Side Effects of Eating jaggery | Gur Khane ke Nuksaan | know the side effects of jaggery or gur | गुड़ खाने के साइड इफेक्ट्स

हेल्थ
Side Effects of Eating jaggery
Side Effects of Eating jaggery

Side Effects of Eating jaggery | Gur Khane ke Nuksaan | know the side effects of jaggery or gur | गुड़ खाने के साइड इफेक्ट्स

jaggery : गुड़ (jaggery)का नाम सुनते ही जैसे मुंह में मिठास घुल जाती है। गुड़ ना केवल खाने में बेहद स्वादिष्ट है, बल्कि यह बहुत से गुणों और पोषक तत्वों का खजाना भी है। यही कारण भी है कि आज के समय में लोग चीनी की बजाय गुड़ (jaggery)का सेवन करने लगे हैं।गुड़ कई हेल्थ बेनिफिट्स के लिए जाना जाता है। गुड़ का उपयोग बहुत सी आयुर्वेदिक दवा बनाने के लिए भी किया जाता है।

Advertisement

यह भी पढ़े :  Benefits Of Jaggery : सर्दियों के मौसम में खाने में शामिल करें गुड़, होंगे अनेक फायदे

क्युकी गुड़ के अंदर औषधीय गुण भी होते हैं।यह खून को साफ करने में मदद करता है। इसी के साथ ये मेटाबॉलिज्म में सुधार करता है, पाचन में सुधार करता है। इसमें आयरन, कैल्शियम, पोटेशियम, मिनरल्स और अन्य पोषक तत्वों का भी एक अच्छा सोर्स होता है। कई सालों से इसका (jaggery)इस्तेमाल नैचुरल स्वीटनर के तौर पर किया जाता है।

लेकिन कहा जाता है ना कि अति हर चीज की बुरी होती है। ऐसे में अगर आप जरूरत से ज्यादा गुड़ (jaggery)का सेवन करते हैं तो यह आपको कई स्वास्थ्य समस्याओं (Side Effects of Eating jaggery) में डाल सकता है। जिनके बारे में आपको जरूर पता होना चाहिए। यहां जाने गुड़ के कुछ साइड इफेक्ट्स

Side Effects of Eating jaggery | Gur Khane ke Nuksaan | know the side effects of jaggery or gur | गुड़ खाने के साइड इफेक्ट्स

पैरासाइट इंफेक्शन का बढ़ सकता है खतरा – अगर गुड़ (jaggery)ठीक से तैयार नहीं किया गया हो तो इसको खाने से आंतों में कीड़े या पैरासाइट्स होने की संभावना बढ़ जाती है। अधिकांश गुड़ अपेक्षाकृत अस्वच्छ तरीके से तैयार किया जाता है और रोगाणुओं की संभावना ज्यादा होती है।

बढ़ सकता है ब्लड शुगर लेवल – भले ही यह पौष्टिक होता है लेकिन इसमें चीनी होती है। यह अधिक रक्त शर्करा के स्तर को भी जन्म दे सकता है। और डायबिटीज पेशेंट को हाइपरग्लेसेमिया से बचने के लिए सावधान रहना चाहिए। गुड़, (jaggery)किसी भी शुगर वाली चीज की तरह, इसे खाते ही आपके ब्लड शुगर का स्तर बढ़ा सकता है। एक 10 ग्राम शक्कर में 9.7 ग्राम पूरी शक्कर होती है। ऐसे में हाई ब्लड शुगर वाले लोगों को स्पष्ट रहना चाहिए।

Side Effects of Eating jaggery
Side Effects of Eating jaggery

एलर्जी का खतरा ( Risk of Allergies) – अगर आपको गुड़ (jaggery)से एलर्जी है तो आपको नाक बहना या बंद हो जाना, रैशेज, सिरदर्द, थकान, बुखार, जी मिचलाना और उल्टी जैसे साइड इफेक्ट नजर आ सकते हैं। अगर आपको गुड़ खाने के बाद इन चीजों का एहसास होता है तो आपको इससे एलर्जी हो सकती है और ऐसे में आपको इसे खाने से बचना चाहिए।

वजन बढ़ना (Weight gain) – अगर आप वजन कंट्रोल कर रहे हैं तो आपको गुड़ की मात्रा पर नजर रखनी चाहिए, क्योंकि इससे वजन बढ़ सकता है। सिर्फ 10 ग्राम गुड़ में लगभग 40 कैलोरी होती हैं। खाने में मुख्य रूप से कार्ब्स और शक्कर होती है इसलिए सभी खाने में गुड़ (jaggery)को शामिल करने का मतलब है ज्यादा कैलोरी और ज्यादा वजन का बढ़ना।

यह भी पढ़े :  गन्ने से चीनी बनाने की पूरी जानकारी

सूजन की परेशानी से पीड़ित खाने से बचें (Swelling)- अध्ययनों के अनुसार, सुक्रोज सामग्री एंटी इंफ्लामेटरी, ओमेगा -3 फैटी एसिड के काम में इंटरफेयर करती है। शक्कर की मात्रा सूजन का कारण बन सकती है और चेहरे में फ्लूयड रिटेंशन हो सकता है। इसलिए, अगर आपके पास रुमेटीइड गठिया और सूजन की परेशानी है, तो आपको इसे (jaggery)खाने से बचना चाहिए या इसका ध्यान रखना चाहिए।

