमोट किया

sakshi malik
sakshi malik

कौन है साक्षी मलिक? sakshi malik latest news, quits, age, medal, olympic, sakhsi malik what happend, vivad साक्षी मलिक कौन है, न्यूज, ताजा ख़बर, Wrestler Sakshi Malik, biography in hindi,

साक्षी मलिक (sakhsi malik) जो 2016 रियो ओलंपिक में भारत की पहली महिला पहलवान थीं जिन्होंने पदक जीता, वह एक प्रमुख खिलाड़ी हैं। हालांकि, ओलंपिक में पदक जीतने वाली खिलाड़ी कर्णम मल्लेश्वरी भी थीं, जो 2000 में भारोत्तोलन में कांस्य पदक जीती थीं।

साक्षी मलिक का नाम राष्ट्रमंडल खेलों में भी उच्च दर्जा है, जहां उन्होंने 2014 ग्लास्गो राष्ट्रमंडल खेलों में रजत पदक जीता था। इसके बाद, उन्होंने 2018 के गोल्ड कोस्ट राष्ट्रमंडल खेलों में कांस्य पदक जीता और 2022 में बर्मिंघम में स्वर्ण पदक जीतकर अपना नाम रोशन किया।

sakhsi malik हरियाणा की बहन हैं, और वह कुश्ती में अपना प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए मोखरा गांव से हैं। उनके परिवार में पहलवान का गौरव है, और उन्होंने बचपन से ही कुश्ती में करियर बनाने का संकल्प बनाया था।

12 साल की आयु में प्रशिक्षण शुरू किया था, और साक्षी ने तब से ही अपने खेल को सुधारने में संकल्प बनाया। उन्होंने अपनी प्रशिक्षण अवधि के पहले ही साल में 2009 में एशियाई जूनियर विश्व चैंपियनशिप में फ्रीस्टाइल कुश्ती के 59 किलो भार वर्ग में रजत पदक जीता। उन्होंने फिर 2010 में विश्व चैंपियनशिप में कांस्य पदक और 2013 कॉमनवेल्थ चैंपियनशिप में भी कांस्य पदक जीता। इसके बाद, उन्होंने राष्ट्रमंडल खेलों और ओलंपिक में भारत का मान बढ़ाया।

Leave a Reply