पेट में कीड़ा (Parasitic infection) – गुड़ बनाने का प्रोसेस गांवों में किया जाता है. ऐसे गुड़ मिट्टी के संपर्क में आता रहता है. जिस वजह से इसे खाने से पेट में कीड़ा होने की संभावना हो जाती है.इसके साथ ही अगर आपको अल्सरेटिव कोलाइटिस है तो आपको गुड़ खाने से बचना चाहिए क्योंकि यह आंत में अवांछित आंतों के रोगाणुओं को अनुमति देकर समस्या को और खराब कर सकता है।

नाक से खून बह सकता है (Nose Bleeding)- गर्मी के मौसम में गुड़ खाने (jaggery)से नाक से खून आने की समस्या हो सकती है। इस गर्म और उमस भरे मौसम में इसका सेवन करने से बचना सबसे अच्छा है। अगर आप करते भी हैं, तो सुनिश्चित करें कि आप इसे बहुत ज्यादा न खाएं।

अपच (Indignation)- गुड़ से भी कब्ज हो सकती है, हालांकि, ऐसा माना जाता है कि यह स्वास्थ्य समस्या तभी होती है जब कोई ताजा गुड़ खा रहा हो। इसके अधिक सेवन से दस्त भी हो सकते हैं।

यह भी पढ़े : sugarcane juice : जानिए मधुमेह के रोगी और मोटे लोग पी सकते हैं या नहीं गन्ने का जूस

Side Effects Of Jaggery . gur khane ke nuksan . गुड़ के कुछ अन्य नुकसान

  • ऐसे बहुत लोग हैं जो शुगर की बजाय गुड़ (jaggery)का सेवन करना पसंद करते हैं। लेकिन ध्यान रहे कि गुड़ी भी मीठा ही होती है। ऐसे में अगर आप गुड़ का अधिक सेवन करते हैं तो इसकी वजह से आपका ब्लड शुगर लेवल अधिक बढ़ सकता है।
  • आप शायद इस बात को ना जानते हों कि गुड़ की तासीर बेहद गर्म होती है। इसलिए गर्मियों के मौसम में इसका सेवन केवल तय मात्रा में ही करें। क्योंकि अगर आप गुड़ का सेवन अधिक मात्रा में करते हैं तो इसकी वजह से आपकी नाक से खून आने लगता है।
  • ध्यान रहे कि गुड़ के अंदर बहुत आसानी से रसायनों को मिला दिया जाता है जो आपकी सेहत को अधिक नुकसान पहुंचा सकता है। इसलिए अच्छी क्वालिटी का ही गुड़ खरीदें और इसका उचित मात्रा में ही सेवन करें।

यह भी पढ़े : Immunity Booster dates : खजूर से दूर करें

FAQ :

Q : गुड़ खाने का सही समय क्या है?

Ans : गुड़ खाने का सही समय सर्दियों के दौरान है

Q : क्या हम रोज गुड़ खा सकते हैं?

Ans : जी हां, सुबह के समय 1 टुकड़ा गुड़ हम रोज गुड़ खा सकते हैं

Q : एक दिन में कितना गुड़ का सेवन करना चाहिए?

Ans : एक द‍िन में 50 से 60 ग्राम गुड़ खा सकते हैं।

Q : सुबह खाली पेट गुड़ खाने से क्या होता है?

Ans : सुबह-सुबह खाली पेट गुड़ खाने से हमारे पाचन-तंत्र को मजबूती मिलती है।

Q : क्या गुड़ चीनी से अधिक पौष्टिक है?

Ans : जी हां, गुड़ में चीनी से ज्यादा मिनरल्स होते हैं, जिस वजह से इसे ज्यादा पौष्टिक माना जाता है

Q : क्या गुड़ चीनी से बेहतर है?

Ans : हां, गुड़ चीनी से बेहतर होता है

Q :क्या दूध में गुड़ डालकर पीना चाहिए?

Ans : दूध में मौजूद एंटासिड गुड़ के डाइजेस्टिव एजेंट के साथ मिलकर कब्ज, गैस और अपच की समस्या को दूर करते हैं। दूध में गुड़ मिलाकर पीने से एनीमिया की शिकायत भी दूर होती है। दरअसल गुड में हीमोग्लोबिन बढ़ाने के गुण पाए जाते हैं। रोजाना दूध में गुड़ मिलाकर पीने से शरीर में खून की कमी का खतरा कम होता है।

Q : गुड़ खाने का सबसे अच्छा समय कौन सा है?

Ans : गुड़ को रोजाना भोजन के बाद खाने की सलाह दी जाती है क्योंकि यह कब्ज को रोकता है और हमारे शरीर में पाचन एंजाइमों को सक्रिय करके पाचन में मदद करता है।

Q : गुड़ कब नहीं खाना चाहिए?

Ans : अगर आपको गुड़ खाने के बाद इन चीजों का एहसास होता है तो आपको इससे एलर्जी हो सकती है और ऐसे में आपको इसे खाने से बचना चाहिए।

Q : गुड़ का सेवन कैसे करें?

Ans : गुड़ के सेवन के लिए दूध या चाय में गुड़ का प्रयोग किया जा सकता है, और आप इसका काढ़ा भी बनाकर ले सकते हैं। 3 गुड़ को अदरक के साथ गर्म कर, इसे गुनगुना खाने से गले की खराश और जलन में राहत मिलती है। इससे आवाज भी काफी बेहतर हो जाती है। 4 जोड़ों में दर्द की समस्या होने पर गुड़ का अदरक के साथ प्रयोग काफी लाभदायक सिद्ध होता है।

Q : सुबह खाली पेट कितना गुड़ खाना चाहिए?

Ans :सुबह के समय 1 टुकड़ा गुड़ खाने से ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करने में मदद मिलती है।

Leave a Reply